मां काली आपसे कोई महिला शत्रु बहुत रो रही है ये महिला जल भुन के भस्म हो रही है - Kabrau Mogal Dham

मां काली आपसे कोई महिला शत्रु बहुत रो रही है ये महिला जल भुन के भस्म हो रही है

मेरे प्यारे बच्चे तुम्हें रचने वाला

तुम्हें लिखने वाला और तुम्हारी प्रत्येक

स्वास में प्राण बनकर तुम्हारी रक्त

कोशिकाओं में बहने वाला मैं ही हूं मेरे

बच्चे बहुत जल्द तुम्हारे जीवन में सुखद

बदलाव होने वाला है तुम उस स्तर तक पहुंच

जाओगे जहां पहुंचने के लिए लोग पूरा जीवन

व्यतीत कर देते हैं फिर भी उस स्थान को

नहीं पाते तुमसे जुड़े लोग स्वयं को

भाग्यशाली समझेंगे क्योंकि तुम्हारे आसपास

रहने वाले लोगों को तुम्हारी पवित्र ऊर्जा

से लाभ होना प्रारंभ हो जाएगा मेरे बच्चे

मुझे मानते हो तो लाइक करके दावा करो मेरे

बच्चे मैं स्पष्ट रूप से देख रही हूं कि

तुम कई बार भयभीत हो जाते हो निराश होकर

हिम्मत हार बैठे हो विपरीत परिस्थितियों

में मन में संदेह उत्पन्न होता है किंतु

मेरे बच्चे एक एक प्रश्न का उत्तर दो जब

तुम कोई पुस्तक पढ़ते हो तो क्या उसके कुछ

पन्ने पढ़कर ही लेखक पर प्रश्न चिन्ह लगा

देते हो मेरे बच्चे कोई भी व्यक्ति जब

किसी पुस्तक को पूर्ण रूप से पढ़ नहीं

लेता तब तक उसके लेखक पर प्रश्न चिन्ह

नहीं उठा सकता ठीक इसी प्रकार संपूर्ण को

लिखने वाले निराकार की लेखनी पर तुम संदेह

कैसे कर सकते हो क्या अनंत चेतना निराकार

निर्गुण सर्वव्यापी के लिखने में कोई

त्रुटि पाई जा सकती है कदापि नहीं मेरे

बच्चे इसलिए अपने मन में उठने वाले

प्रश्नों को बहते हुए जल में बह जाने दो

और अपने जीवन में होने जा रहे अत्यंत शुभ

लाभ के लिए खुद को तैयार करो तैयार हो तो

अपना नाम लिखकर दावा करो मेरे बच्चे जो

होगा वह अच्छा ही होगा जो तुम चाहते हो वह

तुम रे बहुत निकट है बस तुम्हारे हाथ

बढ़ाने की देरी है वह तुम्हारे हाथ में ही

होगा मेरे बच्चे तुम्हारी आकर्षक शक्ति

इतनी बढ़ चुकी है कि तुम जो सोचते हो उसे

आकर्षित कर लेते हो तुम इसी क्षण अपनी

इच्छाओं को आकर्षित कर रहे हो तुम्हारी

आध्यात्मिक जिज्ञासा बढ़ती जा रही है

तुम्हारे सामने स्वयं आध्यात्मिक रहस्य

उजागर हो रहे हैं तुम वह देख रहे हो जो

दूसरों के लिए अदृश्य है यह तुम्हारी

निष्ठा पवित्रता और विश्वास का बोया हुआ

वृक्ष है जो तुम्हें सांसारिक और

आध्यात्मिक दोनों ही फल देने जा रही है

मेरे बच्चे यदि मुझ पर विश्वास है तो आओ

यह संकल्प अपने हृदय से आत्मसात करो मेरे

पास सब कुछ है मैं भाग्यशाली हूं मेरे साथ

सब कुछ अच्छा होगा तब देखना तुम्हारे साथ

क्या चमत्कार होता है इस पर दावा करने के

लिए तीन बार आठ टाइप करें मेरे बच्चे मैं

जानती हूं कि तुम्हारे साथ बहुत ही बुरा

हुआ है पर अब तुम्हारा बुरा समय समाप्त हो

चुका है मेरी कृपा दृष्टि तुम पर पड़ चुकी

है मेरे प्रेम की कसौटी पर तुम खरे उतर

रहे हो अगले घंटों में दिखेगा भारी

बदलाव तुम्हारे जीवन में मेरे बच्चे जो

बातें आज मैं बताना चाहती हूं वह मैंने

तुम्हें कभी नहीं बताई इन बातों से तुम

सदैव से अनजान रहे हो इसलिए उन बातों का

जानना अत्यंत आवश्यक है यदि तुम उन बातों

को जान गए तो सदा तुम्हारे ऊपर मेरी कृपा

दृष्टि बनी रहेगी कई बार तुम्हारी कुछ ऐसी

बातें जिससे मुझे ना चाहते हुए भी क्रोध आ

जाता है और कई बार तुम्हारी कुछ ऐसी बातें

जो मुझे प्रसन्न कर देती हैं इस तरह कुछ

ऐसी ही बातें जिन्होंने मुझे प्रसन्न किया

है ऐसी कुछ बातें जो तुम्हें करना बाकी है

मेरे बच्चे जो कार्य करना बाकी है उसे

पूर्ण करने के लिए तैयार हो तो हां टाइप

करो जिससे कि अगले घंटे में ही

तुम्हारी जिंदगी में चमत्कारी रूप से बदल

जाएगी इसलिए मेरे बच्चे तुमको यह मौका

गवाना नहीं है सच तो यह है कि मैं स्वयं

नहीं चाहती कि तुम कभी भी दुखी रहो और ना

ही कभी चिंतित और ना ही भयभीत रहो बल्कि

मैं यह चाहती हूं कि मेरे सभी बच्चों को

सभी खुशियां प्राप्त हो मेरे बच्चे

परिस्थिति में सदैव बदलाव आता रहता है

परिस्थितियां कभी एक सी नहीं होती कभी

किस्मत के अनुसार तो कभी कर्मों के अनुसार

सदैव बदलती रहती है इस पर दावा करने के

लिए सब्सक्राइब करो मेरे बच्चे यदि किस्मत

के अनुसार तुम्हारी परिस्थिति में बदलाव

नहीं आ रहा है तो तुम कुछ ऐसे कार्य करो

उन कार्यों की वजह से तुम्हारी परिस्थिति

में निश्चित ही बदलाव आएगा और तुम्हारी

किस्मत में भी बदलाव शुरू हो जाएगा मेरे

बच्चे अब ध्यानपूर्वक सुनो मेरी बातों को

तुम बहुत बार कार्य को करते-करते थक जाते

हो और तुम्हें ऐसा लगता है कि तुम सफल

नहीं हो रहे हो इसी कारण तुम अपने

आत्मविश्वास को खो देते हो जिस शक्ति के

बलबूते पर तुम विजय प्राप्त कर सकते थे और

कई बार यही वजह होती है तुम्हारी नाकामी

की उसके पश्चात तुम चाहकर भी उस कार्य पर

अपना ध्यान नहीं एकत्रित कर पाते हो अपनी

पूरी शक्ति नहीं लगा पाते हो और वह कार्य

तुम्हारे किसी के बहकावे में आकर होते हैं

कई बार कोई अपना या तुम्हारे जीवन साथी को

यह कह देने कई बार कोई अपना या तुम्हारे

जीवन साथी को यह कह देने पर कि यह

तुम्हारे लिए संभव नहीं है यह तुमसे नहीं

हो पाएगा तुम्हारी नाकामी का यह भी एक

मुख्य कारण होता है इस पर विश्वास है तो

चार चार चार टाइप करें मेरे बच्चे लेकिन

अब आज से बल्कि अभी से तुमको ध्यान रखना

है यह नहीं करना है और कल सुबह तुमको

नहाने के पानी में थोड़ा गंगाजल डालकर

स्नान करना है एक लोहे की कटोरी में सरसों

का तेल लेकर उस कटोरी में डालकर उसमें एक

का सिक्का डालकर अपने दोनों हाथ से उस

कटोरी को अपने घर में थोड़ी देर के लिए

रखकर छोड़ देना है उसके पश्चात पूरे घर

में घूमना है फिर किसी पौधे में डालते समय

तुम्हें उस समय यह बोलना है मेरी सभी

परेशानियों तेल के रूप में इसी पौधे में

समाहित हो जाएं ऐसा बार बोलते हुए

तुम्हें करना है ऐसा बोलते ही तुम्हारी

सभी परेशानियां स्वतः मेरे पास आ जाएंगी

और कल सुबह से ही तुम्हें चमत्कार देखने

को मिलेंगे क्योंकि जिसके ऊपर मेरी कृपा

दृष्टि होती है उसको जीवन में किसी भी

परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता ना ही

किसी बीमारी का ना ही गरीबी का तुम्हारे

जीवन की पीड़ा स्वयं मेरे द्वारा शिव भोले

के पास चली जाती है साक्षात उनका हाथ मेरे

भक्तों पर होता है तो दिन दी रात चौगुनी

तरक्की होती है मन से दुख चिंताओं को

त्याग कर अपने मन को प्रफुल्लित करो खुश

हो जाओ क्योंकि तुम्हारी किस्मत समय पलटने

वाला है जीवन में अच्छे कर्मों का फल

तुम्हें अवश्य प्राप्त होगा क्योंकि

कर्मों का फल भले ही देर से प्राप्त हो

परंतु निश्चित है कि अच्छे कर्म अच्छे फल

लेकर आते हैं तुम्हारी सोची हुई हर कामना

पूरी होगी खुशियों की बारिश होगी तुम पर

अब से तुम्हारे जीवन में परिवर्तन प्रारंभ

होगा जो तुम इतना जीवन में बहुत ज्यादा

कठिनाइयों से गुजर रहे थे तो अब बहुत

ज्यादा खुशियां प्राप्त करने का समय आ

चुका है और तुम्हें ना तो कभी डरना है और

ना ही घबराना है मेरे बच्चे मैं स्वयं

तुम्हारे साथ हूं मेरा आशीर्वाद स

तुम्हारे साथ है मां आप सबका भला करें मां

का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए अपना नाम

टाइप करें मां से जुड़ने के लिए चैनल को

सब्सक्राइब करें इसे आगे शेयर करें इस

संदेश में कुछ ऐसा है जो आपके जीवन में

प्रचुरता प्रकट करने में आपकी मदद करेगी

कृपया इसे नजरअंदाज ना करें मेरे बच्चे

कैसे हो तुम तुम सदैव मेरी दृष्टि में

रहते हो मैं काल रात्रि आज तुम्हें एक बार

फिर दर्शन देने आई हूं तुम दिन रात अपने

भविष्य की ही चिंता करते रहते हो परंतु इस

बार मैं तुम्हें एक खास वजह से दर्शन देने

आई हूं मेरे आज के इस संदेश को तुम

ध्यानपूर्वक

सुनना इसमें मैं तुम्हें जीवन में सफलता

कैसे पाई जाए बताने जा रही हूं मैं इस

सृष्टि बुराई का अंत करती हूं

जो मनुष्य इस संसार में जन्म लेता है जो

मनुष्य इस संसार में जन्म लेता है उसके

साथ गृह नक्षत्र दोष पुण्य आदि चीजें

जुड़ी हुई होती

हैं परंतु जो भी मनुष्य धरती पर आता है वह

इन चीजों को समझ नहीं पाता इसलिए जीवन में

परेशानी दुख और कठिनाइयों का अनुभव करता

है

मेरे बच्चे इस संसार में मुझे तुम सबसे कम

पूछते हो ऐसा क्यों करते हो मेरे बच्चे

क्या तुम्हारे जीवन में मेरा कोई महत्व

नहीं है परंतु मैं तुम्हारी मां हूं इसलिए

इस समय मैं केवल तुम्हारे लिए आई हूं

इसलिए मैं केवल तुम्हारे उज्जवल भविष्य के

लिए बात करूंगी सर्वप्रथम जब भी तुम्हें

निराशा और दुखी होने का अनुभव हो तो उस

समय अपने मन को शांत करके मेरा ध्यान करना

मैं सभी देवो देवी में सबसे पहले प्रसन्न

हो जाती हूं क्योंकि मेरे भक्तों द्वारा

की गई भक्ति से मैं तुरंत ही खींची चली

आती हूं जब तुम मुझे जब तुम मुझे अपने मन

के भीतर याद करोगे तो मैं

तुम्हें दर्शन अवश्य दूंगी इसलिए मेरे

बच्चे जब भी तुम्हें कठिनाइयां और निराशा

का अनुभव हो तो घबराना मत बस यह सोचना कि

तुम्हारी मां तुम्हारे साथ है और बाकी सब

कुछ मुझ पर छोड़ देना मैं तुम्हारे साथ

कुछ भी बुरा नहीं होने दूंगी जो परिस्थिति

इस समय तुम्हारी है उसमें तुम यही सोच रहे

हो कि मेरे साथ बहुत बुरा हो रहा है मैं

गलत मार्ग पर चल रहा हूं जिसमें आगे चलकर

कोई भविष्य नहीं है परंतु मेरे बच्चे तुम

जो इस समय सोच रहे हो वह बिल्कुल गलत सोच

रहे हो ऐसा मत सोचो जिस मार्ग पर तुम चल

रहे हो उसी पर चलते रहो बिना संकोच के

क्योंकि जो तुमने यह चुनी है वह बिल्कुल

सही चुनी है मेरे होते हुए तुम क्यों इतना

बार-बार सोच रहे हो क्यों तुम अपने मन में

बार-बार सक लाते हो क्यों तुम बार-बार

अपने मन में गलत विचार लाते हो क्या मैं

तुम्हारे साथ नहीं

हूं मेरे बच्चे जब तुमने मेरी इतनी पूजा

भक्ति की है तो फिर तुम्हें मेरे ऊपर

पूर्ण विश्वास क्यों नहीं

है जबकि तुम भली प्रकार से जानते हो मैंने

सदा तुम्हारा साथ दिया है उस पल भी जिस पल

तुम गलत थे परंतु मेरे बच्चे आज तुम मुझसे

अपना विश्वास उठा रहे हो यदि तुम अपनी मां

पर विश्वास नहीं करोगे तो तुम्हारे जीवन

में आ रही कठिनाइयों को तुम कैसे दूर

करोगे मैं तो सदा ही तुम्हारे हित के लिए

तत्पर्य रहता हूं कि मेरे बच्चे को कोई भी

कष्ट हो मैं तुमको बार-बार हर बार मार्ग

दिखाती रहती हूं मेरे दिखाए हुए मार्ग पर

तुम जब भी चले हो तुम्हारे जीवन में हमेशा

खुशियां ही आई हैं तो फिर आज ऐसा क्या हो

गया कि तुम्हें अपनी मां पर विश्वास नहीं

रहा क्यों तुमने अपने मांओं की भक्ति करना

कम कर दिया मेरे बच्चे तुम मेरी बात नहीं

समझ पा रहे हो तुम जिस भी प्रकार की

दिक्कत में हो मुझे अपने मन में स्मरण

करके बताओ तभी मैं तुम्हारी सहायता

करूंगी यदि तुम मेरा ध्यान और स्मरण करते

हो तो मैं तुम्हें वचन देती हूं मैं

तुम्हारी सारी परेशानियां खत्म कर दूंगी

परंतु सबसे पहले उसके लिए तुम्हें मेरे

ऊपर अपना पूर्ण विश्वास बनाना होगा बिना

विश्वास के कोई भी कार्य करना कठिन होता

है तुम्हारे द्वारा किए गए विश्वास से

मुझे शक्ति मिलती है क्योंकि मेरे भक्तों

से ही मेरी शक्ति है मुझे मेरे भक्त अति

प्रिय हैं मैं उनके लिए वह सब कुछ करती

हूं जो वह चाहते हैं इसलिए मेरे बच्चे

सर्वप्रथम विश्वास जगाना बहुत जरूरी है

क्योंकि इस संसार में विश्वास से बड़ी कोई

शक्ति नहीं है एक चीटी भी विश्वास से भरी

होती है तो वह अपने से गुना वजन को

उठाकर चल सकती है इसलिए तुम्हारा भी मुझ

पर यह विश्वास होना चाहिए कि चाहे कितनी

ही कठिनाइयां और परेशानियां तुम्हारे जीवन

में आ जाए परंतु तुम्हारी मां तुम्हें उन

कठिनाइयों और परेशानियों से लड़ने के लिए

गुना ज्यादा ताकत देंगे

यदि तुम्हारा मुझ पर विश्वास है तो

तुम्हारे जीवन में जो भी परेशानियां चल

रही हैं वेह अपने आप ही ठीक होने लगेंगी

लेकिन यह तब संभव है जब तुम्हें मुझ पर

स्वयं विश्वास हो जाएगा मेरे बच्चे सच्चे

मन से की गई भक्ति मुझ तक पहुंचती है और

बिना सच्चे मन भाव से कोई भी आराधना पूरी

नहीं हो सकती इसलिए मैं सदैव अपने भक्तों

को यही समझाती हूं कि अपने मन के भाव को

शुद्ध और सच्चा रखो शुद्ध और सच्चे मन से

की गई भक्ति जल्दी ही मुझ तक पहुंचती है

और मैं उन भक्तों को साक्षात दर्शन देती

हूं इसलिए तुम मेरी सच्चे मन से और खुश

होकर मेरी आराधना करो तुम्हारे सारे

बिगड़े काम स्वयं बन जाएंगे

मेरे बच्चे मैं तुम्हें यही सारी बातें

बताने आई थी ताकि तुम अपने जीवन में आगे

बढ़ सको अब तुम मेरी आराधना पहले की तरह

शुरू कर

दो तुम्हारी मां तुम्हें तुम्हारा मन चाहा

वर अवश्य देंगी यदि तुम सच्चे मन से मुझे

स्मरण करोगे तो मैं तुम्हें जल्दी ही

दर्शन दे दूंगी क्योंकि मैं तुम्हें पहले

ही बता चुकी हूं कि मुझे प्रसन्न करना

बेहद आसान है बस तुम्हारे भाव सच्चे होने

चाहिए मैं अपने बच्चे को दुखी नहीं देख

सकती इसलिए मुझे आज तुम्हें यह बात

बताने आना पड़ा मेरे बच्चे तुम सदा खुश

रहना और सब कुछ अपनी मां के ऊपर छोड़ दो

मैं तुम्हारी सारी कठिनाइयों और

परेशानियों को कुछ दि दिनों के अंदर ही

अंत कर दूंगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *