🕉️ मां काली 🕉️ तुम मेरे प्यारे बच्चे हो क्या तुम्हारे पास मेरे लिए थोड़ा सा समय नहीं है अनदेखा - Kabrau Mogal Dham

🕉️ मां काली 🕉️ तुम मेरे प्यारे बच्चे हो क्या तुम्हारे पास मेरे लिए थोड़ा सा समय नहीं है अनदेखा

मां काली जी आज आपसे चाहती है कि आप इसे
अंत तक सुने क्योंकि मां काली जी आपसे कह
रही है मेरे बच्चे अचानक से जो यह मेरा
संदेश तुम्हें प्राप्त हुआ है इसका सीधा

अर्थ यह है कि मैं तुम्हारे कष्टों को और
बर्दाश्त नहीं कर पा रही हूं जो कष्ट
तुम्हारे जीवन में है उसे दूर करना चाहती

हूं इसलिए आज मैं तुम्हें इस संदेश के
द्वारा यह त कराना चाहती हूं कि अगले आने
वाले 24 घंटे में मैं तुम्हारी समस्या को
समाप्त कर दूंगी और यह मैं तुम्हें आज

वादा करती हूं और एक वादा तुम्हें भी करना
होगा मेरे बच्चे मुझसे कि जो मैं आज
बताऊंगी उसे तुम पूर्ण रूप से सुनकर करोगे
क्योंकि कुछ करने से ही कुछ प्राप्त होता

है भगवान को मानते हैं तो लाइक करके दावा
करें मां काली जी कहती हैं मेरे बच्चे जिस
प्रकार यदि तुम्हें भूख लगती है तो खाना

खाने के लिए तुम्हें अपने हाथों को उठाकर
खाना अपने मुंह में डालना होता है तब तुम
जाकर अपना पेट भर पाते हो वैसे ही जीवन
में हर एक चीज को प्राप्त करने के लिए कुछ

कार्य बनाए गए हैं उसी प्रकार जीवन में
सभी समस्याओं को समाप्त करने के लिए कुछ
ऐसे कार्य बनाए गए हैं जिनको यदि तुम
पूर्ण रूप से समझ लेते हो तो जीवन में

तुम्हें पीछे मुड़ कर देखने की जरूरत नहीं
है मेरे बच्चे तुम्हारा जीवन इतना खुशहाल
होगा कि तुम्हारी आंखें भी चौका चौद हो
जाएगी यह देखकर जो तुमने सोचा भी नहीं

होगा वह सब तुम्हें प्राप्त होगा केवल तुम
इन पांच कार्य को करो बाकी सब कुछ मुझ पर
छोड़ दो इस पर दावा करने के लिए 888 टाइप
करें मां काली जी कहती है मेरे बच्चे जिसम

से पहला कार्य है कि तुम हर बुधवार की
संध्या काल में गणेश जी के समक्ष दीपक
जलाते हुए तुम उनकी आरती करते हुए उनका
स्मरण करो और उन्हें जो बन परे वह प्रसाद

चढ़ाकर उन्हें प्रसन्न करो दूसरा वही
विष्णु देव की आज्ञा का पालन करते हुए ऐसा
कोई कार्य मत करो जिससे कि वह तुम पर
क्रोधित ना हो कहने का तात्पर्य यह है कि

जब उनका और लक्ष्मी जी का दिन होता है उस
दिन तुम उन्हें जितना हो सके ना प्रसन्न
करने के लिए उनका नाम जपो हो सके तो उनको
प्रसाद चढ़ाओ श्रद्धा से प्रेम से भक्ति

से भाव से तुम उन्हें प्रसन्न करो और
तीसरा इस ब्रह्मांड में स्थित जो सूर्य
सभी को रोशनी देता है उनकी रोशनी तुम्हारे
जीवन पर भी पड़े और तुम्हारे जीवन में

अंधकार को दूर कर दे इसके लिए तुम्हें कल
सुबह सूर्य को जल अर्पित करना चाहिए
क्योंकि मेरे बच्चे जब सबको रोशनी देने
वाला सूर्य तुम्हारे जीवन में प्रकाश लेकर

आएगा तो तुम्हारे जीवन की समस्याओं को
समाप्त कर देंगे क्योंकि जो होता है वह इस
धरती पर ही होता है और सूर्य के प्रकाश की
रोशनी में या चंद्र की चांदनी में ही किया

जाता है इसलिए सूर्य प्रसन्न है तो चंद्र
भी तुमसे प्रसन्न है इस पर विश्वास हो तो
हां टाइप करें मां काली जी कहती हैं मेरे
बच्चे चौथा कार्य है शनिवार के दिन तुम

पीपल के वृक्ष के समीप शनि देव के नाम से
दीपक जलाओ ऐसा करने से शनिदेव के क्रोध का
सामना तुम्हें नहीं करना पड़ेगा और पांचवा
जीवन में जाने अनजाने में कभी गलती हो जाए

तो अगर तुम मेरे बताए हुए कार्य को करते
हो तुम मैं भी तुमसे प्रसन्न रहूंगी तो
तुम्हारे जीवन में कोई भी मुसीबत नहीं आने
वाली है और तुम्हारे जीवन में हर खुशहाली

मैं स्वयं लेकर आऊंगी अगर आप भगवान को
मानते हैं तो लाइक और चैनल को सब्सक्राइब
करें मां काली जी कहती हैं मेरे बच्चे जो
भी मेरा भक्त है उनकी रक्षा करने के लिए

मैं हर कार्य करूंगी अब और नहीं मेरे
बच्चे जितना तुम सहन कर सकते थे उतना
तुमने सहन किया लेकिन अब बहुत हुआ
कठिनाइयां झेलते हुए तुमने यह जो कर्म किए

हैं तुम्हारी इन कर्मों ने मुझे प्रसन्न
कर दिया है और तुमने मुझे अपने नी और
आकर्षित किया है अपने आप के परिश्रम से और
विश्वास से तुम यहां तक पहुंचे हो तुम सब

बच्चों से अलग हो मेरे बच्चे क्योंकि
तुमने औरों की तरह रोने में अपना समय और
किस्मत को खराब नहीं किया बल्कि तुमने
भाग्य को मेरी सहायता से और स्वयं के

कर्मों से बदलने की कोशिश की है और तुम
निश्चित ही अपने कर्मों के द्वारा अपनी
किस्मत को बदल पाए हो अपनी किस्मत चमकाने
के लिए तैयार है तो अपना नानाम टाइप करें

और मां काली को धन्यवाद दे मां काली जी
कहती हैं मेरे बच्चे तुमने मुझे विवश कर
दिया है कि मैं तुम्हारे भाग्य को सौभाग्य
में परिवर्तित करूं मेरे बच्चे जो लोग हार

मानकर बैठ जाते हैं और अपने जीवन में
निराश होकर गलत रास्ते को चुन लेते हैं
चोरी चकारी करते हैं और किसी के पराय धन
पर गलत निगाह डालते हैं अपने कर्मों को

सही नहीं करते और व किसी भी तरीके से धन
को अर्जित करने की कोशिश करने वाले
व्यक्ति असहाय व्यक्तियों को परेशान करते
हैं और अन्य गलत कार्य करते हैं उन सभी

बच्चों को तुमने गलत साबित कर दिया है
तुमने साबित कर दिया है कि भाग्य को बदला
भी जा सकता है बस कर्म करने की कमी होती
है इस पर दावा करने के लिए 444 टाइप करें

मां काली जी कहती है मेरे बच्चे इस संसार
में हर व्यक्ति का नियम है मुझे बुरे
दिनों में तो सभी याद करते हैं और अच्छे
दिनों में भूल जाते हैं मेरे बच्चे जो

अच्छे दिनों में मुझे याद करते हैं उनके
सामने कभी बुरे दिन नहीं आते उनका जीवन
हमेशा खुशहाल रहता है इसलिए मेरे बच्चे
तुम भी मुझे अच्छे दिनों में याद किया करो

और यह बातें मुझे बहुत ज्यादा प्रिय है
इसलिए यदि तुम ऐसी बातें को ध्यान रखते हो
तो तुम्हें जीवन के आगे के रास्तों में
कांटों का सामना नहीं करना पड़ेगा जीवन

में आ रही सभी परेशानियों कष्टों को मैं
हर लेती हूं मेरे बच्चे लापरवाही जीवन को
कई बार खतरों में डाल देती है मां काली जी
कहती हैं मेरे बच्चे यह महत्व नहीं रखता

कि पूजा तुम किस समय कर रहे हो बस
तुम्हारे सच्चे मन से श्रदा भावना से की
गई पूजा मुझे बाध्य कर देती है और मैं
तुम्हारी सभी इच्छाओं को पूर्ण कर देती

हूं मेरे बच्चे सभी कार्यों पर ध्यान देने
वाला व्यक्ति उस फूल की तरह बन जाता है
जिसकी खुशबू सभी को महका देती है और यदि
ऐसा व्यक्ति जिसके साथ रहता है उस व्यक्ति

के जीवन में उन्नति ही उसकी पहचान होती है
उसे जीवन में किसी भी चीज की कोई कमी नहीं
होती क्योंकि लालच बस किसी की पूजा नहीं
करना है बल्कि श्रद्धा से भक्ति भाव से

उसका हर कार्य भली भांति हो जाता है इसलिए
मेरे बच्चे तुम भी ऐसा कोई कार्य मत करो
जिससे कि मुझे तुम्हारे किसी भी कार्य से
दुख हो बल्कि तुम्हारा जीवन तुम्हारी हर

बात से जुड़ा हुआ है तुम्हारा हर कर्म
जुड़ा हुआ है अच्छा कर्म हो या बुरा सबका
तुम्हारे जीवन पर गहरा प्रभाव पड़ता है
मेरी हर बात का ध्यान रखना है अपनी ध्यान

शक्ति बढ़ाने के लिए 555 टाइप करें मां
काली जी कहती है मेरे बच्चे आज तुम्हारे
सारे दुखों का अंत होगा और तुम्हारे जीवन
के सभी परेशानियां समाप्त हो जाएंगी

क्योंकि मैं तुम्हें और कष्ट में नहीं देख
सकती आखिर तुम भी मेरे बच्चे हो तो मैं
कैसे अपने बच्चे को दुखी देख सकती हूं
मेरे बच्चे मैं जानती हूं कि तुम काफी

चिंतित रहते हो क्योंकि तुम्हारे जीवन के
काफी वर्ष केवल दुखों में ही कट रहे हैं
परंतु दुखी होने से तुम्हें कोई लाभ नहीं
होगा इसलिए अपने आप को दुखों से मुक्त करो

और अपने आप पर ध्यान दो मेरे बच्चे यह
व्यर्थ की चिंता करना छोड़ दो और अपने
जीवन में आगे बढ़ो लोगों का काम ही होता
है लोगों निंदा करना अगर तुम उनकी बातें

सुनोगे तो तुम कभी भी खुश नहीं रह पाओगे
भगवान पर विश्वास है तो हां टाइप करें मां
काली जी कहती हैं मेरे बच्चे कुछ लोग
दूसरों की बुराई करने से खुश हो जाते हैं

वह सोच हैं कि हम बहुत अच्छा कार्य कर रहे
हैं लेकिन वह यह नहीं सोचते हैं कि वे
जितना ज्यादा दूसरों के बारे में बुरा भला
करेंगे उतना अपने कर्मों में बुरी बातें

भरते जाएंगे इसलिए कभी भी किसी के बारे
में किसी भी प्रकार की निंदा ना करना बस
अपने जीवन में खुश रहना सत्कर्म करते रहना
और अपने कार्य में आगे बढ़ते हुए अपने

जीवन में सफलता हासिल करना मेरे बच्चे
आजकल के कलयुग में इंसान जरूरत के मुताबिक
ही तुमसे रिश्ता रखना चाहते हैं जब उसकी
जरूरत पूरी हो जाती है तो वह किसी भी

प्रकार का वास्ता तुमसे रखना पसंद नहीं
करते हैं इसलिए मेरे बच्चे इस मोह माया के
चक्कर में ना पड़कर तुम अपने परिवार जनों
के साथ ही समय बिताओ उन्हीं के साथ खुश

रहो इस मतलबी दुनिया से दूर रहे क्योंकि
इस दुनिया के लोग तुम्हारे लायक नहीं है
इस पर दावा करने के लिए 707 टाइप करें मां
काली जी कहती हैं मेरे बच्चे अपने जीवन

में हमेशा अच्छे कर्म करो क्योंकि अच्छे
कर्म करने से ही तुम्हें अच्छा फल प्राप्त
होगा मनुष्य जैसे कर्म करता है वैसा ही फल
पाता है और अच्छे फल पाकर वह जीवन में सुख

को भोगता है मेरे बच्चे अगर तुम्हारे जीवन
में कठिनाइयां है तो वह एक भगवान का संकेत
होता है क्योंकि भगवान जा जानते हैं कि
वही बच्चे कठिनाइयों का सामना कर सकता है

जिन्हें मुझ पर विश्वास होता है इसीलिए
भगवान ने यदि दुख दिए हैं तो तुम्हारे
जीवन में सुख भी बहुत देंगे अपने जीवन में
सब कुछ करना लेकिन अब जो मैं बता रही हूं

वह अपने जीवन में कभी मत करना लालच अहंकार
वासना ईर्ष्या यह सब जीवन में कभी नहीं
करना और मेरे बच्चे जो जीवन में रोज करना
है और अपनाना है वह है प्रेम करुणा नम्रता

भक्ति के साथ जीवन जीना दूसरों के साथ
प्यार से रहना दूसरे व्यक्तियों की मदद
करना मेरे बच्चे याद रखना अगर तुम जब भी
कोई कार्य करते हो उसमें लालच बेईमानी और

जलन होती है तो वह कार्य कभी सही नहीं
होते हैं और उसके परिणाम कभी भी अच्छे फल
नहीं देते हैं इसलिए मेरे बच्चे ऐसा कार्य
करो जिससे कि तुम्हें सफलता मिले और किसी

का दिल भी ना दुखे अगर तुम किसी का भी दिल
दुखाते हो तुम मेरा दिल दुखाते हो धन्यवाद
मां टाइप करें मां काली जी कहती हैं मेरे
बच्चे बर्बादी के तीन द्वार है काम क्रोध

और लालच जो बच्चे उन्हें अपने जीवन में
अपना लेते हैं वे कभी भी जीवन में सुखी
नहीं रह सकते हैं जो बच्चे कामी प्रवृत्ति
का होता है जिसके मन में लोभ होता है और

जो अत्यधिक क्रोधी स्वभाव का होता है उसके
लिए नरक के द्वार सदैव खुले होते हैं ऐसे
व्यक्ति को नरक में ही जगह मिलती है मेरे
बच्चे तुम इसलिए दुखी होते हो कि जीवन में

यह नहीं मिला वह चीज नहीं मिली है लेकिन
तुम्हें दुखी नहीं होना चाहिए जितना भगवान
ने दिया है उसमें खुश रहना सीखना होगा

मनुष्य सब कुछ पाना चाहता है पर सब कुछ
उसे नहीं मिल सकता है तुम्हें जो नहीं
मिला है उसके लिए पश्चाताप मत करो और जो
तुमसे खो गया है जो तुमसे अलग हो गया है

उसके लिए भी निराश मत होना मां काली जी आप
सबका भला करें मां काली जी का आशीर्वाद
प्राप्त करने के लिए जय मां काली टाइप
करें इस संदेश को आगे शेयर करें इस संदेश

में एक अनोखी दिव्य ज्योति है जो आपके
जीवन को सफल बनाएगी कृपया इसे बाद में
अवश्य ही देखें बच्चे जिसने तुम्हारे साथ
अन्याय किया है तुम्हें धोखा दिया है उसने

ऐसा बहुत से लोग के साथ किया है बहुत से
लोगों के साथ उसने यह छल किया है और वह
कौन है यह आज मैं तुम्हें इस संदेश के अंत
में बता कर जाऊंगी इसलिए मेरे बच्चे इस

संदेश को पूरा देखें और सच्चे मन से माता
रानी के लिए एक लाइक और कमेंट में जय हो
माता रानी लिख दीजिए मेरे बच्चे वह सोच
रहा है कि उसे कोई नहीं देख रहा है उसका

वहार ही ऐसा है क्योंकि वह किसी को भी खुश
नहीं देखना चाहता उसके दिल में तुम्हारे
लिए भी बहुत नफरत है वह तुम्हें भी हमेशा
रोता हुआ ही देखना चाहता है वह तुमसे बहुत

जलता है व तुम्हें कभी भी आगे बरसता हुआ
नहीं देखना चाहता और इसके लिए उसने
तुम्हारे साथ क्या-क्या किया है वह भी
मुझे त है पहले तो हो तुम्हारे सामने एक

बहुत अच्छा और सज्जन व्यक्ति बनकर मिला जब
जब तुम्हारी मित्रता हो गई उससे जब तुमने
उस पर पूरी तरह से भरोसा कर लिया तब उसने
तुम्हारे साथ छल किया मुझे सब जहां है

मुझे सब दिख रहा है उसने तुम्हारी पीठ
पीछे वार किया है तुम्हारी अच्छाई का
फायदा उठाया है मेरे बच्चे सावधान रहने के
लिए 444 अंक टाइप करो मेरे बच्चे वो ऐसा

करके तुमसे सब कुछ छीनना चाहता है
तुम्हारा अपमान करना चाहता है समाज में यह
दिखा चाहता है कि तुम एक बुरे इंसान हो
तुम में कोई भी गुण नहीं है वह नहीं चाहता

कि कोई भी तुम्हें पसंद करे तुमसे प्रेम
करें तुम्हारा सम्मान करें मुझे पता है
तुम्हारे मन में बहुत सारे विचार चल रहे
हैं जिनको तुमने अपने मन में समेटा हुआ है

और जिस कारण तुम इतने परेशान भी हो किंतु
तुम्हारे आसपास तुम्हारे अपने हैं उनकी
खुशी के लिए तुम खुश रहने का प्रयास करते
हो मेरे बच्चे ऐसा है तो लाइक करके दावा

करो मेरे बच्चे तुम नहीं चाहते कि वह
तुम्हें प्रसन्न देखकर दुखी हो तुम दिन
रात मेरे सामने रोते हो मुझसे कहते हो कि
मैं तुम्हारे कष्टों को शीघ्र दूर करूं

मैं जानती हूं मेरे बच्चे और मैं तुम्हारी
प्रार्थना को सुन भी रही हूं मैं शीघ्र ही
तुम्हें इस संकट के घड़ी से बाहर भी निकाल
लूंगी मुझे पता है एक समय तुम्हारा मुझ पर

यकीन डगमगा गया था हां
तुम सोच बैठे थे ना कि मैं तुम्हारी
परेशानियों को नहीं देख रहा शायद तुम्हें
ऐसा प्रतीत होने लगा था कि बिना किसी

गुनाह के बिना किसी गलती के ही तुम्हें
इतना सारा कष्ट मिल रहा है जिसने तुम्हारे
साथ बुरा किया है वह तो आराम से घूम रहा
है उसे किसी प्रकार का दुख नहीं है कोई भी

उसके कुकर्म के बारे में नहीं जानता इसलिए
सब उससे हंसकर बातें करते हैं और तुम जो
बिल्कुल बेगुनाह ना हो तुम्हें गलत समझते

हैं तुम्हें इतनी पीढ़ा दी जिसने उसका कुछ
भी गलत नहीं हुआ और जो तुम हमेशा सही रा
पर चले हो तुम्हें ही इतना कुछ देखना पड़
रहा है तुम इस तरह से घुट घुट के मत जियो

मेरे बच्चे तुम चिंता मत करो मेरे बच्चे
चिंता खत्म करने के लिए तैयार हो तो हां
टाइप करो और इस चैनल को सब्सक्राइब करो
मेरे बच्चे उस व्यक्ति के भी उल्टे दिन अब

शुरू हो गए हैं हां बहुत जी लिया उसने
हंसकर अब उसे भी रोना होगा उसने जो यह गलत
कार्य किया है उसका उसे फल तो अवश्य

मिलेगा अब उसकी बर्बादी के दिन शुरू हो गए
हैं मेरे बच्चे तुम मुझ पर विश्वास रखो
उसकी मानसिक स्थिति अब धीरे-धीरे खराब हो
रही है वह दिन रात बहुत विचलित रहता है

उसके कर्मों का ही फल है ये जो उसके सामने
आ रहा है और अब उसकी बुरे कर्म उसके इस
तरह की सजा दे रहे हैं इस तरह की पीडा मिल
रही है उसे उसने दूसरों के साथ इतना छल

किया उन्हें इतना दुख दिया यह बात उसे
अंदर ही अंदर खाए जा रही है वह इतना घमंडी
है उसके अंदर इतना घमंड है कि वह आज तुमसे
माफी भी नहीं मांग पा रहा है लेकिन मेरे

बच्चे उसे अपनी गलती का एहसास हो गया है
जिन लोगों की खुशी के लिए वह यह सब कर रहा
था अब वो लोग ही उसके सगे नहीं रहे हैं वो
लोग ही उसे नहीं समझ रहे हैं अब उसे समझ

में आ गया है कि उसने कितनी बी गलती की है
जैसे एक वक्त में तुम बहुत अधिक परेशान थे
जब उसने तुम्हारे साथ धोखा किया था

तुम्हारे साथ छल किया था ठीक उसी प्रकार
अभी वह भी बहुत बेचैन है क्योंकि जैसा
उसने तुम्हारे साथ किया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *