माँ काली मैंने तुम्हें रोते हुए देखा है।। तुम्हारे साथ बहुत अन्याय हो रहा है। - Kabrau Mogal Dham

माँ काली मैंने तुम्हें रोते हुए देखा है।। तुम्हारे साथ बहुत अन्याय हो रहा है।

मेरे

बच्चे क्या हुआ क्यों उदास

हो मैंने तुम्हें मन ही मन रोते हुए

देखा बहुत अकेलापन बहुत टूटा हुआ महसूस कर

रहे हो तुम कुछ चीजों को

लेकर बार-बार तुम अपने भाग्य को कोस रहे

हो तुम्हें अब ऐसा लगने लगा है

जैसे तुम्हारी किस्मत में ही कोई दोष

है अन्यथा इतने संघर्ष के बाद

भी तुम्हें सफलता क्यों नहीं मिल

[संगीत]

रही ऐसा लगता है मानो जैसे दुख तुम्हारा

पीछा कर रहा

है जहां भी जा रहे

हो जो भी कर रहे हो हर जगह से मिल रही

है यहां तक कि तुम्हारे रिश्ते

भी तुम्हारा साथ छोड़ रहे

हैं तुम्हारे अपने बहुत परेशान है दुखी

हैं और उनके दुख का कारण भी तुम स्वयं को

मानते

हो मेरे लाडले तुम मेरा अंश

हो मेरे हृदय का टुकड़ा

हो

तुमने यह कैसे सोच

लिया कि तुम अभागे हो सकते

हो कभी अकेले हो सकते

हो मेरे बच्चे मैं जानती

हूं तुम विषम परिस्थितियों का सामना कर

रहे

हो यह समय तुम्हें बहुत रुला रहा

है

विश्वास रखो मैं तुम्हारी मां

हूं तुम्हें परेशान

देखकर मेरे हृदय से भी रक्त बहता

है परंतु तुम्हारे उज्जवल भविष्य के

लिए तुम्हें थोड़ी यातना तो सहनी

पड़ेगी तुम यह मत

सोचो तुम्हारी मां तुम्हें दुख दे रही

है अर्थात मैं तो तुम्हें दुख से बचा रही

हूं तुम्हें मेरी योजनाओं पर भरोसा रखना

होगा जीवन भर तुम्हें दुख ना सहना

पड़े इसलिए कुछ समय का दुख उठाना

पड़ेगा मेरे बच्चे तुम्हें क्यों लगता

है कि तुम्हारे साथ अन्याय हो रहा

है जो हो रहा है वह तुम्हारे अच्छे जीवन

के लिए

है अपने मन से यह भय निकाल

दो कि तुम्हें जीवन भर असफलता

तनाव दुख दर्द और निराशा सहना

पड़ेगा मेरे बच्चे क्या तुम जानते

हो तुम्हारी अच्छाई पूरा ब्रह्मांड देख

रहा

है तुम इतने प्यारे

हो कि हर पल मैं तुम्हें अपने हृदय में

धारण करती

हूं तुम्हारे कर्म बहुत अच्छे

हैं तुमने सदैव खुद की खुशियों को पीछे

रखकर

दूसरों को खुशी दी

है तुमने अपने परिवार के के प्रति अपने

प्रेम के

प्रति अपना हर उत्तरदायित्व निभाया

है तुमने सबको खुश रखने के

लिए प्रत प्रयास किया

है फिर भी तुम्हारे मन में यह पश्चाताप

है कि तुम अपनी जिम्मेदारियों को निभा

नहीं पा रहे

हो मेरे बच्चे

तुमसे जितना हो पा रहा है तुम कर रहे

हो और मैं यह भी जानती

हूं कि तुम्हारे मन में हमेशा यह विचार

चलते रहते

हैं कि मैं ऐसा क्या कर

दूं जिससे मेरा परिवार खुशी से झूम

उठे मैं यह भी जानती

हूं तुम्हे कभी-कभी बहुत क्रोध आता है

क्योंकि तुम मानसिक दबाव में

हो इसलिए तुम्हारे गुस्से के

कारण कभी-कभी तुम्हारे अपने दुखी हो जाते

हैं और उनके दुख का कारण भी तुम स्वयं को

मान लेते

हो मेरे बच्चे तुम किसी के दुख का कारण बन

ही नहीं

सकते तुम तो वह उम्मीद हो

जिसे पाकर दुख में भी व्यक्ति खिलखिला

उठे मेरे बच्चे मैं जानती

हूं तुम्हारे सभी कार्य बिगड़ रहे

[संगीत]

हैं परंतु इसका कारण तुम्हारा दुर्भाग्य

नहीं

[संगीत]

है मुझे पता है तुम्हारे घाव गहरे

हैं कुछ लोगों की बातें उनके

ताने तुम्हें भीतर ही भीतर खाए जाते

हैं किंतु स्मरण

रहे तुम्हारे जीवन में कुछ बहुत अच्छा

होने वाला

है आज जो लोग तुम्हें ताने देते

हैं तुम्हारे सपनों पर हंसते

हैं वह भी आश्चर्य हो

जाएंगे

तुम्हारी कामयाबी

देखकर आज जो छोटी-छोटी खुशियां तुमसे दूर

जा रही

हैं उनके लिए चिंतित ना

हो बहुत जल्द यही

खुशियां तुम्हारे लिए खुशियों का भंडार

बनकर

आएंगी आज भले ही संघर्ष के बाद भी तुम्हें

सफलता नहीं मिल

रही

किंतु शीघ्र ही तुम्हें बहुत बड़ी सफलता

मिलेगी तुम बस निराश ना हो यह सोचकर

कि तुम्हें किस्मत रुला रही

है मेरे बच्चे तुम्हारा

उपयोग किसी बड़े उद्देश्य के लिए किया जा

रहा

है जहां पहुंचना तुम्हारे जीवन का लक्ष्य

है

उस लक्ष्य तक पहुंचने वाले मार्ग का मैं

निर्माण कर रही हूं मेरे बच्चे जब कोई

तुम्हें रुलाए तुम्हारा भरोसा तोड़ दे तो

दुखी होने के बजाय यह सोचकर खुश

होना कि शायद तुम्हारा

जन्म किसी और बड़े कार्य के लिए हुआ

है मेरे बच्चे पूरे विश्व

में कोई इंसान कोई खुशी तुम्हारे

लक्ष्य और तुम्हारे जीवन से अधिक मूल्यवान

नहीं

है इस ब्रह्मांड की सबसे कीमती

चीज तुम और तुम्हारा जीवन

है इसलिए खुश

रहो अपना ख्याल रखो व्यर्थ चिंताओं को

त्याग

दो क्योंकि तुम्हें बहुत कुछ ऐसा मिलने

वाला

है जिसे देखकर तुम्हारे साथ-साथ

तुम्हारा परिवार तुम्हारे मित्र तुम्हारा

शत्रु सभी अचंभित रह

जाएंगे उस शुभ समय का इंतजार

करो वह आने ही वाला

है खुश रहो मेरा आशीर्वाद तुम्हारे साथ है

तुम्हारा कल्याण

हो सच्चे मन से कहो जय मा

काली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *