मां काली संदेश गां पार्वती बहुत क्रोधित, है उस औरत पर जो एक समयमें आपका बुरा चाहती थी - Kabrau Mogal Dham

मां काली संदेश गां पार्वती बहुत क्रोधित, है उस औरत पर जो एक समयमें आपका बुरा चाहती थी

मेरे बच्चे मैंने तुम्हारे पास और

तुम्हारे परिवार के लिए एक दिव्य शक्ति

भेज दी है तो आज के इस संदेश में जान लो

तो अब से तुम्हारी सारी समस्या खत्म हो

जाएगी यह दिव्य शक्ति तुम्हें हर कष्ट से

बनाने की शक्ति रखता

है इसे साधारण शक्ति समझ ने की भूल मत

करना वरना बहुत बड़ी मुश्किल हो

जाएगा मेरे बच्चे इसे स्वीकार करने के लिए

इसे अभी लायक कर दीजिए और जय माता रानी

लिख दीजिए मेरे बच्चे वह व्यक्ति तुमसे

बहुत कुछ छुपा रहा है जिससे तुमने एक वक्त

पर बहुत प्रेम किया

था वह तुमसे अपनी मर्जी से अलग नहीं हुआ

है उसके मन में आज भी तुम्हारे लिए बहुत

प्रेम है बहुत मान सम्मान है तुम्हारी

उसके दिल

में पर कुछ गलतियां की हैं उसने जिससे वह

बदल नहीं सकता है और यह बात उसे भी पता है

कि वह पूरी तरीके से आज भी तुम्हारा नहीं

हो सकता

है जब तुम उसके साथ थे तो उसने तुम्हें

धोखा

दिया तुम्हारे पीठ पीछे बहुत बार किया

उसने जो वह तुम्हें चाहकर भी नहीं बता

सकता मेरे बच्चे क्योंकि उसे ऐसा लगता है

कि तुम मुझसे अलग हो यह तो वह बर्दाश्त कर

सकता है लेकिन जब तुम्हें उसकी सारी

सच्चाई पता चल

जाएगी तो वह तुम्हारे दिल में अपने लिए

नफरत बर्दाश्त नहीं कर

पाएगा इसलिए वह आज भी छुप छुप कर रोता है

और वह बहुत ज्यादा रो रहा

है यह सोचकर कि उसने एक वक्त पर तुम्हें

रुलाया

था उसने तुम्हारा हाथ छोटा किसी तीसरे का

हाथ थाम लिया था तुम्हारे पीठ पीछे वह

किसी और से मिलने जाता था मेरे

बच्चे और यह सारी बातें उसे भीतर ही भीतर

खाए जा रही

हैं अब वह अपने दिल की बातें बताकर वह

सारी अतीत की बातें उखाड़कर तुम्हें तकलीफ

नहीं देना चाहता है वह रो रहा है तो उसे

यह बहुत अच्छे से पता

है वह अपने कर्मों की वजह से रो रहा

है मेरे बच्चे अगर तुम मुझे अपनी माता

मानते हो तो हां लिखकर इस संदेश को लाइक

करके चैनल को सब्सक्राइब करना और साथ ही

साथ मेरा भाग्यशाली अंक

एक आ रहे लिखकर मुझे अपनी स्वीकृति प्रदान

करा

देना वह उन बातों का दोष तुम्हें नहीं

देना चाहता

है तुम्हें परेशान नहीं करना चाहता

है अपनी भावनाओं तुम्हारे सामने व्यक्त

नहीं करना चाहता

है वह उसके जीवन में एक अंधेरा आ गया है

मेरे बच्चे और वह हर पल बस एक सूर्य की

किरण का इंतजार कर रहा

है उसके दिल में तो कोई और नहीं है पर

उसके जीवन में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो

उसकी परिस्थितियों को कंट्रोल करते

हैं जिनके मन मुताबिक चल रहा है वह और

उसने हमेशा उन लोगों के मन मु मुताबिक ही

निर्णय लिया है और इसीलिए वह रोया है अंत

में क्योंकि उन लोगों के कहने पर ही उसने

तुम्हारा हाथ छोड़ दिया था किसी और का हाथ

थामा था तुम्हारे रहते हुए उसने किसी और

का हाथ थाम लिया

था मेरे बच्चे और वह व्यक्ति आज भी उसके

जीवन में है पर वह उस व्यक्ति से प्रेम

नहीं करता है इसीलिए उसका दम घुट रहा

है पर वो तुम्हारे सामने क्या मुंह लेकर

आएगा उसके इतने अच्छे कर्म भी तो नहीं है

कि वह तुम्हारा सामना कर

सके उसने कुछ ऐसा किया है कि तुम्हें उसे

माफ करना चाहिए पर कहीं ना कहीं वह

तुम्हें भी दोष देता है

उसे ऐसा लगता है कि तुमने उससे बहुत प्यार

किया बहुत प्रेम दिया उसे इस पूरे संसार

का प्रेम दिया लेकिन तुमने उसे समझा नहीं

मेरे

बच्चे तुमने उसे गलत समझा इसलिए उसे किसी

तीसरे का हाथ थामना

पड़ा प्रेम यह तो नहीं होता है तुमने तो

कभी किसी और का हाथ नहीं थामा तुमने तो

क्रोध में आकर कभी किसी और से प्रेम नहीं

किया तो वह गलती सिर्फ उसी ने क्यों

की और एक बार नहीं बार-बार और बार-बार की

हुई गलती गलती नहीं होती है मेरे

बच्चे यह अपराध होता है

यह निर्णय होता है जो उसने सोच समझ कर

लिया था तो अब पछताने और रोने के अलावा

उसके पास कोई और रास्ता बचा भी नहीं है

क्योंकि तुमने उसका हाथ छोड़ दिया है उसका

साथ छोड़ दिया है और अब तुम्हें कोई

उम्मीद नहीं है है उससे ना तुम चाहते हो

कि वह तुम्हारे जीवन में वा वास आए तुमने

तो बहुत सारे सपने देख रखे थे और तुम कहीं

भी जाते

थे तो तुम सिर्फ उस व्यक्ति के बारे में

सोचते थे पर उसने तुमसे हमेशा झूठ बोला

तुमसे हमेशा चीजें

छुपाई जब तुम्हारे सामने कुछ बातें आई तो

तुम्हें समझाने की जगह तुम्हें सच बता ने

की जगह वह तुम पर ही आरोप लगाने

लगा तुम पर ही चिल्लाने लगा तो आज किस बात

का अफसोस हो रहा है उसे और आज क्यों तुम

उसके आंसू पूछने

जाओगे क्या वह आया

था वह तो किसी और का हाथ पकड़कर चला गया

था मेरे बच्चे तो अब उसे किस बात का अफसोस

है और अब उसे जाकर यह एहसास क्यों हो रहा

है कि वह तुम्हारे अलावा किसी और से कभी

प्रेम नहीं कर

पाएगा जो प्रेम वह तुमसे करता है जो जगह

तुम्हारे उसके दिल में है वह कभी कोई नहीं

भर

पाएगा वह जगह उसके दिल में हमेशा खाली

रहेंगी उसके मन में बहुत बोझ है मेरे

बच्चे और वह सब कुछ छोड़ छाड़ कर बस

तुम्हारे साथ रहना चाहता

है तुम्हारे साथ एक घर बसाना चाहता है पर

वह अभी इसीलिए नहीं आ रहा तुम्हारे सामने

क्योंकि उसको ऐसा लग रहा है कि तुमसे बात

करने पर लड़ाई झगड़ा ही

होगा तुम दोनों के बीच की दूरियां और बाट

जाएंगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *