माँ काली वह तुम्हें रुला कर बहुत खुश है। अब उसके रोने का समय आ गया है। - Kabrau Mogal Dham

माँ काली वह तुम्हें रुला कर बहुत खुश है। अब उसके रोने का समय आ गया है।

[संगीत]

मेरे

बच्चे जिस व्यक्ति के कारण तुम्हारी आंखों

में आंसू आए

हैं उसके बुरे दिन शुरू हो गए

हैं उसने तुम्हें दुख

दिया तुम्हारी मजबूरी का फायदा

उठाया अब प्रकृति उसे बार-बार दुख

देकर बार रुलाई

की बहुत खुश है वह अपने निर्णय

से तुम्हारे मन को आहत करके

भी उसे लग रहा है जैसे उसने कोई पाप नहीं

किया परंतु जल्द ही उसे यह एहसास

होगा कि तुम्हें कष्ट

देकर उसने अपने विनाश का द्वार खोल दिया

है उसने जो तुम साथ किया

[संगीत]

है उसका हिसाब उसे देना ही

[संगीत]

होगा मैं जानती

[संगीत]

हूं उसकी बातें तुम्हें बहुत परेशान करती

[संगीत]

हैं एक समय पर वह

इंसान तुम पर जान देता

[संगीत]

था तुम्हें एक पल भी रोने नहीं देता था

उसके प्रेम की उसकी परवाह

की तुम्हें आदत हो गई

है किंतु अचानक से उसे बदलते

देख तुम्हारे पैरों तले जमीन खिसक गई

है तुमने कभी सोचा भी नहीं

[संगीत]

था कि वह व्यक्ति कभी तुमसे छल करेगा

मेरे बच्चे आरंभ से

ही तुम्हें संकेत मिल रहे

थे कि वह तुम्हारे योग्य नहीं

है किंतु प्रेम में अंधे

होकर तुमने उन संकेतों को अनदेखा कर

दिया आज उसका जो चेहरा तुम्हारे सामने है

वही उसकी सच्चाई

है किंतु शराफत का मुखौटा पहनकर

उसने तुम्हारे प्रेम और भरोसे

का बहुत फायदा

[संगीत]

उठाया किंतु तुम चिंता मत

करो आज तुम्हें रुलाकर वह हंस रहा

है तुम भी यही सोच रहे हो

कि वह व्यक्ति कितना खुश

है तुम्हारे ऊपर क्या बीत रही

[संगीत]

है उसे तुम्हारी पीड़ा का कोई एहसास नहीं

है मेरे बच्चे जितना हंसना

था उसने हंस

लिया अब उसके रोने की बारी आ रही है

अब उसे भी तुम्हारी पीड़ा का एहसास

होगा बहुत जल्द उसके जीवन

में भुज जाल आने वाला

है किसी के माध्यम

से उसे ऐसी खबर मिलने वाली

[संगीत]

है जिसे सुनते ही उसकी आंखों से रक्त

बहेगा

उसे भी अब धोखे का स्वाद चखना

होगा मेरे बच्चे मैं जानती

हूं जिस पीड़ा का तुम अनुभव कर रहे

हो वह बहुत बुरा

है ऐसा प्रतीत हो रहा

है जैसे जिंदगी हाथों से छूट गई है

जैसे किसी ने बहुत बुरी तरह मजाक उड़ाया

हो किंतु यह समय केवल थोड़े दिनों का

है तुम यह मत

सोचो कि तुम्हारे जीवन से खुशियां चली गई

हैं तुम्हें कभी सुख नहीं

मिलेगा और वह व्यक्ति आराम का जीवन

जिएगा जिसने तुम्हें बर्बाद

किया मेरे बच्चे सच्ची खुशी

को तुमने आज तक कभी अनुभव नहीं

[संगीत]

किया तुम्हारे जीवन में जो लोग आए जो

खुशियां

आई वह झूठी

है तुमने केवल उन खुशियों का अनुभव किया

है

[संगीत]

जो क्षणिक होती

हैं मेरे

बच्चे जिस संबंध की नीव ही झूठ पर रखी गई

थी उसके टूटने का शोक भी मत

[संगीत]

करो तुम खुश हो

जाओ तुम भाग्यशाली हो कि बहुत जल्द नियती

[संगीत]

ने तुम्हें उन लोगों से दूर दर कर

[संगीत]

दिया जो तुम्हारे प्रेम के लायक नहीं

थे तुम्हारे भरोसे के लायक नहीं

थे अब भागा तो वह

है जिसने तुम जैसे साथी को खो

दिया तुम जैसे सच्चे और सीधे इंसान के साथ

उसने विश्वास घात

किया मेरे बच्चे कर्म जल्द ही लौट कर

आएगा जिसने तुम्हें मूर्ख

बनाकर तुम्हारी भावनाओं से

[संगीत]

खेलकर तुमसे अपना स्वार्थ पूरा किया

है मैं उसके दिल का सुकून छीन लूंगी

उसे घुट घुट कर मरना

होगा अपने किए का दंड उसे भोगना

होगा जहां एक और वह अपनी खुशी के लिए

तरसेगा तो वही दूसरी

ओर तुम्हारे जीवन में अथाह खुशियों का

आगमन

होगा मेरे बच्चे तुम्हारे जीवन में चाहे

कैसी भी परिस्थिति

हो कैसी भी विपत्ति

आए तुम कभी निराश मत

होना कभी भी चिंतित मत

होना तुम इतने सच्चे और नेक

हो कि प्रकृति तुम्हारे साथ कभी अन्याय कर

ही नहीं सकती

अपनी नेकी के लिए तुम जाने जाते

हो इसलिए अपने आप पर अपने कर्म पर भरोसा

रखो तुम्हें न्याय अवश्य

मिलेगा तुम्हें हमेशा उससे ज्यादा मिलेगा

जितने के तुम हकदार

हो मेरा आशीर्वाद तुम्हारे साथ

है खुश

रहो तुम्हारा दिन मंगलमय हो

सच्चे मन से

कहो जय माका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *