मां दुर्गा मैं तुमसे माफी मांगना चाहती हूं क्या तुम मां दुर्गा के लिए इतना भी नहीं कर - Kabrau Mogal Dham

मां दुर्गा मैं तुमसे माफी मांगना चाहती हूं क्या तुम मां दुर्गा के लिए इतना भी नहीं कर

मेरे भक्तों मैं तुम्हारी पुकार सुनकर

तुम्हें मनवांछित फल देने आई हूं मैं

जानती हूं कि पिछले काफी वर्षों से

तुम्हारे जीवन में काफी उतार चढ़ाव आ रहे

हैं और उन्हीं कारण तुम काफी ज्यादा निराश

होकर बैठे हो मैं जानती हूं तुम इस धन के

लिए अपने जीवन में बहुत कठिन से कठिन

परिश्रम कर रहे हो तुम्हारे शरीर में

जितनी भी ताकत है

तो तुम पूरी ताकत के साथ मेहनत कर रहे हो

तथा एक-एक पैसे के लिए दिन रात परिश्रम कर

रहे

हो शांत मन तुम्हारे हर कार्य को पूर्ण

रूप से करने में सहायता करेगा और निर्मल

मन तुम्हारे हर प्रसन में शांत रहना

सिखाएगा तुम्हें अपने जीवन में बड़ों की

सेवा करनी चाहिए ऐसा करने से मैं खुश होती

हूं

क्योंकि जिस घर में बड़ों का आदर होता है

वहां मेरा बास अवश्य होता है यदि तुम अपने

जीवन में अपनों से बड़ों का आदर करते हो

तो तुम्हारे भाग्य में मेरा होना अवश्य

लिखा होता है अब निराश होकर बैठ कर के समय

बर्बाद करने से अच्छा है मेरे बच्चे उठो

अपने मन की शक्ति को जागृत करो मेरे दिए

हुए ज्ञान सूझबूझ

संयम और धैर्य का प्रयोग करके अपने जीवन

में खुशियां लाओ यह जीवन मैंने ही तुम्हें

दिया है तो मैं नहीं चाहती मेरे बच्चों इस

जीवन को तुम ऐसे ही बर्बाद करो इस सुंदर

जीवन को अपने कर्मों से तुम और सुंदर बना

सकते हो इसलिए उठो मेरे बच्चों मेहनत कर

आगे बढ़ो मैंने जितनी भी शक्तियां तुम्हें

दी हैं उन सबका अपने जीवन में उपयोग करो

और और अगर तुम अच्छे कार्य करोगे अच्छे

कर्म करोगे तो मैं ब्रह्मांड की जितनी भी

और शक्तियां हैं वह सब भी तुम्हें दे

दूंगी क्योंकि मैं चाहती हूं कि तुम्हारा

जीवन सफल बने तुम अपने साथ-साथ अपने

माता-पिता अपने परिवार का ध्यान अच्छे से

रखो और अपने जीवन में आने वाली छोटी-छोटी

खुशियों को जियो मैंने तुम्हें ही चुना है

क्योंकि तुम बहुत बुद्धिमान हो तुम्हारे

पास अनंत शक्ति है जिससे कि तुम अपने

आसपास हो रही बुरी चीजों को समाप्त कर

सकते हो मैं सिर्फ तुम्हें ही इसलिए कह

रही हूं क्योंकि तुम मेरे प्रिय बच्चों

में से एक हो तुम्हारे पास सब कुछ है

अच्छा शरीर अच्छा मन अच्छी

बुद्धि तुम उन व्यक्तियों के बारे में

सोचो जिनके शरीर ठीक नहीं है या कोई अंग

खराब है या उनकी बुद्धि सही तरीके से

कार्य नहीं करती

है ऐसे व्यक्ति अपने जीवन में संघर्ष करके

आगे बढ़ते हैं और अपनी इच्छाओं सपनों को

पूरा करना चाहते हैं तो मेरे बच्चों मैं

चाहती हूं कि तुम ऐसे व्यक्तियों की मदद

करो उनकी सभी इच्छा पूरी करने में उनकी

सहायता

करो ऐसे लोग अपने आप को बहुत ज्यादा अकेला

महसूस करते हैं तो मेरे बच्चों तुम्हें

उनकी सहायता करके उनका मार्गदर्शन करना है

तुमने संघर्षों का जीवन जिया है तुम्हें

पता है कि क्या तुम्हारे लिए सही है और

क्या गलत इसलिए अपनी कीमती जीवन की कीमत

को

पहचानो जितना ज्यादा मनुष्य अपने जीवन में

संघर्ष करके आगे बढ़ता है उतना अगर कभी भी

किसी किताब से ज्ञान लेकर नहीं सीख सकता

हमारे जीवन हमारी जिंदगी एक किताब की तरह

है अपने आप को कभी भी किसी से कम मत समझो

तुम्हारे पास विद्या धन मन सब कुछ है इन

सबका मैंने तुम्हें भंडार दिया है अब

तुम्हें उसका सही इस्तेमाल करना है और

जीवन में आगे बढ़ना है अगर तुम अपने जीवन

में कभी कोई गलत काम नहीं करते तो

तुम्हारे साथ कभी गलत नहीं होगा तो तुमने

अच्छे कर्म किए हैं तुम्हें वैसे ही फल

मिलने वाले हैं हमारे कर्मों का हमारे आने

वाले कल पर बहुत सारा प्रभाव पड़ता है अगर

आज तुम अच्छे कर्म करोगे तब ना आज ही नहीं

अपने आने वाले भविष्य और अपने आने वाले नए

जन्म में जो हमें बहुत कुछ जीवन में

सिखाती है जो भक्त मेरी सच्ची श्रद्धा से

भक्ति करता है उसके जीवन में कभी भी

अंधकार नहीं आता है वह हमेशा ऊंचाइयों को

छूता है तुम मेरे प्रिय बच्चों में से एक

हो जिनको मैं आज अंधकार से बाहर निकालने

आई हूं और आज से तुम्हारी जिंदगी में सब

कुछ नया और अच्छा होने वाला है तुमने ऐसा

चमत्कार पहले कभी नहीं देखा

होगा तुम्हें मेरे लिए कार्य करना ही मेरी

भक्ति के साथ-साथ तुम्हें हमेशा सबकी मदद

के लिए तैयार होना है और निस्वार्थ होकर

सबकी मदद करनी है आज मेरे दिए हुए संदेश

को जो जीवन में अपनाए उसके जीवन में

खुशियां आ जाएंगी मेरा आशीर्वाद सदा

तुम्हारे साथ है तुम्हारा दिन मंगलमय हो

मेरे बच्चे मैं तुमसे इतना अधिक प्रेम

करती हूं कि आज मैं तुम्हें तुम्हारी सारी

परेशानियों से बाहर निकालने के लिए आई हूं

तुम बार-बार मुझे याद करते हो और यह

प्रार्थना मुझसे करते हो कि तुम्हारी मां

तुम्हारी सारी परेशानी को दूर करके एक ऐसा

मार्ग बताए जो तुम्हें तुम्हारी

परेशानियों का अंत करने में मदद करें

संसार में हर कोई चाहता है कि उसका जीवन

खुशियों से भरा रहे परंतु वह यह भूल जाता

है कि वह अपने जीवन को खुशियों से स्वयं

भर सकता है ऐसी कोई भी चीज नहीं है जो

इंसान ना कर सके परंतु आज के समय में अपने

स्वार्थ में आकर लोग मेहनत करना भूल चुके

हैं जिसके कारण आगे चलकर उनके जीवन में

बहुत सी परेशानी खड़ी हो जाती

हैं सबसे पहला कार्य तुम्हारा यह है कि

तुम्हें सिर्फ अपने बारे में सोचना है जब

तक तुम खुद को इस काबिल नहीं बना लेते कि

तुम अपने जीवन में कुछ कर लो तब तक तुम

सारी चीजों से दूर रहना होगा जो तुम्हें

जीवन में लक्ष्य से भटका देती हैं फिर

चाहे वह तुम्हारे अंदर का डर हो या फिर

किसी इंसान के प्रति तुम्हारी भावना मेरे

बच्चों सबसे पहला लक्ष्य तुम्हारा यह है

कि तुमने अपने जीवन में कुछ करना है और

उसके लिए तुम्हें उन चीजों से दूर होना

होगा जो तुम्हारा ध्यान को अपने लक्ष्य से

दूर करने की कोशिश करती

है दूसरा बड़ा कार्य तुम्हें यह करना है

कि तुम उन चीजों को करना छोड़ दो जिनसे

तुम्हें नुकसान पहुंचता है तुम अक्सर वह

कार्य करते हो जो कार्य तुम्हारे लिए सही

नहीं है जब तक तुम ऐसे कार्य अपने जीवन

में करते रहोगे जो तुम्हारे लिए सही नहीं

है तब तक तुम्हें सफलता नहीं मिल सकती है

इसलिए तुम्हें स्वयं अपने जीवन को सही

करना

होगा जीवन में एक बात हमेशा याद रखना कि

तुम्हारे गुण या अवगुण इस बात पर निर्भर

करते हैं कि तुम अपने आसपास के लोगों से

किस प्रकार के संबंध रखते हो यदि तुम्हारी

संगत बुरे लोगों से है तो तुम कभी अच्छे

कार्य नहीं कर सकते और यदि तुम्हारी संगत

अच्छे लोगों से है तो तुम जीवन में किसी

प्रकार का बुरा कार्य नहीं करोगे यह

तुम्हारे ऊपर निर्भर करता है कि तुम कैसे

लोगों को चुनते हो यदि तुम मेरे बताए हुए

रास्ते पर चलोगे तो इस संसार में वह दिन

दूर नहीं कि तुम्हारे कदमों में कामयाबी

होगी मैं तुम्हारी माता तुम्हारे लिए

जितनी चिंतित रहती हूं उतना शायद तुम अपने

लिए भी नहीं रहते हो इसलिए मेरे संदेश को

अंत तक सुनना इस संसार में जितने भी

कामयाब लोग हैं जो भी आज तक सफल हुए हैं

उनमें एक समान बात होती है और वह बात यह

है कि वह अपने आप को सफल करने के लिए कड़ी

मेहनत करते हैं दूसरों के प्रति निर्भर

नहीं रहते स्वयं के द्वारा बनाए गए मार्ग

पर चलते हैं जो मार्ग में सफलता की ओर ले

जाता है और ऐसा इसलिए है क्योंकि जब तक

तुम अपनी बुद्धि का स्वयं प्रयोग नहीं

करोगे तुम कुछ भी कार्य नहीं कर सकते

दूसरों के भरोसे बैठकर अपने कीमती समय को

बर्बाद मत करो यह समय बार-बार नहीं आता

जिस व्यक्ति के पास ज्ञान का भंडार होता

है वह कभी भी घमंड नहीं करता क्योंकि ऐसा

व्यक्ति समझ जाता है कि वास्तविकता में

जीवन क्या है परंतु जिन लोगों के पास

ज्ञान की कमी है वह सदा ही सोचते हैं कि

हमसे बड़ा संसार में कोई नहीं है किंतु यह

उनकी अज्ञानता की पहली पहचान है इसलिए

मेरे बच्चों तुम्हें भी अपने जीवन में

सबसे पहले ज्ञान को इकट्ठा करना है यदि

तुम्हारे पास ज्ञान होगा तो तुम किसी भी

कार्य को सरलता से कर सकते हो और बिना

ज्ञान के अभाव में तुम कार्य करना तो दूर

अपने रहना भी उचित प्रकार से नहीं कर सकते

अब मैं तुम्हें जो बात बता रही हूं उसे

ध्यान से सुनना सबसे पहले तुम्हें अब सभी

कार्य को करना बंद करना होगा और केवल उस

कार्य को चुनो जिस कार्य में तुम्हें रुचि

है और उसी कार्य में अपनी नई शुरुआत करो

यदि तुम एक कार्य में महारत हासिल कर लोगे

तुम्हें किसी के आगे झुकने की आवश्यकता

नहीं है बल्कि तुम अपने खुद के दम पर बड़े

से बड़े कार्य को तुम आसानी से कर

पाओगे मेरे बच्चे अब से तुम जो सोचोगे वह

होगा जैसा तुम चाहोगे वैसा वैसा होने

लगेगा तुम्हारी उम्मीद से बढ़कर अब

तुम्हें वह मिलेगा बस बहुत कर लिया तुमने

अपने आप को खाली तुम्हारे दुखी होने के

दिन गए अब से तुम्हें बस मुस्कुराना

है और अभी जब तुम संदेश को पढ़ रहे हो तो

तुम्हारे चेहरे पर एक सुंदर सी मुस्कान तो

होनी ही चाहिए क्योंकि मुस्कान ही तुम

पहचान है और तुम्हारी खूबसूरती भी तो क्या

तुम अब तैयार हो अपनी काया को पलटने के

लिए यदि तुम अपनी इच्छा के बारे में पूरे

दिन सोचते रहते हो और ऐसा तुम्हारे मन में

ख्याल आता है कि जितनी बार अपनी इच्छा के

बारे में सोच लूंगा तो इतनी जल्दी मुझे

मेरी चीज मिल जाएगी या तो तुम ऐसा सोचते

हो कि यदि पूरे दिन मेरे दिमाग में मेरी

इच्छा घूमती रहेगी तो मैं इसे कैसे हासिल

कर पाऊं

यदि यही सवाल तुम्हारे अंदर भी बार-बार आ

रहा है तो आज सुबह कुछ ऐसा मालूम होगा जो

पहले कभी भी देखा ना होगा और ना ही सुना

होगा और ऐसा करने से तुम अपनी इच्छा बहुत

जल्दी आकर्षित करोगे जो काम आपके इतने दिन

पहले पूरे नहीं हुए वह अब पूरे होने वाले

हैं सबसे पहले तुम्हें समझना पड़ेगा

तुम्हें अपनी ऊर्जा को संतुलन में करके

अपनी चीजों को आकर्षित करना

है यदि तुम इसके बारे में बार-बार सोच रहे

हो तो तुम्हें सबसे पहले एक बात को गांठ

बांध लेना है और वह बात हर चीजों पर लागू

होती है चाहे अपने रिश्ते को अच्छा करना

हो चाहे पैसे को आकर्षित करना हो चाहे कुछ

खास आकर्षित करना चाहते हो या अपनी नौकरी

को आकर्षित करना चाहते हो तुम्हें सबसे

पहले इस बात को समझना है कि वह चीज जिसे

तुम चाहते हो तो तुम्हें समझना है वही

चीजें तुम्हें भ रही हैं वह इंसान जिसे

तुम याद कर रहे

हो अब तुम अकेले नहीं रहोगे मेरे बच्चों

आज मैं तुमसे कुछ कहने आई हूं जब भी ऐसा

लगे कि अब सब कुछ खत्म हो गया है अब कोई

भी विकल्प नहीं बचा है तो हमेशा एक बात

याद रखना कि यह वही पल है जहां से

तुम्हारी जिंदगी नई मोड़ लेने वाली है यह

सोचकर कि शायद रास्ता और भी लंबा है मंजिल

अभी और दूरी पर है परंतु मैं जानती हूं कि

तुम अच्छे इंसान हो तुम्हें रोना आता है

तो तुम खुद सहारा देते हो और जब तुम बहुत

ज्यादा खुश होते हो तब तुम अपने साथ अपनी

खुशियां मनाते हो जब तुम थक जाते हो तो

खुद को समझाते हो और जब तुम्हारा मन दुखी

हो जाता है तब खुद को संतुलित करते हो यह

तुम्हारे अंदर का ईश्वर है हर मनुष्य के

अंदर ईश्वर का वास होता है चाहे मनुष्य

अच्छा कर्म करें चाहे बुरा कर्म करें उसके

अंदर की आत्मा ईश्वर से कहीं ना कहीं

संपर्क में होती है मेरे बच्चे तुम्हारे

अंदर भी ईश्वर है और तुम खुद को अपना ही

मित्र बना बैठे हो और यह एक बहुत बड़ा

संकेत है एक बहुत बड़ी पहचान है कि

तुम्हारे अपने जीवन में अपार सफलता मिलेगी

मेरे बच्चों तुम इतने आगे जाओगे कि तुम

स्वयं नहीं समझ पाओगे कि चलते चलते मैं

अपने जीवन में कहां से कहां पहुंच गया हूं

कहां था और कहां आ गया आज मैं कितना खुश

हूं तुम समझोगे कि जब मेरा जन्म हुआ था तो

मेरे दोनों हाथ खाली थे मैं तुम्हें बताना

चाहती हूं कि मैं जानती हूं कि इस जीवन

में तुमने कभी किसी के साथ बुरे कर्म नहीं

किए तथा ना ही तुमने किसी का दिल दुखाया

परंतु यह करनी पिछले जन्मों के कर्मों की

मिल रही है तुम जो कर्म करते हो उसका फल

ना केवल इस जन्म में बल्कि अपने अगले जन्म

में भी तुम्हें भोगना पड़ता है इसलिए आज

का संदेश तुम्हारे लिए बेहद महत्त्वपूर्ण

है तैयार हो जाओ अपने जीवन की का पलट के

लिए मेरे बच्चे तुम्हारा जीवन बदलने वाला

है इसका मतलब यह नहीं है कि तुम्हें और

कठिनाइयों का सामना करना पड़े तुम्हारे

जीवन में अपार दुख होने के कारण बहुत थक

चुके हो और बहुत ज्यादा खुद को भीतर से

कमजोर महसूस कर रहे हो इन कारणों से अपनी

आत्मशक्ति से भी दूर हो गए हो जिसके चलते

तुम्हारा मन पूरी तरह से टूट चुका है

तुम्हारी मां जाना चाहती हैं मैं केवल यह

संदेश तुम्हें इसलिए देने आई हूं क्योंकि

तुम मेरे भक्त हो और यदि तुम मुझे सुन रहे

हो तो यह इस बात का प्रमाण है कि तुम एक

अच्छे और सच्चे इंसान हो क्योंकि जो इस

वक्त मेरा संदेश अंत तक सुन पाया है वही

अपने जीवन को पूर्ण रूप से बदलना चाहते

हैं और तुम उन्हीं में से एक हो मेरे

बच्चे मेरा आशीर्वाद सदा तुम्हारे साथ है

तुम्हारा दिन मंगलमय हो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *