मां काली तुम्हारी जीत की तारीख आ गई है आज तुम्हारे आंखों से आंसू बह जाएंगे ⏳।। - Kabrau Mogal Dham

मां काली तुम्हारी जीत की तारीख आ गई है आज तुम्हारे आंखों से आंसू बह जाएंगे ⏳।।

मेरे बच्चे सावधान हो जाओ अभी भी समय है

अपने रिश्ते को टूटने को बचा लो मेरे

बच्चे रिश्ता केवल तीन ही कारणों से टूटता

है आज मैं तुम्हें बताऊंगी और पूर्ण रूप

से ज्ञात

कराऊंगा रिश्ते तुम्हारे माता-पिता के

तुम्हारे साथ तुम्हारी पत्नी के साथ और

तुम्हारे दोस्तों के साथ तुम्हारे

रिश्ते इसके साथ ही वह रिश्ते एक इंसानियत

के नाते इंसान के इंसान से होते हैं और

तुम्हारे करीबी रिश्तेदारों से भी

तुम्हारे अच्छे रिश्ते जिन तीन कारणों की

वजह से खराब हो जाते हैं इसलिए तुम यह तीन

गलतियां भूलकर भी मत

करना मेरे बच्चे एक बात स्मरण रखना कि

पैसे कमाना बहुत आसान है लेकिन रिश्ते को

बनाना और उसे निभाकर चलना बहुत ही कठिन है

उसके लिए जीवन में तुम्हें जो सबसे कठिन

लगता

है ध्यान रखना वही तुम्हारे लिए अच्छा

होता

है सरल चीजें तो कोई भी कर सकता है अगर

कठिन करना है तो उसी में कोई बात है ध्यान

रखो कि किसी इमारत को बनाने में सालों लग

जाते हैं लेकिन वही किसी इमारत को गिराने

में एक छड़ भी नहीं

लगता इसी प्रकार रिश्ते को बनाने में

सदियां गुजर जाती हैं और बिगाड़ने में एक

पल भी नहीं लगता मेरे बच्चे ध्यान रखो

रिश्ता चाहे कोई भी हो पति-पत्नी का हो या

भाई बहन का हो या फिर माता-पिता

का किसी भी रिश्ते में आपस में यदि तुम

झूठ बोलते हो तो यह रिश्ते निश्चित ही

बिगड़ जाएंगे क्योंकि विश्वास को बनाने

में बहुत समय लगता है और एक झूठ इसी

विश्वास को आसानी से तोड़ देता

है इसलिए अपने रिश्ते को बिल्कुल साफ पानी

की तरह रखो साफ पानी में जो भी चीज डालोगे

तो साफ दिखाई देती है रिश्ते को आईने की

तरह रखो इसमें तुम अपना चेहरा देख सकते हो

दूसरा कारण जिससे कुछ ऐसे होते हैं जो

अपने माता-पिता और पत्नी का पति और पति का

पत्नी से या अपने बच्चों से किसी बात को

छुपाना रिश्ते का टूटने का कारण होता है

क्योंकि यह रिश्ते ऐसे हैं इनसे कभी भी

कोई बात छुपानी नहीं चाहिए तीसरा और सबसे

मुख्य कारण रिश्ता चाहे भाई बहन का हो

पति-पत्नी का या बच्चों का अपने माता-पिता

से अपने दोस्तों से रिश्ते में आपस में

प्रेम होना बहुत जरूरी है किसी भी रिश्ते

में जब कड़वापन उत्पन्न होता है और प्रेम

कम होने लगता है तो वह रिश्ता धीरे-धीरे

कमजोर पड़ने लगता है और टूट जाता है इसलिए

बातों को स्पष्ट करें और जो भी मन में

किसी भी बात को लेकर उलझन हो तो आपस में

सलाह अवश्य लेनी

चाहिए ध्यान रखो मेरे बच्चे जब किसी भी

रिश्ते में झूठ बोलना किसी बात को छुपाना

प्रारंभ होता है तो निश्चित है कि आप उस

बात को छुपाते छुपाते अपने हृदय में

कड़वापन भर लेते हैं और कड़वापन को भरने

के चलते अपना प्रेम खो बैठते हैं और इसके

साथ ही फरिश्तों की अहमियत कम होने लगती

है जिस रिश्ते में और रिश्ता टूटने की

कगार पर जाता है इसलिए तुमको रिश्ते को

संभाल कर रखने के लिए इनमें से कोई गलती

नहीं करनी

है रिश्ते में जितनी ज्यादा बातों को

छुपाने की कोशिश करोगे मेरे बच्चे क्योंकि

जीवन में खुशियां बहुत जरूरी होती हैं हर

चीज में जरूरी खुशी महत्व रखती है क्योंकि

मेरे बच्चे कम पैसों में भी खुश रहा जा

सकता

है कम चीजों के साथ ही खुश रहा जा सकता है

पर रिश्तों के बिना खुश नहीं रहा जा सकता

इसलिए रिश्ते को टूटने से बचाओ तभी तुमको

सभी खुशियां मिलेंगी परंतु तुम अभी भी

उन्हीं उलझनों में फंसे हुए हो और आगे

नहीं जा रहे हो मेरे बच्चे संसार में तुम

मेरी सबसे श्रेष्ठ रचना हो मेरे बच्चे

स्वयं का प्रेम बर्बाद मत करो तुम्हें

निरंतर प्रयास करना होगा तभी तुम्हारे

जीवन में परिवर्तन आएगा और प्रेम ऊर्जा से

तुम्हारे आने वाला समय भरा होगा मेरे

बच्चे तुम्हें विचार करना

चाहिए मैं तुम्हें उन्नति के मार्ग पर

चलाना चाहती हूं जहां तुम्हारी मंजिल

तुम्हारा इंतजार कर रही है और मेरा प्रेम

ही तुम्हारे बारे में चिंता करने वाला

प्रेम ही

है और इसी कारण से ही मुझे नाराजगी होती

है मेरे बच्चे तु कोशिश नहीं कर रहे हो

तुम व्यर्थ की चिंता में अपना कीमती प्रेम

को गुजार रहे हो मेरे बच्चे मैं तुम्हारे

प्रेम से बंधी हूं इसलिए तुम्हारा

मार्गदर्शन कराना मेरा कर्तव्य है और

तुम्हारी सभी समस्याओं से मुक्ति दिलाना

धर्म है

मेरा इसलिए अपनी मां पर भरोसा रखो और मेरी

बताई हुई बातों को अपने जीवन में उतार लो

सदा खुश रहो मेरे बच्चे मेरे अगले संदेश

की प्रतीक्षा करना मैं फिर आऊंगी तुमसे

मिलने जय मां काली ओम नमः

शिवाय मेरे बच्चे मैं मां महागौरी

आपको अपना आशीर्वाद देने आई

हूं अगर आप सब मुझे प्रसन्न करना चाहते

हैं तो पूजा के समय पांच तरह के मिष्ठान

चढ़ाएं और जो मिष्ठान आप मुझे भोग लगा रहे

हैं उस मिष्ठान को कुवारी कन्याओं में

प्रसाद के रूप में बांट

देना मेरी कृपा से आपकी आय में आने वाली

बाधा को दूर कर दूंगी और तुम्हारी मेहनत

और योग्यता के अनुसार धन अर्जित करने में

तुम सफल हो जाओगे अगर सच्चे मन से आप मेरी

पूजा करते हो तो मैं कभी आपको निराश नहीं

करती मैं अपने बच्चों का सदैव ध्यान रखती

हूं मेरे बच्चे तुमसे कुछ बहुत जरूरी बात

करने आई हूं इसलिए मेरे संदेश को अनदेखा

करने की

भूल मत करना मेरे बच्चे और जो बता रही हूं

उसको ध्यान पूर्वक

सुनकर समझना बहुत जरूरी है

क्योंकि जो बात करने आई हूं मैं वह

बात बहुत ही आवश्यक है

और तुम्हें जानना बहुत जरूरी है

क्योंकि तुम्हारे करीब एक

ऐसा समय आने वाला

है यदि तुम एक छोटा सा कार्य

भी कर लेते हो वह कई गुना

फल तुम्हें देकर जाता है और ऐसा

ही शुभ समय तुम्हारे निकट शीघ्र

ही आने वाला है मेरे बच्चे

इसलिए उस शुभ समय के उन छड़ों को

तुम खा मत जाने देना जो बता रही

हूं केवल ध्यान देना बाकी

सब मुझ पर छोड़ दो मैं तुम्हारी प्रार्थना

को स्वीकार कर तुम्हें जो

चाहिए वह तुम्हें दूंगी तुम जब व्रत

को खोलने से पहले जिस दिन

कन्याओं को भोजन कराओ ग उस सम

विशेष ध्यान रखना इस कार्य

को तुम प्रातः काल ही संपन्न करने

के पश्चात उनके मुख से निकली

हुई बातों को पूरा करना यदि वह

तुमसे कुछ इच्छा जाहिर करती है तो

तुम उसे अवश्य पूरा करना उ

अधूरा मत रहने देना क्योंकि छोटी

कन्या तुमसे कुछ बहुत बड़ी इच्छा

जाहिर नहीं करेंगी छोटी कन्याओं

की इच्छा को पूरा करते ही तुम्हारी

कोई भी एक इच्छा जो अधूरी

हो वह पूर्ण हो जाएगी क्योंकि इस समय मैं

तुम्हारे घर में प्रवेश

करूंगी वह मेरा ही रूप लेकर प्रवेश करेंगी

और उनके द्वारा प्राप्त किया गया आशीर्वाद

तुम्हें

मिलेगा और जीवन में जो चाहिए वह दिलाने

की शक्ति रखेगा यदि तुमने

उनको खुश कर दिया

तो तुमने

मुझे खुश कर दिया और मैं खुश हो गई

तो जीवन में तुम्हें कुछ मांगने

की आवश्यकता ही नहीं पड़ेगी सब कुछ बिन

मांगे ही मिल

जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *