Mahadev message ?️ वो तुम्हें मिलकर रहेगा ? shiv sandesh ?? universe message today - Kabrau Mogal Dham

Mahadev message ?️ वो तुम्हें मिलकर रहेगा ? shiv sandesh ?? universe message today

मेरे बच्चे महादेव जी कहते हैं मैं

तुम्हारी बेचैनिया समझ रहा

हूं आज का यह संदेश आपके लिए बहुत खास

है मेरे बच्चे इस संदेश को अधूरा मत

छोड़ना

वरना तुम्हारे जीवन से बहुत कुछ दूर चला

जाएगा

और तुम कुछ भी ठीक नहीं कर

पाओगे मैं जानता हूं अभी तुम्हारा जीवन

बहुत कठिन

[संगीत]

है परंतु तुम

प्रतिदिन अपने आप से लड़ रहे

हो मेरे बच्चे मैं जानता हूं कि तुम्हारी

आशा निराशा में बदल रही है

[संगीत]

क्योंकि तुम कुछ भी सुख प्राप्त नहीं कर

पा रहे

हो तुम अपने आप से लड़ते

लड़ते थक चुके

हो परेशानियों से कई बार तुम्हें अपनों ने

ही दर्द दिया

है जिसके कारण तुम्हारे अपने सम्मान को भी

ठेस पहुंची

है मेरे बच्चे तुम जिस भी से भी प्रेम

करते हो वह तुमसे शीघ्र ही रूठ जाता

है और तुम जो तुमसे भी प्रेम करता है वह

भी कुषण में रूठ जाता

है कई बार तुम्हारे मन में ऐसे विचार

उभरते हैं कि

आखिर कार मेरे साथ ही ऐसा क्यों होता है

क्यों मुझे धोखा मिलता

है आखिर क्यों खुशियां मुझसे दूर भागती है

कई प्रकार के

प्रश्न तुम्हारे चेहरे पर उभर कर आती है

तुम जिससे प्रेम करती हो तुम्हें उससे

बातें करके मन में सुकून मिलता था परंतु

आज कल व भी रूठी हुई है मेरे बच्चे तुम

प्रतिदिन यही कामना करते हो कि वह जल्द

मान

जाए तुम चिंता मत करो मेरे बच्चे वह पल

जल्द

आएगा जो तुम चाहते हो वह तुम्हें मिलकर

[संगीत]

रहेगा तुम्हारा समय जल्द आएगा क्योंकि

तुम्हारा समय अब बदल रहा है भूत काल में

भले ही तुम अच्छा ना हो पर आगे तुम्हारे

साथ अच्छा ही

होगा तुम्हारा भविष्य बहुत अच्छा है लोग

तुम्हारे पास

आएंगे और जिन जिन लोगों ने

तुम्हारा अपमान किया

[संगीत]

था

वे सभी

तुमसे क्षमा मांगेंगे सम्मान की दृष्टि से

तुम्हें देखेंगे क्योंकि तुम्हारा अब

व्यवहार भी बदल चुका

है तुम्हारे व्यवहार के कारण व शर्मिंदा

महसूस करेंगे और सोचेंगे कि मैं

इसे बहुत रुलाया था और अब

मैं इससे माफी मांगता हूं मेरे बच्चे

दुख और सुख मनुष्य को ही भोगने पड़ते

हैं तुम्हारे जीवन में अब

तक जो पीड़ा

थी अब तुम्हारे जीवन में खुशियां आ रही

है दुखों को अलविदा कहने

का वक्त गया है महादेव जी कहते हैं मैं

खुशियों के लिए तुम्हें तैयार कर रहा

हूं अब आप खुश हो

जाइए क्योंकि

खुशियां आपके द्वार आ रही

है जब मेहनत महादेव जी चाहते

हैं व याद रखें इस दुनिया में जिसका जो भी

इच्छाएं

हैं उनकी मेहरबानी से उनके मार्ग दर्शन से

सभी को सब प्राप्त होते

हैं बस ईश्वर पर विश्वास और थोड़ा धैर्य

बनाकर रखें कर्म अच्छे करते

रहे मेरे द्वारा कहे गए इस संदेश

को अनदेखा मत

करना यह तुम्हारे लिए अति आवश्यक है मैं

तुम्हारी बुद्धि कुशलता सभी की परीक्षा

लेने वाला

हूं मैं जानता हूं कि तुम बहुत ही

मेहनती और ईमानदार

हो परिस्थिति से लड़ने का

साहस रखते

हो क्योंकि तुम कभी भी किसी के ऊपर निर्भर

नहीं रहते

[संगीत]

हो परंतु जानता हूं मेरे बच्चे की

तुम्हारी समस्याएं क्या

[प्रशंसा]

है और मैं यह भी जानता हूं कि तुम सभी से

अटूट प्रेम करते हो परंतु कुछ लोग

हैं जो तुमसे थोड़ा नाराज

[संगीत]

हैं सब एक ना एक दिन समझ जाएंगे कि तुम

ऐसा क्यों कर रहे हो और तुम दुखी क्यों

हो तुम्हें यही लगता है कि तुम इतनी मेहनत

करने के बाद भी तुम सफलता हासिल नहीं कर

पा रहे

हो तुम जिस पर भी अपना प्यार लुटाते

हो वह सब तुमसे दूर क्यों हो जाता

है तुम इतनी जल्दी हार मत मानो मेरे

[संगीत]

बच्चे क्योंकि समय

तुम्हारी परीक्षा ले रहा

[संगीत]

है तुम्हारी साहस का तुम्हारी बुद्धि का

तुम्हारे धैर्य का जीवन से लड़ते हुए

तुम्हें जीतना

होगा तुम चिंता मत करो मैं तुम्हारे साथ

हूं तुम अपनी मेहनत पर विश्वास करो एक दिन

तुम्हें अपने आप पर गर्व होगा महसूस

होगा

और तुम अपनी मेहनत से

इतनी मुकाम हा पर पहुंच जाओगे

कि वह दिन तुम्हारे जीवन

में बहुत जल्द आरंभ होगा मेरे

बच्चे जब

तुम्हें तुम्हारी मेहनत का इनाम मिलेगा फल

मिलेगा और उस दिन तुम्हारे कर्म के फल

मिलेंगे और तुम उस दिन अपनी खुशियों को

महसूस करोगे और जी भरकर खुशियों को जी

लेना क्योंकि तुम मेरे भक्त सच्चे भक्त हो

और मैं तुम्हें वरदान देने से पीछे नहीं

रहूंगा जो भक्त अच्छे कर्म करते

हैं भले ही उन्हें असफलता

मिले पर अपनी आशा को निराशा में बदलने

से रोक लेते हैं वही एक दिन सफल इंसान

कहलाते

हैं जो तुम चाहते हो वह तुम्हें मिलकर

[संगीत]

रहेगा मेरे

बच्चे तुम्हें मेरा यह संदेश प्राप्त हुआ

है तो निश्चित ही तुम्हारा जीवन

में बहुत बड़ा परिवर्तन होने वाले

[संगीत]

हैं इसीलिए मेरे संदेश को ध्यान से

सुनना और समझ

[संगीत]

जाना क्योंकि अब वह शुभ

अवसर आ गया

है क्योंकि मैं तुम्हारे

लिए शुभ अवसर के द्वार खोल

दूगा और मैं तुम्हें अपने दर्शन देने आया

हूं और तुम्हें गले लगाने

भी आज जो कुछ भी मैं देख रहा हूं उससे

मुझे अति प्रसन्नता हो रही

[संगीत]

है क्योंकि तुमने इस बदलाव को ही स्वीकार

किया और उस पर आगे बढ़ा बदलाव

से है नहीं की बल्कि उसका भी तुमने अच्छा

उपयोग

किया इसलिए मैं

तुम्हें दुखियों दुखियो और परेशानी में

नहीं देख सकता हूं इसलिए मैं तुम्हें एक

उपाय बताता हूं कि

तुम रोज

सुबह मेरे शिवलिंग पर सच्चे मन से जल

अर्पित करना सारी इच्छाओं को मैं पूर्ण

करूंगा आज के

दिन क्योंकि मैं

तुमसे तहे दिल से प्रसन्न हूं और आज

तुम्हें मैं आशीर्वाद देने

आया तुम हमेशा जिसकी कामना करोगे मैं साथ

होगा खुश रहो मेरे बच्चे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *