माँ काली बहुत जल्द तुम अपने नए घर में जाने वाले हो क्योंकि - Kabrau Mogal Dham

माँ काली बहुत जल्द तुम अपने नए घर में जाने वाले हो क्योंकि

मेरे बच्चे मेरा संदेश मिलने का अर्थ है

कि मैं कि मैं तुम्हें बात बताने आई हूं

तुमसे कोई है जो मिलना चाहता है अभी के

समय से पहले काफी समय पहले से तुम उसका

इंतजार कर रहे थे लेकिन अब वह तुमसे खुद

मिलना चाहता है और उसका कुछ खास कारण है

जिसकी वजह से वह तुम्हारे पास आकर मिलना

चाहता है तुम उससे मिलने से पहले

मेरी बातों को ध्यानपूर्वक अवश्य सुनना और

तुम्हें उससे मिलना है क्योंकि जिस प्रकार

तुम किसी अपने पसंद के व्यक्ति से मिलते

हो तो अपने हृदय के अंदर कोमलता रखते हो

क्योंकि तुम चाहते हो कि वह तुमसे कभी

रूठे ना इसी प्रकार तुमसे जो मिलने वाला

है उससे मिलने से पहले तुम्हें इसी प्रकार

कोमल हृदय रखना होगा और अपनी वाणी को बहुत

ही मीठा और अच्छा बनाना होगा क्योंकि जिस

प्रकार इंसान को मधुर वाणी पसंद है और

उससे अच्छा स्वभाव पसंद है इसलिए इसी तरह

जो तुमसे मिलने आने वाला है उसे भी मीठी

वाणी और कोमल हृदय ही पसंद है और वह कोई

और नहीं है जो तुमसे मिलने आ रहे हैं

बल्कि वह तो मेरे खुद भोलेनाथ परमपिता

परमेश्वर है जो तुम से मिलने आ रहे हैं

आने वाले शीघ्र ही समय में वह इस धरती पर

एक महीने तक यहीं विराजमान रहेंगे प्रसन्न

मुर्दा में तुम्हें देखेंगे तुम्हारी

बातों को सुनेंगे और तुम जो मांगोगे वह भी

सुनेंगे लेकिन साथ-साथ में तुमको उस

परीक्षा से गुजरना होगा जो वह तुम्हारी

लेंगे अर्थात इस पृथ्वी पर तुम कितने

सक्षम हो किसी चीज को पा ने में कितनी

योग्यता है तुम्हारे अंदर वह तुम्हारे

स्वभाव को देखकर समझेंगे जब वह तुम्हारे

करीब प्रकृति में विद्यमान शक्ति के

द्वारा आएंगे तब बस तुम्हें ध्यान रखना है

कि तुम्हें किसी भी वजह से उनके साथ कठोर

वचन नहीं बोलना है और ना ही उनका अपमान

करना है इसके लिए ज्यादा कुछ करने की

आवश्यकता नहीं बल्कि बस तुम अपने स्वभाव

को हमेशा इस तरह बनाक रखो कि जब भी तुम

किसी से बात करो तो तुम्हारे हृदय के अंदर

से बहुत ही कोमल वाणी निकले हुए शब्द और

तुम्हारे मुख से निकले हुए शब्द सबको

प्रिय लगे अर्थ यह है कि अगर तुम्हें ऐसा

लगता है कि तुम किसी से मिलो तो वह तुमसे

अच्छा बोली तुम्हें कितना अच्छा लगेगा

क्योंकि अच्छा बोलने में या अच्छी भावना

रखने में तुम्हारा कुछ जाता नहीं है है

मेरे बच्चे बल्कि तुम्हारे पास बहुत कुछ

आता है तुम्हारे पास ऐसी आकर्षित करने की

शक्ति विद्यमान होती है जिससे तुम संसार

की हर चीज को अपनी ओर आकर्षित कर सकते हो

इंसान को अच्छे समय को और मांगी हुई हर

इच्छा को पूरा करने की शक्ति तुम्हें

प्राप्त होने लगती है क्योंकि हर चीज जो

प्रकृति में विद्यमान है उसकी शक्तियां

तुम्हारे अनुकूल होने लगती हैं और वह सभी

शक्तियां मिलकर तुम्हें जो चाहो प्राप्त

कराती

हैं मेरे बच्चे तुम्हारे प्रेम को किसी की

बुरी नजर लग चुकी है इसलिए मेरे बच्चे

तुम्हारा प्रेम खतरे में है इसलिए तुमको

और तुम्हारे प्यार को बचाने के लिए कुछ

जरूरी बात बताने आई हूं मेरे बच्चे

क्योंकि तुम मेरे ऊपर ही अपने आप को

सौप चुके हो इसलिए मैं स्वयं करूंगी

तुम्हारी

रक्षा मैं तुम्हारे प्रेम पर आंच भी नहीं

आने दूंगी और तुम्हारे इस संदेश को पूर्ण

रूप से सुनने के पश्चात आधि रक्षा तो तुम

स्वयं ही कर पाओगे और आधी मैं स्वयं

तुम्हारी रक्षा

करूंगी क्योंकि मेरे बच्चे जीवन में प्रेम

पाना बहुत ही अच्छा और सच्चा होता

लेकिन यदि तुम्हारा प्रेम किसी और के कारण

खतरे में है तो निश्चित ही तुम्हें बचाने

की आवश्यकता है और तुम्हें बचाना भी चाहिए

कोई है जिसकी

तुम्हें तुम पर बुरी नजर लग चुकी है उसी

दृष्टि के दोष से भी बचाना है और तुम्हें

कुछ ऐसे कार्य करने हैं जिससे कि तुम्हारा

प्रेम बच पाए जिस प्रकार तुम्हारा

स्वास्थ्य को कभी कभी किसी की गंदी नजर लग

जाती है तो तुम बीमार पड़ जाते हो या ऐसे

इंसान के कारण जो कि तुम पर गंदी नजर रखता

है तुम्हें अपना बनाना चाहता है वह नहीं

चाहता कि तुम्हारा प्रेम तुम्हारा रहे

तुम्हारा प्रेम तुमसे अलग करना चाहता है

इसलिए वह कुछ ना कुछ गलत बातों को बोलकर

तुम दोनों के बीच में लड़ाई करवा रहा है

क्योंकि उसे तुम लोगों के बीच में आना

और अपना बनाना है लेकिन ऐसे किसी के बीच

में जाने से किसी का प्रेम ना तो छिनता है

ना किसी दूसरे को मिलता है जो सच्चा

प्रेमी है वही तुम्हारे जीवन में रहेगा और

मैं तुम्हें उससे कभी अलग नहीं होने दूंगी

भले ही तुम्हारे प्रति कोई कितना भी कोई

भी गलत नजर रखे फिर भी कामयाब नहीं होने

दूंगी एक बात का ध्यान रखो लड़की हो या

लड़का स्त्री हो या पुरुष जीवन साथी हो या

तुम्हारा प्रेमी प्रेमिका यदि पत्नी को

कोई स्त्री गलत बातें बोलता है या पुरुष

कोई गलत बात बोलता है तो अपने दिमाग में

तुम यह समझ लेना कि निश्चित ही वह तुम्हें

तुम्हारे पति या पत्नी से दूर करना चाहता

है उसकी बातों को दिल से मत लगाना और उसकी

बातों पर यकीन मत करना कि केवल अपनी आंखों

से और अपने मस्तिष्क से और अपने हृदय से

उस बात को परखना जब तुम्हें बात सच दिखाई

दे अपने पति या पत्नी के अंदर तभी तुम

उनकी बातों का यकीन करना क्योंकि कई बार

ऐसा होता है कि कोई सिखाने वाला व्यक्ति

तुम्हें तुम्हारे साथी से दूर करना चाहता

है इसलिए इस बात का खास ध्यान रखना और यही

बात पुरुष के लिए भी है कई बार पुरुष का

कोई दोस्त उसकी पत्नी के बारे में उल्टी

सीधी बातें कहकर उसके खिलाफ गलत बातें

दिमाग में भर देता है जिससे कि पति अपनी

पत्नी का हृदय से दूर हो जाए और ऐसे में

पति को भी यही चाहिए कि वह अपनी पत्नी पर

पूर्ण विश्वास रखे और उसे देखकर किसी बात

पर यकीन करें इसलिए तुमको तुम्हारे प्रेम

से जो अलग करना चाहता है कितना भी सोचे

कितना भी प्रयास करें लेकिन तुम जब तक सही

हो स्वयं को तो अपने प्रेम को समझते हो और

तुम्हें यह ज्ञात है कि प्रेम करने वाला

कभी झूठ नहीं बोलता तो इस बात को भी तुम

बहुत अच्छे से समझ लो कि यदि तुमने अपने

प्रेमी को समझ लिया तो ना ही तुम किसी के

बहकावे में आओगे और ना ही तुम अपने प्रेम

से दूर हो पाओगे मेरे बच्चे जब तुम अपने

प्रेम को नहीं समझते हो तभी किसी की बुरी

नजर

तुम्हारे हद तक कामयाब होती है इसलिए ना

तो तुम्हें किसी की बातों में आना है ना

ही ऐसे बिना किसी की बातों को सुनते हुए

किसी की और ना ही ज्यादा सोच विचार करना

है क्योंकि ज्यादा सोच विचार करोगे तो तुम

अभी भी वह प्रेम प्राप्त नहीं कर पाओगे

मेरे बच्चे मेरी अंतिम चेतावनी है मैं

तुम्हें आखिरी बार समझा रही हूं यदि तुमने

मेरी बातों को ध्यान पूर्वक नहीं सुना और

ध्यान नहीं दिया तो तुम्हें मेरे अत्यधिक

क्रोध का सामना करना पड़ेगा इसलिए मैं

तुम्हें यह संदेश भेज रही हूं मेरे बच्चे

इसलिए जो आज बताने आई हूं ध्यानपूर्वक

सुनना और समझना क्योंकि इस बात को समझना

बहुत ज्यादा जरूरी है तुम्हारे लिए जीवन

के रास्ते रुकने के बहुत कारण होते हैं

परंतु रास्ते खुलने की बहुत कम वजह इसलिए

तुम उन वजहों को कभी अनदेखा मत करो

क्योंकि गुनाह तुम्हें बड़ी-बड़ी गलतियों

से प्राप्त होता है परंतु मेरे बच्चे

पुण्य तुम्हें छोटे-छोटे कार्य से ही

प्राप्त हो जाता है बड़ी-बड़ी गलती होगी

तब भी छोटे-छोटे कार्य से भी माफी मिल

जाएगी लेकिन सबसे पहले तुम्हें इस बात का

ध्यान रखना अति आवश्यक है कि तुम ऐसा कोई

कार्य करो नहीं जिससे तुम गुनाह के

भागीदार बन जाओ यदि जीवन में तुमसे कोई

गलती हो जाती है तो तुम उसको ध्यान में

रखते हुए उसकी माफी की याचना करते हुए कुछ

ऐसे कार्य करो जिससे तुम्हारी वह गलती की

माफी तुम्हें मिल जाए और आगे के सभी मार्ग

तुम्हारे लिए खुल जाएं मुझे ज्ञात है मेरे

बच्चे कि पैसों की आवश्यकता सभी को होती

है परंतु यह मैं तुम्हें कई बार समझा चुकी

हूं कि गलत मार्ग से पैसे यदि तुम अर्जित

करते हो तो तुम बहुत बड़ा पाप कर रहे हो

तुम सोचते हो कि घुमावदार काम करेंगे और

दुनिया को बेवकूफ बनाकर तुम पैसे अर्जित

कर लोगे तो यह तुम्हारी बहुत बड़ी भूल है

मेरे बच्चे क्योंकि वह पैसे तुम्हारे पास

कुछ समय के लिए तो आ जाएंगे लेकिन वह ऐसी

जगह और ऐसे कार्य में खर्च होंगे व्यर्थ

की चीजों में पैसे खर्च हो जाएंगे कहने का

तात्पर्य है कि वह बीमारी में या किसी

दुर्घटना में ऐसे कार्य में खर्च होंगे कि

तुम्हारे किसी मतलब के नहीं होंगे इसलिए

पैसे को ईमानदारी से कमा सकते हो मेरे

बच्चे ईमानदारी से कमाना और यदि जीवन में

कोई गलती हो जाती है तुमसे जाने अनजाने

भूल से तो तुम हर शनिवार को विष्णु देव

पीपल के वृक्ष में मां लक्ष्मी के साथ वास

करते हैं शनिवार के दिन सरसों के तेल का

दिया रख देना तुम्हें सभी गलतियों से वह

स्वयं माफ कर देंगे उनके माफ करते ही

मुझसे भी स्वतः ही माफी मिल जाएगी लेकिन

मेरे बच्चे इसके साथ ही इस बात का भी

स्मरण रखना कि तुम्हें गलत कार्य से किसी

भी सूरत में दूर रहना है हर दिन थोड़ी सी

पूजा पाठ करने से और कुछ भी मांगने से

तुम्हारी मनोकामना पूर्ण हो जाती है कहने

का अर्थ यह है मेरे बच्चे कि यदि तुम अपनी

गलतियों की माफी मांगते हुए इस कार्य को

करते हो तो माफी मिलती है यदि तुम्हारे

जीवन में नुकसान हो रहा होता है वह भी दूर

हो जाता है सतर्क होना होगा और ध्यान रखना

होगा कि तुम्हें अपने अच्छे दिनों के लिए

क्या-क्या करना है मेरे बच्चे मेरा

आशीर्वाद सदा तुम्हारे साथ है मेरे अगले

संदेश की प्रति करना ओम नमः शिवाय जय माका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *