लक्ष्मी मां खुशियों भरे दिन अब तुम्हारे जीवन में आ रहे हैं - Kabrau Mogal Dham

लक्ष्मी मां खुशियों भरे दिन अब तुम्हारे जीवन में आ रहे हैं

[संगीत]

मेरे बच्चों आज मैं तुम्हें धन से

परिपूर्ण कराने आई हूं तुम्हारे घर में

इतना धन देने वाली हूं कि तुम्हारा पूरा

जीवन अब सुख में बीतेगा इसलिए आज मेरे

संदेश को अनदेखा मत करना यह तुम्हारे लिए

बहुत अनिवार्य

है अले चार घंटे में ही तुम्हें मैं अपने

धन से मालामाल कर दूं

तथा तुम्हारी जो भी इच्छाएं हैं उन सभी को

मैं पूरा कर

दूंगी जानती हूं कि तुमने मुझे पाने के

लिए वह सारे कार्य किए हैं किंतु फिर भी

तुम मुझे नहीं पा सके और उसका सबसे बड़ा

कारण तुम्हें इस संदेश में आज बताऊंगी

लेकिन आज तुम मुझे पा सकते हो सिर्फ और

सिर्फ मेरी भक्ति करने से ही तुम्हें मेरे

सुख की प्राप्ति

होगी तुम्हारे जीवन में जो परीक्षाएं

मैंने रखी थी उन परीक्षाओं को सफल तुम्हें

ही करना होगा कुछ परीक्षाएं शेष रह गई हैं

परंतु तुम सभी परीक्षाओं में अवश्य ही सफल

हो जाओगे यह मुझे यकीन है अपनी चिंताओं पर

तुम ध्यान मत दो क्योंकि चिंता तुम्हारे

जीवन को बर्बाद कर देगी यह वह आग है जो

इंसान को अंदर से जलाकर राख कर देती है और

उसके पूरे जीवन को बर्बाद कर देती

है इसलिए चिंता करना छोड़ दो मेरे

बच्चे तुम बस जो चाहते हो उसे सोचो और उस

पर काम करो तुम्हारी सकारात्मक सोच ही

तुम्हें सब कुछ देती चली जाएगी जो इंसान

सकारात्मक सोच रखता है वह जीवन के हर

क्षेत्र को बड़े ही आसानी से पा लेता है

क्योंकि सकारात्मक सोच में वह शक्ति है

जिसमें हम जो भी अच्छा सोचते हैं वह हमें

मिलने लगता है और यही सकारात्मक सोच

तुम्हें अपने मन में रखनी

है जब तुम गरीबों की मदद करते हो तो ऐसा

करने से मेरा आशीर्वाद तुम्हें प्राप्त

होता

है और इस आशीर्वाद से तुम्हारे जीवन में

अच्छी चीजें होने लगती हैं क्योंकि मैं

तुमसे बेहद प्रसन्न हो जाती हूं और तुम जब

भी कोई अच्छा कार्य करते हो तो उस समय

तुम्हारी मां तुम्हें अपना आशीर्वाद अवश्य

देती हैं मैं हमेशा तुम्हारे साथ हूं

तुम्हें जब कभी मेरी आवश्यकता होगी मैं

तुम्हें तुम्हारे पास ही मिलूंगी बस केवल

मेरे द्वारा बताई गई चीजों को अवश्य करना

अपने जीवन में मेरे अगले संदेश का इंतजार

करना मेरे बच्चों तुम्हारी मां जल्द ही

आएंगी और जो बातें मैंने तुमसे कही हैं

उसे अपने जीवन में आज ही अपना लो तभी

तुम्हारा जीवन संभल सकता है य तुम मेरी

बातों को केवल अनदेखा करके आगे बढ़ो ग तो

तुम्हारे लिए किसी भी चीज को कर पाना बेहद

कठिन हो

जाएगा चिंता में मत बैठो मेरे बच्चे अपने

कर्म करते जाओ अभी संसार में तुम्हारे

कर्म से ज्यादा बलवान और कुछ भी नहीं है

मैं तुम्हारे कर्मों से ही तुम्हें

तुम्हारे भविष्य का आईना दिखा सकती हूं

यदि तुम अपने कर्मों में सुधार कर लोगे तो

तुम्हारे दुखों का अंत स्वयं होता चला

जाएगा

अरे जीवन में जो भी लोग या फिर सफलता

असफलता या सुख दुख जो कुछ भी तुम प्राप्त

कर रहे हो यह सभी तुम्हारे कर्मों का फल

है तुम जैसे कर्म कर रहे हो वैसे ही

तुम्हें फल मिल रहे हैं इसलिए बैठे रहने

से तुम्हारे कर्म बदल नहीं जाएंगे बल्कि

कर्म बदलने के लिए तुम्हें अच्छे कार्य

करने होंगे तुमने अपनी पूरी जिंदगी में जो

भी किया है अच्छा या बुरा उस चीज का जो भी

तुम्हें परिणाम मिल रहा है वही तुम्हारा

कर्म फल है जब भी कोई मनुष्य कोई कार्य

करता है तो उसकी प्रतिक्रिया जरूर होती

है इसलिए मेरे बच्चे मैं तुमसे यही चाहती

हूं कि तुम अच्छे कर्म करो क्योंकि तुम

मेरे बच्चे हो और मैं तुम्हारी माता हूं

तुम उसके बावजूद भी अपनी मां को क्यों

रुला रहे हो क्यों मेरी बातों को नहीं मान

रहे क्यों अपने समय को व्यर्थ की चीजों

में नष्ट कर रहे

हो हम चाहते हैं कि लक्ष्मी मां की कृपा

आप पर और आपके परिवार पर बनी रहे इसके लिए

आपको इस संदेश को अंत तक अवश्य सुनना

होगा अदि लक्ष्मी या

महालक्ष्मी लक्ष्मी मां का सबसे पहला

अवतार है आदि लक्ष्मी या

महालक्ष्मी यह ऋषि भृगु की बेटी के रूप

में

है श्रीमद् भागवत पुराण के अनुसार

महालक्ष्मी ने ही त्रि देवों को प्रकट

किया है और इन्हीं से ही महाकाली और महा

सरस्वती ने आकार लिया जंतुओं को प्राण

प्रदान करने वाली आदि लक्ष्मी ही है इनसे

जीवन की उत्पत्ति हुई है आदि लक्ष्मी अपने

भक्त को मोक्ष की प्राप्ति कराती

हैं मां लक्ष्मी का दूसरा रूप है धन

लक्ष्मी जो व्यक्ति को धन और वैभव से

परिपूर्ण कराती हैं कहा जाता है कि एक बार

कुबेर से भगवान विष्णु ने धन उधार लिया था

जो वह समय पर नहीं चुका पाए

थे धन लक्ष्मी ने ही विष्णु जी को कर्ज से

मुक्त करवाया था इनके पास धन से भरा कलश

मौजूद है इनके एक हाथ में कमल है इनकी

पूजा से आर्थिक परेशानियां और कर्ज से

मुक्ति मिलती

है गज लक्ष्मी माता क पुष्प के ऊपर हाथी

पर विराजमान है इन्हें कृषि और उर्वरता की

देवी भी कहा गया है इन्होंने भगवान इंद्र

को सागर की गहराई से उनके खोए ना को वापस

हासिल करने में मदद की

थी इन्हे राज लक्ष्मी भी कहा गया है

क्योंकि यह राज को समृद्धि प्रदान कराती

हैं जो लोग कृषि क्षेत्र से जुड़े हैं और

जिनकी संतान की इच्छा है उन्हें इनकी पूजा

करनी

चाहिए संतान लक्ष्मी मां लक्ष्मी का

पांचवा स्वरूप है यह बच्चों और अपने

भक्तों को लंबी उम्र प्रदान करने के रूप

में है श्रीमद् भागवत पुराण के अनुसार तना

देवी अपनी गोद में बालक कुमार स्कंद को

लिए बैठी हैं इनका स्वरूप स्कंद माता जैसा

है इनकी चार भुजाएं हैं जिनमें दो भुजाओ

में कलश धारण और बाकी की दो में तलवार और

ढाल है अपने भक्तों की रक्षा अपने संतान

के जैसे करती हैं इनकी पूजा करने से घर

में सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है मेरे

प्यारे बच्चों आज मैं तुम्हें कुछ ऐसा

बताने आई हूं

जिससे तुम्हारा पूरा जीवन बदल

जाएगा तुम मेरे प्यारे बच्चे हो और

तुम्हें इस संदेश को ध्यानपूर्वक सुनना है

यदि तुम अपनी माता पर विश्वास करते हो तो

अभी इस वीडियो को लाइक करो और कमेंट बॉक्स

में जय माता रानी अवश्य

लिखो इस संदेश को अधूरा छोड़कर मत जाना

मेरे बच्चे जो लोग हमें तुम्हें बहुत

ज्यादा अप शब्द बोलते हैं बहुत बुरा भला

कहते हैं लेकिन तुम कभी भी उन्हें पलट कर

जवाब नहीं देते बस यही खूबी तुम्हारे अंदर

है जो मुझे तुम्हारी और खींची चली लाती

है क्योंकि यदि तुम भी उनकी तरह उल्टा

बोलोगे तो फिर तुम में और उनमें क्या अंतर

रह जाएगा वह तुम्हें अपनी मीठी मठी बात

बोलकर तुमसे तुम्हारे मन की सारी बातें

बुलवा लेते

हैं और तुम बहुत भूले हो तुम अपने मन की

बातें उन्हें अपना समझकर बता देते हो

लेकिन मेरे बच्चे तुम सावधान हो जाओ मैं

तुमसे तो वह बातें बुलवा लेते हैं लेकिन

तुम्हारे पीठ पीछे ही तुम्हारी बुराई करते

हैं इसलिए तुम दूसरों नजरों में बहुत बुरे

हो इसमें तुम्हारी कोई बुराई नहीं है ना

ही तुम्हारी कोई गलती है यह कलयुग है और

कलयुग में हर कोई मीठी बातें करता है और

दूसरों को बेवकूफ बना देता

है क्योंकि तुम बहुत सीधे हो तुम किसी की

चापलूसी करना नहीं जानते हो तुम्हारे लिए

जो सही है वह सही है और जो है वह गलत है

चाहे वह कोई तुम्हारा कितना भी सगा

व्यक्ति हो अगर ऐसा गलत तुम्हें लगता है

तो वह गलत ही होगा मेरे बच्चे यही एक बात

है जो तुम्हें दूसरों से अलग करती है आजकल

के व्यक्ति ऐसे हैं जो मुंह पर तो कुछ और

होते हैं और अंदर से उनके मन में बहुत कुछ

बुरा होता है उनका दिमाग शैतान की तरह

कार्य करता है वह दूसरों के लिए जाल

बिछाना जानते हैं और मेरे बच्चे तुम बहुत

सीधे हो तुम उन्हीं के जाल में फंस जाते

हो मेरे बच्चे उनका शैतानी दिमाग ऐसा है

कि वह किसी को भी बर्बाद करने के लिए गलत

से गलत कार्य भी कर बैठते हैं लेकिन तुम

सावधान हो जाओ तुम्हारे आसपास जो व्यक्ति

हैं जो तुमसे मी बोलते हैं अपने स्वार्थ

के लिए तुमसे अपना काम निकलवा लेते हैं अब

तुम उनसे दूर हो जाओ तुम उनकी बातों में

मत आओ वरना तुम्हें जीवन में बहुत कुछ

भुगतना

पड़ेगा और फिर जब तुम्हारे जीवन में बुरा

होने लगेगा तब तुम अपने आप को ही खो सोगे

कि मैंने ऐसे व्यक्तियों का साथ क्यों

दिया उनकी बात क्यों मानी इसलिए अभी भी

समय उनसे दूर हो जाओ यदि वह तुम्हें कुछ

कहते भी हैं तो तुम उन्हें नम्रता से मना

कर दिया करो अपने जीवन में अपने कार्यों

में तुम मगन

रहो हो सकता है कि वह व्यक्ति दूर बैठा

तुम्हारे लिए षड्यंत्र रच रहा है और तुमसे

मीठी-मीठी बातें करता है और दुनिया के

सामने वही व्यक्ति अच्छा है क्योंकि वह

तुमसे मीठी बातें करता है और तुम होग उनसे

कटु शब्दों में बातें करते हो क्योंकि

तुम्हें उनके बारे में अब पता लग चुका है

कि वह कैसे

हैं लेकिन घबराना मत मेरे बच्चे जो

तुम्हारे साथ गलत कर रहा है उसके जीवन में

खुद भी बहुत जल्द गलत होने वाला है उसको

भी जीवन में ऐसा ही व्यक्ति मिलेगा जैसे व

तुम्हारे साथ कर्म कर रहा है उसको अब उसके

कर्मों की सजा अवश्य

मिलेगी इसलिए यदि तुम अब अपने जीवन को

संवारना चाहते हो तो तुम्हें अपने स्वभाव

और अपनी वाणी को संभालना होगा हमेशा अच्छा

बनो ताकि ब्रह्मांड की सारी शक्ति तुम्हें

अच्छा जीवन प्रदान करें मेरा आशीर्वाद

तुम्हारे जीवन में खुशियां लेकर

आएगा एक बार इस संदेश को दोबारा ध्यान से

सुनना ताकि तुम्हारे जीवन में तुम्हें

तरक्की मिल सके मेरा आशीर्वाद सदा

तुम्हारे साथ है जीवन में खुश रहो स्वस्थ

रहो तुम्हारा दिन मंगलमय हो

[संगीत]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *