मां काली अनदेखा करने कि आवश्यकता नहीं है अब तुम्हारा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता - Kabrau Mogal Dham

मां काली अनदेखा करने कि आवश्यकता नहीं है अब तुम्हारा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता

[संगीत]

मेरे बच्चे मैं तुमसे बात करना चाहती हूं

क्या तुम्हारे पास मेरे लिए वक्त है मुझसे

बात करने के लिए क्योंकि जो जरूरी बात मैं

तुमसे करना चाहती हूं उसके लिए तुम्हारा

मेरी बात को ध्यानपूर्वक सुनना बहुत जरूरी

है इसके लिए तुम्हारे पास वक्त होना उतना

ही जरूरी है जिससे मेरी बताई हुई बातों पर

तुम ध्यान दे पाओ मेरे बच्चे जीवन में सुख

भोगना सभी के लिए सौभाग्य की बात है मेरे

बच्चे तुम मुझसे बता सकते हो कि तुम्हें

क्या तकलीफ है क्या परेशानी है किस कारण

से तुम परेशान हो मुझसे जब चाहे एक

निश्चित समय पर बात कर सकते हो मैं

तुम्हारे हर सवाल का जवाब दूंगी और देती

भी हूं परंतु तुम्हें उसको सुनना और समझना

होगा क्योंकि यह सत्य है मैं जवाब देती

हूं परंतु तुम समझ नहीं पाते हो तुम जब भी

मुझ से अपने सवाल करते हो उसका जवाब

तुम्हें तुम्हारे हृदय में विराजमान मैं

स्वयं देती हूं परंतु तुम हृदय की बात को

सुनते ही नहीं हो तुम बस सवाल पर सवाल

करते रहते हो दूसरा किसी भी कार्य में तुम

कितने सक्षम होगे कहां तक जा पाओगे इसका

जवाब भी मैं तुम्हें देती हूं जब भी तुम

किसी बड़े कार्य या बड़े मुकाम पर पहुंचने

की कोशिश करते हो तुम बार-बार अपने मन में

इस विचार को लाओ कि मैं उस मुकाम पर पहुंच

कर रहूंगा उसके पश्चात तुम्हारे हृदय में

यह बात आती है कि यह कार्य पूरा नहीं हो

पाएगा तो निश्चित ही समझ लेना वह जवाब मैं

तुम्हें दे रही हूं तुम्हारा यह सोचना कि

मेरा कार्य कब पूरा होगा परंतु तुम्हें

अपनी प्रार्थना में यह शामिल करना चाहिए

कि जो करो वह बहुत अच्छा करना भले ही देर

से हो परंतु परिणाम अच्छा और शुभ होना

चाहिए मेरे बच्चे मेरे एक सवाल का जवाब दो

क्या तुम मेरी पूजा स्वार्थ की भावना से

करते हो परंतु मैं तुमसे प्रेम स्वार्थ से

नहीं करती मेरा प्रेम निस्वार्थ है तुम भी

निस्वार्थ भावना से मुझसे प्रेम करो

तुम्हारा प्रेम मुझसे जुड़ा हुआ है मेरे

बच्चे तो कई ऐसे हैं जो किसी काम को पूर्ण

होने में बलम होने पर क्रोध में मेरी पूजा

करना ही छोड़ देते हैं मुझ पर विश्वास

करना छोड़ देते हैं उसके पीछे का कारण ही

नहीं समझ पाते मेरे बच्चे तुम यह मत भूलो

कि मैं सब तुम्हारे साथ हूं मेरे बच्चे

तुम मेरे लिए बहुत खास हो क्योंकि तुमने

वह किया है जो कि मुझे बहुत प्रसन्न कर

रहा है मेरे प्रेम की कसौटी पर तुम खरे

उतरे हो तुम्हारे ऐसे कार्य मेरे हृदय को

बहुत सुकून पहुंचा रहे हैं तुम जो इतना हर

बात में मुझसे प्रार्थना करते हो और

तुम्हारे किए गए सभी कार्य मुझे बहुत

ज्यादा प्रभावित करते हैं तुम्हारी यह सभी

कार्य मुझे अपनी ओर आकर्षित करते हैं

हमेशा तुम इस बात का ध्यान रखते हो कि जब

भी कोई असहाय व्यक्ति तुम्हारे सामने से

गुजरता है तो तुम उसे मदद अवश्य करते हो

तुम चाहे किसी भी परिस्थिति में हो तुम

उसे कभी खाली नहीं जाने देते मेरे बच्चे

तुम कामयाबी के हकदार हो क्योंकि तुम हो

जिसने ऐसे समय को अपनी ओर आकर्षित किया है

जिसका मार्ग कामयाबी की ओर जाता है

क्योंकि तुमने जो किया है वह एक साधारण

इंसान का करना संभव है मेरे बच्चे एक ऐसी

शक्ति तुम्हारे पास है जिसके कारण तुम ऐसी

प्रगति में और एक ऐसी दिशा में चल रहे हो

कि तुम्हारे सामने कितनी भी कठिना आए

परंतु तुमने जिस मार्ग को चुना है उस

मार्ग पर तुम पूरी ताकत से तेजी से दौड़

सको क्योंकि सच कहा जाए तो तुम कछुए की

चाल में नहीं चल रहे हो बल्कि तुम एक चीते

की चाल में चल रहे हो चीता जो कि बहुत तेज

होता है जिसकी नजरें अपने शिकार पर होती

हैं आते ही शिकार को पकड़ लेती हैं और तुम

इसी तरह से कार्य कर रहे हो कि तुम्हें

मौका मिलना चा चाहिए मेरे बच्चे तुम्हारी

एक बात और है तुम बहुत जिद्दी बच्चे हो

जिस कार्य की ठान लेते हो उसे पूरा करके

ही दम लेते हो यह जिद तुम्हारी तुम्हारे

लिए कामयाबी का एक बहुत बड़ा हिस्सा है

तुम्हें पूरी लग्न से पूरे परिश्रम से

कार्य करने की शक्ति मिली है ऐसे बच्चे के

ऊपर भोलेनाथ की साक्षात कृपा रहती है सदा

खुश रहो मेरे बच्चे मेरे अगले संदेश की

प्रतीक्षा करना मैं फिर आऊंगी तुमसे मिलने

के

लिए मेरे बच्चे तुम अभी भी बहुत उलझन में

हो तुम्हें समझ नहीं आ रहा कि तुम ऐसा

क्या करो जिससे सब ठीक हो जाए तुम बहुत

असाय बहुत फंसा हुआ महसूस कर रहे हो मुझे

पता है तुम जीवन में कुछ बड़ा करना चाहते

हो तुमने एक बार दिलो जान से कोशिश की थी

तुमने बहुत कोशिश की थी अपनी तकदीर को

बदलने की किसी को चाहा था उसे पाने की

उसके साथ सपने देखे थे तुमने दिन रात एक

कर दिया था अपने सपनों को पाने के लिए

तुमने खाना पना सब छोड़ दिया था तुमने

इतनी मेहनत की थी पर वक्त ने और तकदीर ने

तुमसे सब छीन लिया तुम्हारी किस्मत ने

तुम्हें तुम्हारे सपनों से दूर कर दिया

तुम टूट गए हो मेरे बच्चे अब तुम्हारा मन

किसी काम में नहीं लग रहा है अब तुम्हें

किसी पर यकीन नहीं होता तुम्हारे दिल में

यह बात बैठ गई है कि तुम कभी सफल नहीं

होगे मुझे पता है तुम इस दर्द से आजादी

चाहते हो अपनी मुश्किल के दौर में भी

तुमने मेरा साथ नहीं छोड़ा तुमने कभी मुझे

दोष नहीं दिया कि मां आपने मुझसे मेरा सब

कुछ छीन लिया अब मैं तुम्हें सब कुछ दूंगी

मेरे बच्चे मैंने तुम्हारे भविष्य में वह

सब कुछ लिखा है जो अब तुमसे कोई नहीं छीन

पाएगा अब तुम जो भी चाहोगे वह तुमसे कभी

दूर नहीं

जाएगा तुम उस ऊंचाई पर बैठोगे जो तुमने

सपने में भी नहीं सोची थी तुम कभी हार

नहीं मानते तुम परिस्थितियों के आगे घुटने

नहीं टेकते मेरे ब

तुम एक दिन सितारे की तरह चमको ग यह मैंने

तुम्हारे भाग्य में लिखा है तुम्हें कभी

किसी के सामने हाथ फैलाने की जरूरत नहीं

पड़ेगी जो लोग तुम्हारे साथ छोड़कर चले गए

उन्हें अफसोस होगा कि काश उन्होंने

तुम्हारा साथ दिया होता काश वह थोड़ा

इंतजार कर लेते काश लोगों ने तुम्हें धोखा

ना दिया होता तुम्हारे साथ इतना बुरा ना

करते तो आज तुम्हारी सफलता का हिस्सा वो

भी होते हर कोई अफसोस करेगा मेरे बच्चे हर

इंसान बस यह सोचेगा कि काश वह वहां होते

जहां आज तुम हो तुम लोगों के लिए एक

प्रेरणा बनोगे जिसने बुरे से बुरे दिन

देखकर भी हार नहीं मानी अपने सपनों को

पूरा कर दिखाया चाहे उसका साथ किसी ने

दिया हो या ना दिया हो तुम्हें बस हार

नहीं माननी है मेरे बच्चे तुम्हें कभी

किसी के सामने झुकना नहीं पड़ेगा तुम

अकेले ही सफल होगे और अकेले ही चमको ग उस

अंधियारे में तुम्हारी चमक सबकी आंखों में

चुभे गी और सबको रोशनी भी देगी तुम्हारी

माता का आशीर्वाद है तुम्हारे साथ ओम नमः

शिवाय मेरे बच्चे जब भी तुम्हारा मन उदास

हो या आंखों में आंसू हो तो यह बात याद

रखना

कि तुम्हारा पिता सदैव साथ है मेरे बच्चे

जिंदगी में दो चीज खास होती हैं पहला समय

दूसरा प्रेम समय किसी का नहीं होता और

प्रेम हर किसी का नहीं होता मेरे बच्चे

किसी को धोखा देना एक कर्ज है जो तुम्हें

भी किसी और के हाथों एक दिन जरूर मिलेगा

जब भी विनाश होने का प्रारंभ होता है तो

शुरुआत बाणी के संयम खोने से ही होता है

तुम स्वयं को तब तक स्वतंत्र नहीं कर सकते

जब तक तुम दूसरों को प्रभावित करने के लिए

खुद में बदलाव लाते रहोगे तुमने खुद को

कमजोर मान लिया है वरना तुम जो कर सकते हो

वह कोई दूसरा नहीं कर सकता मेरे बच्चे इस

संसार का सबसे मजबूत इंसान वही है जिसका

हृदय टूटे सपने भी टूटे अपने भी रूठे

लेकिन फिर भी कहे मैं ठीक हूं क्योंकि

अपनी तारीफ और निंदा दोनों को स्वीकार

करें क्योंकि एक फूल को उगने में सूरज और

बारिश दोनों ही लगते हैं भाग्य से जितना

अधिक उम्मीद रखोगे वह उतना ही निराश करेगा

कर्म पर विश्वास रखो वह आपको आपकी उम्मीद

से भी अधिक देगा मेरे बच्चे ईश्वर सही समय

सही जगह व्यक्ति और आपकी प्रार्थना हों का

सही उत्तर जानते हैं बस उन पर विश्वास

रखिए सब कुछ ठीक होगा तुम्हारा कल्याण हो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *