मां काली तुम्हारी प्रतीक्षा की घड़ी खत्म उसके खुश रहने की घड़ी खत्म - Kabrau Mogal Dham

मां काली तुम्हारी प्रतीक्षा की घड़ी खत्म उसके खुश रहने की घड़ी खत्म

मेरे बच्चे आज का यह संदेश आपके लिए

महत्त्वपूर्ण होने वाला है इसे अनदेखा

करने की भूल मत करो संदेश को अंत तक देखो

मेरे बच्चे एक लाइक करके मां काली की कृपा

प्राप्त करें मेरे बच्चे आप बिल्कुल सही

दिशा में आगे बढ़ रहे हो कुछ उलझने हैं जो

मां काली दूर करने आई है मेरे बच्चे आपने

बहुत प्रतीक्षा की

थोड़ी और घबराओ मत आप सही दिशा में आगे

बढ़ रहे हो तुम्हारी मंजिल तुम्हारी

प्रतीक्षा कर रही है तुम्हारी पुकार मुझसे

छुपी नहीं है तुम्हारी भावनाएं मेरे बच्चे

मुझसे छुपी नहीं है तुम व्याकुल हो कि

माता मैंने जो मांगा था वह अब तक मुझे

मिला क्यों नहीं है और कितना इंतजार करूं

और कितनी प्रतीक्षा करूं मेरे बच्चे

तुम्हे अवश्य मिलेगा मेरे बच्चे मैं

तुम्हारी प्रार्थना सुन रही हूं तुम्हारी

एक एक बात सुन रही हूं तुम इतने व्याकुल

क्यों हो जो तुम्हारे मेरे बच्चे भाग्य

में लिखा है जो तुम अपनी मेहनत और कर्म से

प्राप्त करोगे मेरे बच्चे इस संसार में सब

निर्धारित समय पर होता है और वह तुमसे कोई

नहीं छीन सकता मैं तुम्हें भी सब दूंगी

मेरे बच्चे तुम जो सप देख रहे हो वो यह

पूरी दुनिया देख रही है पर सपने उसी के सच

होते हैं मेरे बच्चे जो धैर्य रखता

है जो विपरीत परिस्थिति में भी अपने सपनों

को जिंदा रखता है मेरे बच्चे तुम जिस

साम्राज्य के राजा बनना चाहते हो हां मेरे

बच्चे उसके योग्य तुम्हें बनना होगा

तुम्हारे योग्य बनते ही तुम अपने सपनों के

राजा बन जाओगे मेरे बच्चे

अपने सपनों के राजा बन जाओगे अपने सपनों

का महल खड़ा कर लोगे तुम में धैर्य और

साहस तो है पर तुम भविष्य की चिंताओं में

घिरे रहते हो तुम मुस्कुराना भूल गए हो

मेरे बच्चे तुम्हारी हंसी छूटी है अपने

दिल से हंसना सीखो मेरे बच्चे तुम अपनी

सफलता के बहुत करीब हो पर अब तुम्हारा मन

मेरे बच्चे भटकने लगा है धैर्य हार रहे हो

थक कर रुक गए हो ऐसे तो मेरे बच्चे तुम वह

कभी प्राप्त नहीं कर पाओगे जो तुम चाहते

हो तुम्हारा मन भटक रहा है अब हट रहा है

मेरे बच्चे एक ही दिशा में प्रयास करो ऐसे

तो मेरे बच्चे तुम नहीं पहुंच पाओगे तो

तुम तुम्हारा साथ अवश्य दूंगी मेरे बच्चे

तुम सोच रहे हो कि कोई चमत्कार हो जाए

मेरे बच्चे चमत्कार तुम्हारे प्रयासों से

ही होगा जितनी बड़ी चीज तुम मांगोगे उतना

ही अधिक प्रयास तुम्हें करना होगा मेरे

बच्चे कहां सोच में पड़ गए हां मेरे बच्चे

मैं तो तुम्हारा मार्गदर्शन करती रहूंगी

तुम मुझे याद करोगे जब भी और जब तुम मेरा

स्मरण करोगे तब भी मैं तुम्हारे साथ खड़ी

रहूंगी मेरे बच्चे हां मेरे बच्चे जब तुम

मुझे नहीं भी याद करोगे तब भी मैं

तुम्हारे साथ खड़ी रहूंगी मेरे बच्चे तुम

अपने परिवार के बारे में सोचते हो उनको

खुश रखने का हर संभव प्रयास करते हो फिर

भी मेरे

बच्चे तुम नहीं चाहते कि उनके जीवन में

कोई कष्ट आए वह कभी दुखी रहे फिर भी आपके

परिवार के सदस्य आपको मेरे बच्चे गलत

समझते हैं आपके सही कार्य में भी आपका

उतना सहयोग नहीं करते जितना उन्हें करना

चाहिए मेरे बच्चे मैं समझती हूं कुछ लोग

हैं जो आपके कार्य का मजाक उड़ाते हैं कि

इससे नहीं होगा यह कुछ भी नहीं कर पाएगा

केवल टाइम पास कर रहा है इसके बस के कुछ

नहीं यह जो काम भी करता है सीखता है केवल

दिखावा करता है इसमें दम नहीं अपने सपनों

को पूरा करने का मेरे बच्चे अगर तुम एक

बार सफल हो गए तो उन को उल्टा कहने वालों

के आपको कुछ ना समझने वालों के मुंह बंद

हो जाएंगे उनके भी मुख से आपकी प्रशंसा के

फूल झड़ मेरे बच्चे तुम्हारे सपने बहुत

बड़े हैं तुम्हारी मंजिल की राह में कांटे

मेरे बच्चे तुम्हारी मंजिल की राह में

कांटे ठोकरी निराशा भटकाव भी है और तुम जब

अपनी मंजिल के करीब पहुंचो तो तुम्हारी

सारी पीड़ा गायब हो जाएगी

असीम सुख की प्राप्ति होगी मेरे बच्चे तुम

मेरी भक्ति करते हो इसमें कोई संदेह नहीं

किंतु जब तुम विचलित हो जाते हो टूटने

लगते हो मेरे

बच्चे कि कोई चमत्कार हो जाए तुम चाहते हो

कि कोई चमत्कार हो जाए चमत्कार होंगे पर

तुम्हारे ही माध्यम से मेरे बच्चे

तुम्हारी भक्ति सच्ची है मेरे बच्चे इसमें

कोई संदेह नहीं पर दिल से हंसना सीखो

तुम्हारी खुशी तुम्हारी राह को आसान कर

देगी मेरे बच्चे तुम्हारे शत्रु खुद को

बहुत चालाक समझते हैं मैंने उन्हें कई बार

रोका कि वह तुम्हें तंग ना करें तुम्हारे

जीवन की उलझने ना बढ़ाए इसलिए मेरे बच्चे

मैंने उसे बहुत बार रोका संकेत दिए उनके

जीवन में रुकावट भी पैदा की वो बीमार हुए

उनकी चोट भी लगी औरों से उनका विवाद भी

हुआ फिर भी वह मेरे बच्चे नहीं माना नहीं

रुके ऐसे हैं तुम्हारे शत्रु अपनी हरकतों

से बाज नहीं आते मेरे बच्चे आज का यह

संदेश आपको सारी सुख सुविधाए देने वाला है

इसलिए इसे बीच में छोड़कर जाने की भूल मत

करना मेरे बच्चे वह खुद को बहुत शक्तिशाली

समझता है वह दुष्ट ना ही अपनों से डरता है

ना ही भगवान से अपने आप को अहंकार में

अंधा घोर पापी भगवान से बस पाप पर पाप

भगवान से नहीं डरता है और पाप पर पाप किया

जा रहा है मैंने उसे अवसर भी दिए कि वह

सुधर जाए अपने कर्मों का अवलोकन करें पर

वह मूर्ख अहंकार वर्ष अंधेरे में ही रह

गया किंतु उसके पापों का घड़ा अब भर चुका

है मेरे बच्चे अब उसके पापों का घड़ा

फूटने को है व तुम्हारे विरुद्ध षडयंत्र

करता रहा तुम्हारे विरुद्ध गैंग बनाता रहा

मेरे बच्चे उसे लगता है उसके इस बुरे

कर्मों को कोई नहीं देख रहा मेरे बच्चे

उसे नहीं ज्ञात सरल मनुष्य से किया हुआ छल

उसे कितना भारी पड़ने वाला है उसे भूल से

भी माफी नहीं मिलेगी जो आंसू उसने तुम्हें

दिए हैं अब एक एक आंसू का हिसाब देना होगा

हम बच्चे उसे अब एक एक आंसू का हिसाब देना

होगा अपने अहंकार में चूर उसे कुछ दिखाई

नहीं दे रहा कुछ सुनाई नहीं दे रहा उसे

लोगों को कष्ट देने में मेरे बच्चे उसे

लोगों को कष्ट देने की मजा आता है अब दण

भोगे का अपने कर्मों का तब उसे ज्ञात होगा

अति किसी भी चीज की अच्छी नहीं होती मेरे

बच्चे अब उसके खुश रहने के दिन खत्म होने

वाले हैं उसके सा धमाका होने वाला है कुछ

ऐसा होने वाला है जो उसने कभी कल्पना भी

नहीं की होगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *