हर दुख से बाहर निकालेगी ये महादेव वाणी | - Kabrau Mogal Dham

हर दुख से बाहर निकालेगी ये महादेव वाणी |

महादेव कहते हैं किसी के साथ गलत करके अपनी बारी का इंतजार जरूर करना समय के पास हर किसी के

कर्मों का हिसाब है पानी में कभी परछाई नहीं दिखती खुशी प्रकार परेशान मां से शांत होकर देखी सभी समस्याओं का हल मिल जाएगा अगर आपकी खुशी इस बात पर निर्भर करती है क्या हो रहा है तो आप हमेशा

बाहरी परिस्थितियों के गुलाम बने रहेंगे की भूख सभी को लगती है लेकिन जब सत्य भरोसा जाता है तो बहुत कम लोगों का इसका स्वाद अच्छा लगता है में पड़ा हुआ टिका पर में छुपा हुआ कांटा और आरोही में दबी हुई आग

से भी ज्यादा भयानक है हृदय में छुपा हुआ कपट जिसे कह दिया जाए वह शब्द होते हैं जिनकी अभिव्यक्ति ना हो पाए अनुभूति और जिसे चाहा कर भी ना कहा जाए वह होती है मर्यादा कोई हमारा बुरा करना चाहता है तो

यह उसके कर्मों में लिखा जाएगा किसी का बुरा सोच कर अपने कर्म और वक्त दोनों खराब करें इस जीवन में कई घाव मिलेंगे हमें घाव से ज्यादा उनके पीछे छिपे पाठ को ही याद रखना है दिल इतना भी मत दुखाओ की

उसके अंदर रहने वाली परमात्मा भी दुखी हो उठे दिल इतना भी मत दुखाओ की उसके अंदर रहने वाला परमात्मा भी दुखी महादेव कहते हैं सरल व्यक्ति के साथ किया गया चल आपकी बर्बादी के सारे द्वार खोल देता

है आप कितने बड़े शतरंज के खिलाड़ी क्यों ना हो क्या झूठ धोखा और बहाने आपको कुछ पल की खुशी देंगे लेकिन इसकी कीमत आपको भविष्य में चुकानी पड़ेगी के बर्बाद होने के 6 कारण नींद गुस्सा दर्द थकान आलस

और कामों को टालने की आदत यह है कि सच्चे लोग व्यक्ति को सहत ही नहीं बल्कि उसका इस्तेमाल कैसे करना है यह सोचना शुरू कर देते हैं कि जीवन में पीछे देखोगे तो अनुभव मिलेगा आगे देखोगे तो आशा मिलेगी

दाएं बाएं देखोगे तो सत्य मिलेगा लेकिन अपने भीतर देखोगे तो परमात्मा मिलेगा आत्मविश्वास मिलेगा किसी भी समस्या का हर कोई अपने अनुसार समाधान बताता है किसी के दिखाए मार्ग पर चलने से बुद्धि द्वारा यह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *