माँ के २ सबसे शक्तिशाली मंत्र - Kabrau Mogal Dham

माँ के २ सबसे शक्तिशाली मंत्र

हमारे सनातन धर्म के विशाल और विराट

स्वरूप में इतने बहुमूल्य रत्न छुपे हैं

इतनी दुर्लभ चीज हैं जो वर्णन से शब्दों

से परे हैं बस अनुभव की जा सकती है और

अनुभव की भी जानी चाहिए ताकि हम अपनी

संस्कृति की अपने धर्म की शक्ति को पहचान

सके इनसे लाभ उठा पाए अपने जीवन को धनिया

बना पाए नमस्कार दोस्तों आप सभी पर मैन का

आशीर्वाद और बजरंगबली की कृपा सदा बनी रहे

दोस्तों आज का विषय बहुत ही आनंदित करने

वाला बहुत ही बहुमूल्य विषय है वैसे तो

मैन की शक्तियों का वर्णन करने वाला हर

विषय बहुमूल्य होता है आनंदित करने वाला

होता है जिस वीडियो में हम बात करेंगे मैन

की दुर्लभ शक्तियों को जागृत करने वाले दो

विशेष पाठों के बारे में लेकिन इन परतों

के बारे में बात करने से पहले संक्षिप्त

में हम जान लेते हैं की हमें हमारे जीवन

में शक्तियों से कनेक्ट

जब हम किसी भी शक्ति की आराधना करते हैं

उसका हवन करते हैं उसकी शरण में जाते हैं

तो निश्चित रूप से उसे शक्ति का आशीर्वाद

प्राप्त करने की कृपा प्राप्त करने की

अभिलाषा हमारे मैन में होती है साथ ही

आध्यात्मिक उन्नति की चाह भी हमारे मैन

में होती है इसके अलावा कई बार मानव जीवन

में कुछ ऐसी कठिन चुनौतियां कुछ ऐसी

परेशान आती हैं जब इन डेरी शक्तियों की

सहायता की जरूरत होती है और हमें नहीं

पुकारते हैं और ऐसे समय में सर्वोच्च

शक्ति कलयुग में जागृत शक्ति मैन काली का

नाम उनकी कृपा एक ऐसी दृढ़ता एक ऐसी

सुरक्षा अपने भक्तों को प्रदान करती है की

भक्त की नैया पार लगा देती है समस्त

बिगड़े कम बना देती है लेकिन कई बार ऐसा

भी होता है की मैन की कृपा का अनुभव

दर्शनों के माध्यम से स्वप्न में दर्शनों

के माध्यम से भक्तगण करते हैं और उन्हें

महसूस होता है की मैन की ऊर्जा उसे कहीं

ना कहीं जोड़ी है लेकिन उसके बावजूद भी

उनके कम नहीं बन पाते हैं कम उनके अटक

जाते हैं

है तो दोस्तों आप ऐसे सभी भक्तों के लिए

आज की वीडियो बहुत खास है आज हम जानेंगे

मैन की कृपा प्राप्त करने के सरलतम तरीके

के बारे में सरलतम उपाय के बारे में और

विशेष कर मैन के वो भक्त जो समय के अभाव

के चलते लंबी साधनाएं किसे कारणवश नहीं कर

सकते हैं उन लोगों के लिए भी ये दो पार्ट

बहुत उपयोगी सिद्ध होंगे

मैन काली की कृपा को प्राप्त करने के लिए

और जीवन में हर प्रकार की उन्नति के लिए

जो सर्वश्रेष्ठ उपाय है वह दुर्गा सप्तशती

में दिया गया चांदी कवच और अर्गला स्तोत्र

का नियमित पाठ यहां पर मैं एक बात आप

लोगों को स्पष्ट कर डन की जो भी भक्त मैन

दुर्गा के स्वरूप से जुड़े हैं तो वह मैन

दुर्गा के स्वरूप का आह्वान करते हुए इन

पाठको को करें और जो मैन काली के स्वरूप

से ज्यादा लगाओ ज्यादा चुनाव महसूस करते

हैं तो मैन काली

क्योंकि दोस्तों ऊर्जा एक ही है

दोनों पाठ मैन की स्तुति है और हर प्रकार

से व्यक्ति के जीवन में उन्नति के द्वार

खोलते हैं बस नियमित इनको करने की जरूरत

होती है

जो लंबी अनुष्ठानों से लंबी

sadhnaon से प्राप्त हो सकता है

स्वयं के जीवन में बहुत बदलाव आता है बहुत

सुधार होता है मैन की कृपा बरसाती है और

ना सिर्फ स्वयं के जीवन में बल्कि घर के

अन्य सदस्यों का जीवन भी सुधार जाता है घर

की जो नकारात्मक ऊर्जा है कल है क्लेश है

वो तो दूर होता ही है बल्कि जो घर का

वातावरण है वो shantimay प्रेम में हो

जाता है तो सबसे पहले बात करती हूं

चंडीगढ़ कवच की जिसे दुर्गा कवच या देवी

कवच भी कहते हैं दुर्गा कवच पुराने में

से सबसे शक्तिशाली मार्कण्डेय पुराण का एक

हिस्सा है ब्रह्मा जी ने यह कवच ऋषि

मार्कण्डेय को सुनाया था और इस कवच के

नियमित पाठ से जीवन की तमाम बधाई दूर होती

है मानसिक स्टार पर कोई भी गलत शक्ति

हमारे ऊपर हावी नहीं होती क्योंकि दुर्गा

कवच में हमारे सभी अंगों का उल्लेख है और

प्रत्येक अंग की रक्षा की प्रार्थना मैन

दुर्गा की विभिन्न शक्तियों से की गई मैन

दुर्गा के इस कवच में सभी मेट्रो में हर

प्रतिकूल परिस्थितियों को बदलने की ताकत

है इस कवच के नियमित पाठ से सुरक्षा

मिल जाता है और बुरी शक्तियों से हमारी

रक्षा करता है जिन लोगों को यह लगता है की

उनके घर में कोई बुरी शक्ति है या किसी ने

कुछ तंत्र क्रिया कारी हुई है उन्हें

नियमित रूप से इसका बच का पाठ जरूर करना

चाहिए शारीरिक बीमारियों से यह कवच रक्षा

करता है अकाल मृत्यु दुर्घटना से शत्रुओं

से रक्षा करता है और इस कवच के बारे में

ये जितना भी कहा जाए उतना ही कम है घर के

किसी भी व्यक्ति पर कोई संकट है या संतान

की सुरक्षा की चिंता आपको सत रही है तो

उनके लिए भी कवच का पाठ आप उठा सकते हैं

बहुत लाभ प्रदर्शित होगा तो जो ये चांदी

कवच है ये सुरक्षा के लिए है किसी भी शंकर

से सुरक्षा के लिए है अब जो दूसरा पार्ट

है उसके बारे में हम बात करते हैं वो है

आर्थिक संकटों से निपटने का अचूक उपाय और

हर प्रकार की उन्नति के लिए अचूक उपाय वो

है दुर्गा सप्तशती में वर्णित अर्गला

स्तोत्र के सभी मंत्र सिद्ध हैं और इन सभी

मेट्रो में हम भगवती से प्रार्थना करते

हैं की ही भगवती हमें रूप दो जय दो और

शत्रुओं का

मनुष्य जिन कार्यों के अभिलाषा करता है वह

सभी कार्य अर्गला स्तोत्र के नियमित पाठ

से पूरे हो जाते हैं समस्त कार्यों में

विजय की प्राप्ति इस पाठ को करने मात्रा

से प्राप्त हो जाती है इसके अलावा यदि

शत्रुओं से पीड़ित हैं तो ऑर्गेनाइज

स्तोत्र में वर्णित इस मंत्र का नियमित

बार आप पाठ कर लें वो मंत्र है

रक्तबीज वादे देवी चंद मुंड विनाश ने रूपम

देही जयम देही यश देही यश जाहि यदि

सौभाग्य की उन्नति की कामना है तो इस

मंत्र का नियमित बार जप कर लें दे ही

सौभाग्य आरोग्यम देही में परमानंद सुखम

रूपम देवी जय अंबे यशोदा

की प्राप्ति के लिए इस श्लोक का बार

बार पाठ करें vidyavantam yashavantam

लक्ष्मी वनतम जन्म गुरु रूपम देही जय अंबे

[संगीत]

दिन का संकल्प लेकर भी कर सकते हैं और

बिना संकल्प के भी पूजा में यदि नियम से

इनका पाठ करेंगे तो अवश्य है आपको अद्भुत

लाभ की प्राप्ति होती है जो भक्तगण हवन

आदि कर सकते हैं वह समय-समय पर घी और काली

तिल से arghalai स्तोत्र के मेट्रो से हवन

करें तो मितेश शीघ्र प्रसन्न होती है और

जो भी आपकी मनोकामनाएं हैं वो पूर्ण होती

है

एक व्यक्ति को जीवन में क्या चाहिए रूप धन

यश और शत्रुओं से मुक्ति यह सभी

abhilashay इस स्तुति के नियमित पाठ से

व्यक्ति की सिद्ध होती है

जो भी इन पाठको को करता है मैन उन भक्तों

को अपनी शक्ति का अपनी ऊर्जा का अनुभव

अवश्य करती है

दोस्तों जहां भी इन परतों को किया जाता है

नियमित वहां मैन की शक्तियां मैन की

योगिनी अम्मा के गण उसे स्थान पर अवश्य

पहुंचने हैं और उसे स्थान की और उसे

व्यक्ति की विशेष की जो इन बातों को करता

है उसकी रक्षा अवश्य करते

हैं और इन पाठों के करने से तुरंत मा अपने

भक्तों की पुकार सुनती है

[संगीत]

उठने से संबंधित जानकारी

[संगीत]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *