मां काली आपके छुपी हुई महिला शत्रु के शरीर में कीड़े पड़ेंगे एक महिला काली माँ संदेश - Kabrau Mogal Dham

मां काली आपके छुपी हुई महिला शत्रु के शरीर में कीड़े पड़ेंगे एक महिला काली माँ संदेश

मैं बर्बाद हो चुका हूं इस प्रेम के चक्कर

में इसलिए मैं तुम्हें आज आगाह करने आई

हूं अर्थात मैं समझाने आई हूं कि तुम ऐसे

किसी प्रेम के चक्कर में मत पड़ो नहीं तो

तुम्हारा जीवन खराब हो जाएगा और तुम

बर्बाद हो जाओगे मेरे बच्चे यह सच है कि

प्रेम करना चाहिए लेकिन उससे नहीं जो

तुम्हारे साथ छलावा कर रहा है या दिखावा

कर रहा है या तुमसे षड्यंत्र रचकर बातें

करता है बल्कि उससे प्रेम करो जो तुमसे

सच्चा प्रेम करता है और तुम पर जान छिड़क

हो तुम्हारी हर बात में उसकी स्वीकृति

होती है और भावनाओं से भावनाओं का रेम

होता है ना कि स्वार्थ बस मेरे बच्चे

जिसके मन में छलावा होता है उस व्यक्ति को

तुम कुछ ही समय में परख सकते हो इसलिए

प्रेम करो लेकिन आंखें खोलकर आंखें बंद

करके नहीं यदि आंखें बंद करके प्रेम करोगे

तो थोड़ा सा आगे जाकर ही ठोकर खा जाओगे और

मोह के बल गिर पड़ोगे गिरने से पहले ही

तुम्हें समझना होगा और संभलना होगा और

मानना होगा इस बात को कि तुम जो अभी कर

रहे हो उससे कहीं तुम्हारा कोई नुकसान तो

नहीं हो रहा ऐसा कोई व्यक्ति तो नहीं मैं

तुम्हारे जीवन में जो तुमसे छलावा कर रहा

हूं और तुम उसके बारे में

पूर्ण रूप से जान नहीं पा रहे केवल उसके

हाथों से धोखा खा रहे हो और जीवन को

बर्बाद कर रहे हो क्योंकि मेरे बच्चे यदि

ऐसा हो रहा है तो आगे तुमने का मौका भी

नहीं मिल पाएगा उस समय जिस समय तुम सब कुछ

गवा बैठोगे अर्थात जो छल कर रहा है वह सब

कुछ लूट कर भाग जाएगा और तुम हाथ मलते रह

जाओगे क्योंकि संसार में पांच उंगलियां

बराबर नहीं होती और सब एक से नहीं होते

इसी प्रकार प्रेम करो लेकिन देखो कि कहीं

कोई तुमसे छल तो नहीं कर रहा है कहीं तुम

किसी के षड्यंत्र में फस तो नहीं रहे हो

यदि तुम्हारे साथ ऐसा हो रहा है

तो निश्चित ही बहुत गलत हो रहा है और अपने

आप को तुम रोक लो क्योंकि यदि समय रहते

तुम को नहीं रोकोगे तो आगे तुम्हें केवल

पछतावा होगा और जीवन में कुछ नहीं बचेगा

ऐसे लावे से और ऐसे संकट से बचने का केवल

एक उपाय है कि तुम ऐसे प्रेम को तुरंत

छोड़ दो और जिससे भी तुम प्रेम करो उसे

देख परक कर करो उसका प्रेम परखने के बाद

ही तुम उसे पूर्ण रूप से प्रेम करो और

परखने के लिए भी तुम्हें यह देखना होगा कि

सामने वाला व्यक्ति क्या सच में तुमसे

प्रेम करता है क्या उसकी भावना तुम्हारे

लिए उस तरह की है जिस तरह की तुम हारी है

क्या वह उतना प्रेम कर पाएगा तुमसे जितना

तुम उससे करते हो क्योंकि बच्चे यदि वह

बात-बात पर लड़ता है या लड़ती है बात-बात

पर तुम्हें छोड़ने की धमकी देती है

बात-बात पर रूठ जाती है या बात बात पर

उसको क्रोध आता है तो ऐसा व्यक्ति तुमसे

प्रेम नहीं करता क्योंकि प्रेम करने वाला

व्यक्ति कभी भी छोड़ने की बात नहीं करेगा

और प्रेम करने वाला व्यक्ति तुम्हें खोने

से हमेशा डरेगा मेरे बच्चे प्रेम करने ने

वाला व्यक्ति बात बात पर क्रोध नहीं करेगा

बल्कि जहां तुमसे कुछ गलती होगी तो वह

तुमसे प्यार से बात करेगा

और तुम्हें प्रेम से समझाएगा क्योंकि उसके

हृदय में प्रेम है और वह इस बात को समझता

है कि किसी से यदि कोई गलती हो जाए तो उसे

प्रेम से समझाने पर जितना ज्यादा समझ में

आता है उतना क्रोध बस कभी नहीं आ सकता और

यही कारण होता है किसी भी व्यक्ति का कि

वह तुम्हें उस समय समझाता है जब तुम्हें

कोई भी बात समझ में नहीं आ रही होती है

क्योंकि प्रेम का धर्म ही सबसे पहला यही

होता है कि अपने प्रेमी को समझाएं हर बात

के लिए मनाए यदि प्रेमी क्रोधित भी हो

जाता है तो प्रेमिका उसे समझाती है और

प्रेमिका यदि क्रोधित होती है तो प्रेमी

उसे समझाता है वो दोनों एक दूसरे को को

समझते हैं भावनाओं को पहचानते हैं एक

दूसरे के प्रति मरते मिटते हैं बल्कि

षड्यंत्र नहीं रखते क्योंकि वह प्रेम जो

करते हैं और प्रेम खुद को खुश करने का नाम

ना होकर दूसरे को खुश करने का नाम होता है

यदि तुम अपने प्रेम से प्रेम करते हो या

तुमसे कोई प्रेम करता है तो निश्चित ही

तुम्हारी छोटी-छोटी खुशी का ख्याल रखेगा

तुम कब हंसते हो उसे हंसी आएगी तुम कब

रोते हो वह दुखी हो जाएगा तुमसे कभी भी

किसी भी चीज को मांगने से पहले क्रोध में

नहीं आएगा और ना ही क्रोध में तुमसे कभी

ज्यादा बात करेगा जब भी बात करेगा उसकी

बातों में मिठास होगी इतनी मिठास कि उसके

सामने तुमने सब चीज सीख लगेगी क्योंकि

प्रेम तो एक आनंद है प्रेम कोई ऐसा नहीं

है है कि वह किसी के ऊपर क्रोध करे बल्कि

वह एक मधुर है संगीत की तरह है जिसे कानों

में सुना जाए तो बहुत अच्छी गज सुनाई देती

है और यदि दिल से महसूस किया जाए तो वहां

आपको रंग में रंग लेता है जिससे कि इंसान

उसके रंग में रंगने के पश्चात पूरी दुनिया

में हर चीज को हर रंग में देख पाता है

उसकी दुनिया ही रंगबिरंगी हो जाती है वह

अपने दिल से हर

चीज को महसूस करता है और उसे यह ज्ञात

होता है कि दुनिया कितनी खूबसूरत है यही

तो होता है प्रेम का असली रंग जो जिससे

प्रेम करता है उसे उसी में पूरी दुनिया

दिखाई देती है और सबसे ज्यादा इंसान विवश

हो जाता है अपने प्रेम के प्रति गलत भावना

सोचने के बारे में और गलत भावना विचार

करने के बारे में क्योंकि प्रेम जब होता

है तो इंसान किसी के बारे में बहुत अच्छी

भावना रखता है और अच्छा सोचता है तब प्रेम

होता है लेकिन कई बार गलत व्यक्ति इसी बात

का फायदा उठा लेता है उसे यह बात बहुत

अच्छे से ज्ञात होती है कि प्रेम जब होता

है तो उसकी आंखों पर पट्टी बध होती है एक

तरह से वह पूर्ण रूप से देख नहीं पाता और

प्यार में अंधा हो जाता है और इसी का

सामने वाला व्यक्ति गलत फायदा उठाकर

तुम्हारे जीवन में बर्बादी का सबसे बड़ा

मार्ग बना लेता है और ऐसे में सब कुछ

बिखरते बिखरते यदि व्यक्ति संभल जाए तो भी

उसका दिल टूट जाता है और यदि वह समझ ना

पाए तो सब कुछ बिक जाता है क्योंकि मेरे

बच्चे इंसान अपने हृदय से जीता है और हृदय

से ही बिगड़ता है उसका हृदय टूटा तो वह

टूट जाता है और यदि उसके हृदय में प्रेम

की जो धारणा है वह लगातार

प्रवाह करती रहती है तो वह प्रसन्न रहता

है उसको हर बात अच्छी लगती है और संसार

में जो उसका जीवन है वह भी अच्छे से

गुजारता है हर बात में आनंद लेता है और हर

बात में उसे खुशी महसूस होती है लेकिन यह

जो प्रेम की डर टूटती है तो इंसान को बहुत

ज्यादा कष्ट होता है लेकिन धोखा खाने से

अच्छा और तुम्हारे जीवन में कोई बड़ा संकट

आए उससे ज्यादा अच्छा है कि तुम प्रेम को

पहचानो यदि ऐसा प्रेम है जो कि तुम्हें

षड्यंत्र रचकर धोखा दे रहा है तुम्हें

लूटने की साजिश रच रहा है तुम्हारा जीवन

बर्बाद करना चाहता है तो उसे तुरंत नहीं

छोड़ सकते तो धीरे-धीरे करके छोड़ दो

लेकिन अपने दिल और दिमाग से उस व्यक्ति को

निकालने का पूर्ण प्रयास करो क्योंकि वह

आज या तो कल तुम्हें बर्बाद करके ही रहेगा

क्योंकि ऐसा व्यक्ति जो षड्यंत्र रखता है

वह किसी का नहीं हो सकता मेरे बच्चे आज

मैं तुम्हें डराने नहीं आई और ना ही तुमसे

तुम्हारे प्रेम को दूर करने आई बल्कि मैं

समझाने आई हूं क्योंकि संसार में हर

व्यक्ति एक जैसा नहीं होता जो लोग

षड्यंत्र रचते हैं अपने प्रेम के प्रति और

प्रेम भरा षड्यंत्र रचकर किसी को फंसाते

हैं केवल उन लोगों के लिए यह संदेश है

इसलिए वह मेरे बच्चे बच पाए यही मेरा

संदेश है और जीवन में खुद को कभी भी अकेला

मत समझना हमेशा ध्यान रखना मैं तुम्हारे

साथ हूं हर पल हर क्षण में तुम्हें देख

रही हूं और जानती हूं कि तुम्हारे जीवन

में क्या चल रहा है मेरा आशीर्वाद सदैव

तुम्हारे साथ है जय हो माता रानी हर हर

महादेव मेरे बच्चे आज मैं तुमसे कुछ जरूरी

बात करने आई हूं और जो बात करने आई हूं

उसे सुनना तुम्हें अति आवश्यक है अपने

भविष्य में तुम्हारे असंभव लगने वाले सपने

भी पूरे हो रहे हैं और तुम्हारे मन में जो

एक बोझ था वह भी उतर गया है तुमने लोगों

को माफ कर दिया है उन लोगों को भूल गए हो

तुम जो अतीत में धोखे हुए हैं जो लोग

तुम्हें छल कपट करने वाले मिले अब ऐसे लोग

नहीं है है तुम्हारे जीवन में अब तुम्हारे

जीवन में एक मजबूत टीम है एक ऐसे लोगों का

संगठन है जो तुम्हें आगे बढ़ाने के लिए

काम कर रहा है और तुम उनको आगे बढ़ाने के

लिए सोच रहे हो इसलिए तुम तरक्की कर रहे

हो दिन रात परिश्रम की है तुमने और

तुम्हारे भविष्य में

उसका फल देख पा रही हूं तुम्हारे चेहरे की

खुशी देख पा रही हूं मैं मेरे बच्चे और

तुम्हारे आंखों की वो चमक देख पा रही हूं

जब तुम मेरे मंदिर में आकर बैठकर उसे खुशी

के आंसू हंसकर कह रहे हो कि माता आपकी

लीला भी अपरंपार है मैंने तो कभी सोचा ही

नहीं था जो सपने मैंने सोचे थे वह तो बहुत

छोटे प्रतीत हो रहे हैं आपने मुझे इतना

कुछ दे दिया है तुम्हारे सारे सपने पूरे

हो रहे हैं तो अभी किसी भी बात की चिंता

मत करो किसी भी बात के लिए परेशान मत हो

कुछ भी ज्यादा सोचकर अपने बने बनाए काम को

मत बिगाड़ हर रोज एक छोटा कदम लेकर चलो

साल के अंत तक बहुत सारी चीजें खुद हंसी

बखुदा में मत काम करो आराम से सोच समझकर

काम करो कि सब कुछ पूरा होगा धीरे-धीरे

पूरा होगा और सही वक्त पर पूरा होगा जब

वक्त आएगा तो तुम्हें वह सब कुछ मिलेगा जो

तुम्हें मिलना चाहिए फल की आशा मत करो

मेरे बच्चे बस कर्म करो क्योंकि अब सफलता

बहुत करीब है तुम्हारे और तुम्हारा भविष्य

चमक रहा है खुशियों से चमक रहा है लोगों

की खिलखिला हट से गूंज रहा है ना कि लोगों

को चुगली से बुराई से षड्यंत्र से भरा हुआ

है ऐसा कुछ भी नहीं हो रहा है तुम्हारे

भविष्य में तो अब चिंताएं त्याग दो और खुश

होकर कार्य करना शुरू करो ओम नमः शिवाय

मेरे बच्चे अपनी माता रानी के लिए एक लाइक

नहीं करोगे और कमेंट में जय हो माता रानी

लिख दीजिए मेरे बच्चे जो आपके एनिमी बने

हुए हैं वह क्यों घबरा रहे हैं वह क्यों

अंदर ही अंदर मन ही मन को चक्कर आ रहे हैं

किसी को कुछ कहने लायक नहीं है है कुछ

करने लायक नहीं बच्चे मेरे बच्चे मुझे

दिखाई दे रही है कि जो आपके करंट सिचुएशन

है उसम की आप अकेले हैं पर आप अकेले नहीं

है आपके साथ हर समय आपके ईश्वर रहते हैं

हर समय परमात्मा रहते हैं आपके साथ

क्योंकि जो भी नेगेटिव लोग हैं उनका जो

मेन मोटिव है आपको अकेला करना आपको आपके

ही पार्टनर के द्वारा टॉर्चर कराना

क्योंकि देखिए जब अपने दुख देते हैं तो वह

इंसान खत्म हो जाता जब अपना नियर बिल्कुल

अपना डियर आपके ह बैंड हो सकते हैं वाइफ

हो सकते हैं जो भी है अगर कोई नजदीकी

इंसान तोड़े ना तो वह इंसान बखर करके उसका

वजूद खत्म हो जाता है जो कमजोर लोग होते

हैं जिनके अंदर ताकत नहीं होती स्ट्रेंथ

नहीं होती उनके बारे में बात कर रही हूं

जो लोग इस तरीके की गेम बजा रहे हैं अगर

वही चीज उनके साथ हो जाए ना तो वह इस

जिंदा ही ना बचे इस धरती पर रहने लायक

उनका जीवन ही ना हो लेकिन आपको यह जो

अकेला लोगों को लगते हैं आप अकेले हैं

लेकिन आप अकेले नहीं आपके साथ आपकी माता

रानी जी है आपके ईश्वर है दिव्य शक्तियां

हर समय आपके साथ रहती है क्या आप माता

रानी महिला पर विश्वास रखते हैं तो इस

संदेश को लाइक करके चैनल को सब्सक्राइब कर

दीजिए मेरे बच्चे आप भीतर से प्रसन्न रहते

हैं और आपके अंदर गजब का साहस है कलेज है

इतनी हिम्मत है आपके अंदर इतना साहस है

आपके अंदर अ यह साहस का मतलब यह नहीं होता

कि सामने से जाकर आप किसी का सर छोड़ दो

या किसी का सर फाड़ दो नहीं यह साहस नहीं

होता यह इंसान की कमजोरी होती है वीकनेस

होती है जो इंसान जितना ज्यादा साहसी होता

है अंदर से मजबूत होता है वह बाहर से उतना

ज्यादा फ्लेक्सिबल होगा वह उतना ही ज्यादा

लोगों के सामने झुक जाएगा जो इंसान कभी

झुकता नहीं है है ना अकता है वो इंसान

अंदर से उतना ही खाली है ठस का है

स्थितियां और परिस्थितियां उसको ऐसे

तोड़ेगी फिर वह कड़क करके बिखर करके चुर

चुर हो जाएगा वो टिकने लायक नहीं बचेगा यह

होता है जो इंसान अंदर से मजबूत होते हैं

ना वह बहुत झुकाव दार व झुकते हैं

लोगों के सामने तो आप ऐसे इंसान हैं आप भी

इंसान हैं भगवान तो नहीं है है भले ही

दिव्य शक्तियां आपका सपोर्ट कर रही है

ईश्वर आपको चला रहे हैं लेकिन पास्ट में

आपने भी बहुत मिस्टेक्स करी है गलतियां

करी है लेकिन अब आप ऐसे हो गए हैं कि मैं

किसी से उलझ नहीं मैं कभी किसी से लड़ाई

नहीं करूंगा भले ही मुझे कोई मेरे पीठ

पीछे गाली दे भले ही मेरे पीठ पीछे कोई

बातें करें मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता है

आप वैसे हो गए हैं कि ठीक है अगर कोई

सामने से आपकी इंसल्ट करने की कोशिश करें

तो आप उसके सामने स्माइल कर दो कि ठीक है

भाई मैं गलत हूं और तुम ठीक हो या कोई भी

आपको किसी तरीके से नीचा दिखाने की कोशिश

करें तो आप कुछ जवाब नहीं देते सिर्फ आप

आंखों से उसको घूर देते हो और वह खुद

इंसान बेशर्म हो जाए इस तरीके की आपकी एक

पावरफुल एनर्जी में आप आ गए हैं यह होती

है परमात्मा की शक्तियां यानी अपने

वाइब्रेशन से ही सब कुछ समझा देना आपको

कहने की जरूरत ना पड़े मेरे बच्चे हर एक

इंसान के वाइब्रेशन होते हैं और जो भी

आपके इर्दगिर्द नेगेटिव लोगन है ये आपके

वाइब्रेशन को पढ़ रहे हैं ये आपके अंदर

कुछ दिव्य शक्तियां है कुछ तो है आपके

अंदर के इतना गलत होने के बाद कोई इंसान

कैसे जी सकता है अगर यह दो टक्के के लोग

जो यह खुद है ना इनके साथ यह हरकते हो जाए

ना मैं कहूं यह सारे पूरे देश में झंडा

गाड़ देंगे अपनी बदमाशियां का और रोना

पीटना शुरू कर देंगे लेकिन आप जो है एक

अलग तरीके के इंसान हैं क्योंकि आप सच्चे

हैं आप अच्छे हैं आप धर्म से चलने वाले

हैं मेरे बच्चे अपनी माता रानी के लिए इस

संदेश को लाइक करके चैनल को सब्सक्राइब कर

दीजिए और साथ ही साथ जय हो माता रानी लिख

दीजिए मेरे बच्चे तुम्हें एक परिपक्व

आत्मा हो तुम पिछले कई जन्मों से मेरी

भक्ति कर रहे हो और उन सारे जन्मों का

ज्ञान लेकर तुमने मनुष्य का जीवन पाया है

मेरे कहने पर मेरे आदेश पर ही तुमने यह

मनुष्य का जीवन लिया है मेरे बच्चे और

मनुष्य के जीवन के साथ जो सुख दुख खाते

हैं तुम्हें वह सब भोगने पड़ रहे हैं वह

सबको सिर्फ तुम मेरे लिए झेल रहे हो मेरे

बच्चे तुमने बचपन से अनुभव किया होगा कि

तुम बाकी सारे बच्चों से बहुत अलग-अलग

रहते थे तुम्हारे उम्र के बच्चे अलग

दुनिया देखते थे और तुम अलग दुनिया देखते

थे जब से तुमने होश संभाला तुम्हारी रुचि

तुम्हारा प्रेम मेरे प्रति बढ़ने लगा जहां

तुम्हारी उम्र के बच्चे गुड्डे गुड़ियों

से खेलते थे उस उम्र में तुम्हें जीवित

अच्छी लगती थी तुम्हें यह प्रकृति अच्छी

लगती थी जिसमें तुम्हारी माता बसती है

तुमने बचपन से ही अपनी इज्जत को अपने

परिवार जनों की इज्जत को बहुत संभाल के

रखा है तुम हमेशा से यह सोचते थे कि कहीं

तुमसे ऐसी कोई गलती ना हो

जिससे तुम्हारे घर वालों का अपमान हो जाए

या तुम्हारी इज्जत थोड़ी सी भी कम हो

तुमने कभी कोई ऐसा कदम नहीं उठाया जिससे

किसी और को तकलीफ हो तुम हमेशा दूसरों के

बारे में सोचते थे मेरे बच्चे उस उम्र में

तो बच्चों को यह भी होश नहीं होता था कि

वह क्या गलत कर रहे हैं क्या सही कर रहे

हैं उस उम्र में तुम्हें यह पता था कि तुम

क्या ऐसा करोगे जिससे तुम्हारे माता-पिता

को तकलीफ होगी और जिससे तुम्हारी इज्जत

जाएगी तुमने ऐसा कोई कार्य कभी नहीं क्या

मेरे बच्चे तुम यही सोचते हो ना कि माता

जब आप मेरे साथ हो जब आप मुझसे या कहते हो

कि मैं आपका इतना करीबी हूं तो उसके बाद

भी मुझे इतना दहक क्यों झेलना पड़ रहा है

मेरे बच्चे याद रखना सिखाता वही है जो खुद

सीखता है भगवान श्री राम को भी बनवास पर

जाना पड़ा था और भगवान कृष्ण को भी तपस्या

करनी पड़ी थी उन्होंने भी अपने प्रेम को

खो दिया था उन्होंने गीता का ज्ञान नहीं

दिया होता अगर उन्हें खुद वह अनुभव ना

होता उन्होंने भी बहुत कष्ट देखा मेरे

बच्चे और उनका आकाश तुम्हारे कष्टों के

आगे तो कुछ नहीं है है ना मुझे पता है तुम

बच पन से सोचते थे तुम्हारे सपने बहुत

बड़े थे तुम बहुत कुछ

करना चाहते थे पर परिस्थितियों ने समाज ने

तुम्हारे घर की रूड वादी सोचने तुम्हें एक

पिंजरे में कैद कर दिया मेरे बच्चे

तुम्हारी खासियत यह है कि उस पिंजरे में

बंद होकर भी तुम मेरा सुमिरन करते थे तुम

हमेशा यही सोचते थे मुझे पता है एक दिन

में इस पिंजरे को तो डर के आजाद हो जाऊंगा

जिन बेड़ियों में समाज ने मुझे जकड़ रखा

है मैं एक दिन वह सारी बेड़ियां तोड़

दूंगा और और मैं उरूंगा चाहे मेरी

परिस्थिति आज खराब हो चाहे मैं आज जितना

भी रो रहा हूं मैं एक दिन उरूंगा मेरे

बच्चे वो शक्ति है तुम्हें तुम इस दुनिया

में किसी भी सफल व्यक्ति की कहानी सुन लो

उसने बहुत दर्द सहा है बहुत कुछ देखा है

तब जाके आज वह दुनिया को सीखा पा रहा है

बिना अनुभव के तुम अपने सपनों को पूरा

नहीं कर सकते तो तुम जिस दुख पर जिस दर्द

पर आज रो रहे हो उसको मेरा आशीर्वाद समझकर

स्वीकार करो क्योंकि वो दुख दर्द मैं

तुम्हें आने वाली जंग के लिए तैयार कर रही

वो दुख दर्द मैं तुम्हें इसलिए दे रही हूं

कि तुम्हें अनुभव हो सके और तुम अपने

अनुभव से इस पूरे समाज को कुछ सिखा सको वो

दुख दर्द भी मेरा आशीर्वाद है मेरे बच्चे

क्योंकि सबके बस की बात नहीं है इतना सब

कुछ है पाना तुमने सहा है और तुमने

मुस्कुरा के सहा है तो अपने सपनों के लिए

ऐसे लड़ना मत छोड़ो तुम्हारा दिल जानता है

कि तुम्हारे सपने पूरे हो तुम्हारी आत्मा

जानती है वह आत्मा जो बचपन से तुम्हें एक

अलग राह पर चलाती थी तुम कभी दुनिया की

भीड़ में नहीं चले मेरे बच्चे तो अब उस

भीड़ का हिस्सा बनने के लिए रो मत तुम

अकेले चले हो तो अकेले ही चलो तैयारी करो

अपने इस दर्द भरी कहानी को इस दुनिया को

सुनाने की तैयारी करो दुनिया को कुछ

सिखाने की तैयार हो जाओ उस पिंजड़े को

तोड़कर उड़ने की मेरे बच्चे मेरे बच्चे

मुझे पता है तुम अपने काम को लेकर बहुत

परेशान अपने भविष्य की बात सोचकर तुम्हारा

मन व्याकुल हो जाता है तुम्ह चिड़चिड़ापन

होने लगता है काम करते-करते जब तुम्हें

कोई फल नहीं दिखता है तुम्हारे भविष्य में

क्या हो रहा है आज यही संदेश लेकर आई हूं

मैं तुम्हारे लिए मेरे बच्चे भविष्य में

तुम बहुत शांति का जीवन जी रहे हो और इस

साल के अंत तक ही तुम्हारे बहुत सारे सपने

पूरे हो गए एक कदम तुम अपने सपनों के

कदम पास जा चुके हो तुम्हारे बहुत सारे

सपने जो असंभव लग रहे थे वह इस साल के अंत

तक पूरे हो जाएंगे

बहुत सारी चुनौतियां है जो खत्म हो गई और

बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो तुम्हारे जीवन

से जा चुके हैं जो तुम्हें नीचे खींचने की

कोशिश कर रहे थे अब तुम अपने सपनों को

लेकर बहुत सीरियस हो बहुत गंभीरता से सोच

रहे हो और हर एक कदम बहुत समझदारी से ले

रहे हो इसलिए तुम असफल मिल रही है तुम

अपने परिवार को लेकर भी बहुत चिंतित रहते

हो पर भविष्य में वह चिंताएं खत्म हो गई

है क्योंकि तुम्हारा एक बहुत प्यारा

परिवार है तुम्हारे पास सारे धन संपत्ति

है जिससे तुम अपने परिवार की हर इच्छा

पूरी कर पा रहे हो जो सपने तुमने देखे थे

वह सब तुम पूरा कर पा रहे हो और वह सारी

खुशियां तुम उन्हें दे पा रहे हो मेरे

बच्चे जो चिंताएं तुम्हें अभी अंदर-अंदर

खाए जा रहे हैं व सारी चिंताएं खत्म हो

चुकी है और अपने भविष्य में तो तुम हंस

रहे हो कि एक समय पर तुम कितने जल्दी

विचलित हो जाते थे तुम्हें कितनी जल्दी

घबराहट होने लगती थी तुम कितनी जल्दी

बेचैन हो जाते थे और तुम्हें खुद पर गर्व

भी हो रहा है कि तुमने इतना सब कुछ अकेले

सहकर अपने सपनों को पूरा किया तुम अपने

बच्चों को भी अपनी कहानी बता रहे हैं और

तुम ऐसी जगह पर बैठे हो मेरे बच्चे जहां

पर लोग तुमसे नौकरी मांगने आ रहे हैं और

वह रिश्तेदार जो तुम्हारा बुरा चाहते थे

वह अब अपने बच्चों की नौकरी तुमसे लगवाने

की विनती कर रहे हैं या वह अब तुमसे आश्रम

मांग रहे हैं कि तुम उनकी थोड़ी मदद कर दो

और ऐसा नहीं है कि तुम्हारा हृदय परिवर्तन

हो गया है तुम तब भी उनकी मदद कर रहे हो

मेरे बच्चे क्योंकि हमेशा एक बात याद रखना

तुम उसे चाय तक पहुंचे ही इसलिए हो

क्योंकि चाहे लोगों ने तुम्हारे साथ कितना

भी बुरा किया हो कितना भी बुरा बोला हो

तुमने हमेशा दूसरों का भला सोचा और जो

व्यक्ति दूसरों का भला सोचता है उसका भला

मैं स्वयं सोचती हूं उसका अच्छा मैं स्वयं

करती हूं जो व्यक्ति अपना सब कुछ त्याग

देता है दूसरों के सपने पूरा करने के लिए

उसके सपने में स्वयं पूरे करती हूं मेरे

बच्चे तुम बहुत रो रहे हो कोई रास्ता नजर

नहीं आ रहा है तुम्हें पर हर एक कदम जो

तुम हर रोज ले रहे हो उस कदम के साथ मैं

तुम्हें तुम्हारे सपनों के बहुत नजदीक

लेकर जा रही हूं और यह बात तुम्हें अभी

नहीं समझ में आ रही है पर जो भविष्य में

तुम्हारा देख रही हूं उस भविष्य में तुम

हर दिन मेरा शुक्रिया अदा कर रहे हो कि

माता मैं वह रास्ता

नहीं देख पा रहा था जब आप पर जब आप पीछे

मुद करर देखता हूं तो मुझे समझ में आता है

कि उस हर एक चुनौती के जरिए आप मुझे क्या

सिखा रही थी और आप मुझे कहां लेकर जा रही

थी तुम खुश हो मेरे बच्चे क्योंकि तुम्हें

वह सारा प्रेम मिल रहा है तुम्हें वह

सम्मान मिल रहा है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *