लक्ष्मी मां आज मैं तुम्हारी झोली खुशियों से भर दूंगी - Kabrau Mogal Dham

लक्ष्मी मां आज मैं तुम्हारी झोली खुशियों से भर दूंगी

आज जो कोई भी मेरा यह संदेश सुन रहा है

उसे धन की प्राप्ति अवश्य होगी क्योंकि

मेरा यह संदेश सुनने के बाद तुम्हारे अंदर

वह ऊर्जा पैदा होगी जो तुम्हें धन की ओर

आकर्षित करेगी और आज तुम्हारी माता

लक्ष्मी तुम्हें वह ज्ञान देने आई हैं जो

तुम्हारे लिए बहुत उपयोगी है इसलिए मेरे

संदेश को बीच में छोड़कर मत

जाना संसार में धन की आवश्यकता सबको होती

है इसलिए आज मैं तुम्हें वह सरल मार्ग बता

रही हूं जिस पर चलने से तुम धन कमाओगे तथा

उसके साथ ही अपने जीवन में उन सभी

समस्याओं से दूर चले जाओगे जिन समस्याओं

के कारण तुम्हारे जीवन में अंधेरा

है मेरे बच्चे यह अंधेरा कु पल का है बस

आज तुम्हारा इंतजार समाप्त हुआ मुझे देखकर

अनदेखा करने की भूल मत करना अन्यथा

तुम्हारे जीवन में बहुत अधिक परेशानियां आ

जाएंगी मैं तुम्हें कुछ चेतावनी यां भी

देना चाहती हूं ताकि तुम ऐसी कोई भी गलती

ना करो जिससे तुम्हें आगे पछताना पड़े

मेरे बच्चे तुम अपनी माता पर जितना

विश्वास करते हो उतना ही विश्वास अपने ऊपर

भी करो तुम्हारा विश्वास ही तुम्हें हमेशा

आगे बढ़ाएगा यदि तुम अपने कार्यों पर

विश्वास करोगे तो यकीन रखो तुम्हारे हर

कार्य अच्छे से होंगे और जिंदगी में तुम

हर क्षेत्र में सफल

बनोगे तुम मुझे देखकर भी अनदेखा कर रहे हो

इससे तुम्हारा जीवन अंधेरे में जा सकता है

मैं वह शक्ति हूं जिसे जो व्यक्ति अपना

लेता है या जिसको मैं अपना आशीर्वाद देती

हूं वह जीवन भर फलता फूलता

है मुझे हर कोई पाना चाहता है लेकिन मैं

सिर्फ उसी को मिल पाती हूं जो इंसान सत्य

अहिंसा और परोपकार की राह पर चलता है

जिसके मन में कभी लालच नहीं आता ना ही

दूसरों के लिए कभी बुरी बातें या बुरे

विचार उसके मन में आते

हैं मैं तुम्हारी माता हूं मैं तुमसे

प्रेम करती हूं लेकिन जाने अनजाने में तुम

मेरा दिल दुखा देते हो मेरे बच्चे ऐसा

करना सही नहीं है एक माता हमेशा अपने

बच्चों के लिए अच्छा सोचती है लेकिन

कभी-कभी तुम्हारे जीवन में जो कठिनाइयां

पर नी आती है तुम उनसे झुंझला उठते

हो लेकिन आज मैं तुम्हें एक ऐसा आशीर्वाद

देने आई हूं जिसे पाकर तुम हमेशा के लिए

खुश हो जाओगे तुम्हारे जीवन की जितनी भी

परेशानियां थी चाहे वह स्वास्थ्य संबंधी

हैं नौकरी संबंधी है या माता-पिता का

स्वास्थ्य या बच्चों के भविष्य यह सब कुछ

तुम अनुसार ही होने वाला है जो तुम चाहते

हो इन सब परेशानियों से तुम्हें जल्द ही

छुटकारा मिलेगा लेकिन उसके लिए तुम्हें

मेरी एक बात माननी होगी तुम्हें नृत्य

प्रति उठकर मेरी पूजा करनी होगी और साथ ही

अपने घर के सभी व्यक्तियों के साथ प्रेम

से रहना होगा उनके साथ हमेशा मिलजुलकर रहा

करो बस यही मैं चाहती

हूं मैं जानती हूं कि तुम इस समय तुम्हारे

जीवन में तुम्हें पैसों की बहुत अधिक

आवश्यकता

है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि तुम

पैसे को पाने के लिए गलत रास्ते पर भी

जाना शुरू कर दो गलत रास्ते पर जाना सही

नहीं है क्योंकि जो एक बार व्यक्ति गलत

रास्ते पर चला जाता है फिर चाहे उसके जीवन

में कितने भी भी पैसे उसे मिल जाएं लेकिन

वह कभी भी सफलता प्राप्त नहीं कर

सकता और उन पैसों से ना तो तुम खुद खुश रह

सकते हो ना ही अपने परिवार को खुश रख सकते

हो क्योंकि ऐसे पैसे किसी का दिल दुखा करर

तुम्हें प्राप्त हुए हैं या किसी को धोखा

देकर तो ऐसे पैसों से तुम्हें खुशी नहीं

मिल

सकती इसलिए अपने मन में ठान लो कि तुम्हें

कभी भी गलत रास्ते पर नहीं जाना है चाहे

तुम्हारे जीवन में कितनी भी समस्याएं आए

क्योंकि कठिन समय ही मनुष्य को सही और गलत

रास्ते की पहचान कराता

है यदि तुम्हें अपनी माता पर विश्वास है

तो अभी जय माता रानी लिखकर अपनी स्वीकृति

प्रदान करो और मेरा आशीर्वाद ग्रहण करो

मेरे बच्चे तुम्हारे जीवन के दुखों को मैं

हर कर ले जाऊंगी

[संगीत]

तुम्हें कुछ और बातों का भी ध्यान रखना है

यदि तुम संदेश को अधूरा छोड़कर चले जाओगे

तो तुम्हें वह सब कुछ प्राप्त नहीं हो

पाएगा जो मैं तुम्हें देना चाहती हूं इसके

लिए तुम्हें संदेश को अंत तक पूरा सुनना

होगा और उसे जीवन में अपनाना

होगा अपने जीवन में जब भी अपनी मंजिल का

चुनाव करो तो मेरे बच्चे सदा मेहनत के

रास्ते पर चलकर ही अपनी मंजिल को प्राप्त

करने का मार्ग चुनना क्योंकि यदि तुमने

छोटा रास्ता अपनाकर अपनी मंजिल को मनचाहा

पाया तो वह रास्ता छोटा रास्ता कुछ समय

बाद तुम्हारे पूरे जीवन को पूर्ण रूप से

बर्बाद कर देगा और तुम किसी भी प्रकार का

कोई कार्य नहीं कर पाओगे तुम्हें सही और

गलत रास्ते में अंतर समझना

होगा मैं जानती हूं तुम्हारी मंजिल बहुत

बड़ी है तुम वह सारे सपने पूरे करना चाहते

हो जो तुमने आज तक देखे हैं और इन सपनों

को पूरा करने के लिए तुमने मेरी कठिन

तपस्या भी की

है इस बार तुम्हारी मां तुम्हें निराश

नहीं करेंगी तुम्हारी सारी पुकार को सुनकर

ही मैं तुम्हें यह संदेश देने आई हूं मेरे

बच्चे अब तुम्हें केवल

अपनी मंजिल की ओर आगे बढ़ने के लिए काम

करने होंगे जब तुम काम करोगे तो तुम्हारे

जीवन में चमत्कारी बदलाव होने शुरू हो

जाएंगे और यदि तुम मेरे दिखाए गए रास्ते

पर नहीं चले तो मेरे बच्चे तुम अपनी मंजिल

तक कभी नहीं पहुंच पाओगे रे जो भी दुख हैं

वह सारे दुख मैंने सुन लिए हैं फिर चाहे

वह धन से संबंधित हो या फिर एक माता का

अपने बेटे से बिछड़ना हो

या फिर घर में चल रहे आपसी कलेश हो मेरे

बच्चे इन सभी का समाधान तुम्हें अवश्य

मिलेगा और जिन्होंने तुम्हें सताया है उन

लोगों को मैं स्वयं दंड दूंगी अब तुम्हारा

जीवन दुखी नहीं रहेगा सबको कर्मों के

हिसाब से ही फल मिलता है तुम्हारी मां आज

इस धरती पर इसीलिए ही आई

हैं तुम्हारे सभी कार्यों को सिद्ध कर

दूंगी और तुम्हें जीवन का सुख प्रदान करू

लेकिन तुम यह हमेशा याद रखना कि कभी भी

गलत रास्ते पर चलकर अपनी मंजिल को पाने की

मत सोचना गलत रास्ते पर चलकर पाई हुई

मंजिल हमेशा तुम्हें दुख प्रदान करती है

और अच्छे रास्ते पर चलकर तुम्हें सदा

अच्छा ही प्राप्त होगा इसलिए अपने रास्तों

को चुनाव कभी गलत तरीके से मत

करना हे बच्चे तुम जो भी मेहनत से धन

कमाते हो उसका फल तो तुम्हें हमेशा

खुशियां देता है परंतु यदि तुम दूसरे

लोगों को देखकर दुखी हो जाते हो उनके धन

को देखकर दुख हो जाते हो तो वही धन

तुम्हारे दुखों का कारण बनेगा इसलिए मैं

तुम्हें यह बात समझाना चाहती हूं कि अपने

जीवन जीना के लिए जितना धन तुम्हें चाहिए

उतना ही अनिवार्य है जो तुम्हें जीवन में

खुशी दे क्योंकि जब तुम इस संसार से जाओगे

तब यह तुम्हारा धन तुम्हारे साथ नहीं

जाएगा तुम्हारी माता अपने धाम वापस जा रही

है अब यदि तुम उन्हीं कदमों पर चलकर यह

कार्य करोगे जो मैंने तुम्हें कहे हैं तो

तुम्हारे सब कार्य अवश्य पूरे होंगे और

तुम्हें उनका मनोवांछित फल भी मिलेगा और

यदि तुम अपने मन की कर रहे हो मेरी बातों

को अनदेखा करोगे तो तुम सदा ही इसी तरीके

से अपने जीवन को बर्बाद करोगे जैसे कि आज

कर रहे हो

मेरा आशीर्वाद सदा तुम्हारे साथ है जीवन

में खुश रहो स्वस्थ रहो तुम्हारा दिन मंगल

में

हो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *