2024 को उसके मिलन से तुम्हारी बहुत बड़ी जीत होगी - Kabrau Mogal Dham

2024 को उसके मिलन से तुम्हारी बहुत बड़ी जीत होगी

तुम्हें याद भी नहीं कि तुम कितनी ज्यादा बार यहां पर आए हो लेकिन हर बार तुम्हारा एक कार्य अधूरा ही रह

जाता है जो तुम्हें मेरे प्रिय वही तुम्हारा अंतिम लक्ष्य है और तुम्हारे लिए यह एक मौका है अपने उसे कार्य को पूर्ण

करने का के लिए तुम यहां आए हो इसलिए आज तुम्हें दिव्या संदेश भेजा गया है बीच में छोड़ने की भूल न करना मेरे प्रिय जब भी तुम किसी नई जगह जाते हो या कुछ पढ़ने का प्रयत्न करते हो तो कई बार तुम्हें ऐसा लगता है

कि यह सब कुछ पहले ही हो चुका है यह प्रमाणित करता है कि तुम यहां पहले भी कई बार आ चुकी हो भीतर दिव्य शक्ति की ऊर्जा विद्यमान है जिस प्रकार से तुम इस यात्रा में अकेले चले हो उसी प्रकार से तुम्हारी वह दिव्य

शक्ति भी अकेले हैं जिस प्रकार तुमने संघर्ष किया वैसे ही तुम्हारे उसे अर्ध शक्ति ने खुद को भी एकजुट करने का प्रयत्न किया अकेले ही संघर्ष किया लेकिन अब समय आ गया कोई खेल नहीं है यह तुम्हारी आत्मा की पुकार

है और यही तुम्हारे लिए महत्वपूर्ण उद्देश्य अंतिम लक्ष्य है इसके साथ ही सारे प्रयोजन जुड़े हुए हैं जैसे पक्षी एक पद से उड़ान नहीं भर सकता वैसे ही तुम अपनी अर्ध शक्ति की ऊर्जा को खून के बिना जीवन रूपी उड़ान को

भर नहीं सकते मेरे प्रिय क्या तुम तैयार हो जीवन रूपी उड़ान को बेहतर रूप से उड़ने के लिए यदि हां तो तुम संकल्प करो संकल्प करो कि तुम शक्ति के साथ मिलकर सकारात्मक ऊर्जा को ग्रहण करने को लगे हो अपने

अंतिम लक्ष्य को प्राप्त करने को उत्सुक हो मेरे प्रिय कभी विचार किया आखिर तुम्हारे जीवन में एक के बाद एक संघर्ष क्यों आते गए संसार में जितने भी बुद्ध पुरुष हुए जितने भी महान इंसान हुए तुम यदि उनके जीवन को गौर

से देखोगे तो पाओगे कि उनका जीवन कभी आसान नहीं रहा मेरे प्रिय बच्चे यदि तुम संघर्षों के तले दब जाओगे और स्वयं को संघर्षों से छोटा मन लगे तो फिर तुम्हें कोई भी जीत कैसे दिला पाएगा लेकिन जिस क्षण तुमने यह

ठान लिया कि चाहे कितने ही संघर्ष क्यों ना आए वह तुमसे मुझे नहीं हो सकते श्रद्धा तुम्हारी आस्था से मुझे नहीं हो सकते हैं छोटे हो जाते हैं और जब संघर्ष छोटे हो जाते हैं तो उन्हें हराना उन्हें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *