माँ काली तुम्हारे सामने ऐसा तोहफा रखेंगे तुम मना नहीं कर पाओगे ।।ब्रह्मांड संदेश - Kabrau Mogal Dham

माँ काली तुम्हारे सामने ऐसा तोहफा रखेंगे तुम मना नहीं कर पाओगे ।।ब्रह्मांड संदेश

मेरे बच्चे आज मैं तुम्हें सावधान करने आई

हूं क्योंकि खतरा तुम्हारे सिर पर मडराल

है इसलिए तुम्हें पहले ही बचना है एक गलती

से बचना होगा तभी वह खतरा तुमसे दूर हो

जाएगा जिस प्रकार एक छोटा सा जहर का

टुकड़ा खाने से इंसान की जान चली जाती

[संगीत]

है उसी प्रकार एक ऐसा शुभ समय जिस समय यदि

तुम छोटी सी भी गलती करते हो तो वह गलती

तुम पर बहुत भारी पड़ती है वह तुम्हारे कई

गुना किए हुए अच्छे कर्म

को निफल कर देती है जिस तरह एक विद्यार्थी

काफी समय से पढ़ रहा

[संगीत]

हो लेकिन यद वह परीक्षा करीब आने पर पढ़ना

छोड़ दे या वह कुछ ऐसे कार्य में व्यस्त

रहे उसका पढ़ाई में मन ना लगे तो उसके

पहले की की गई परिश्रम सब बेकार हो जाता

है और वह जितने अंक का अधिकारी होता है वह

उसे प्राप्त नहीं होते

हैं इसी प्रकार तुम्हारे जीवन में भी कुछ

ऐसा पल आने वाला है जो तुम्हारे पिछले किए

गए कर्मों को तेज पानी में बहाकर अपनी ओर

लेकर जा सकता है खतरे से बचने के लिए जिस

तरह सदा तुम या तो अपने आप को सुरक्षा

देने के लिए अपने हाथ में अस्त्र

रखना या तुम सुरक्षा कवच पहनते हो पर यहां

तुम्हारे हाथ में ऐसा कुछ नहीं है मेरे

बच्चे यहां पर केवल तुम्हें एक ऐसी शक्ति

को अर्जित करना है जो तुम्हें बड़े खतरे

से बचाव करेगा और आने वाले खतरे से बचाने

के लिए तुम्हें केवल कुछ खास बातों का

ध्यान रखना

होगा आने वाली मुसीबत तुम्हारे निकट है

उससे पहले एक बहु बहुत बड़ा दिन आने वाला

है इस दिन यदि तुम थोड़ा सा पूजा पाठ कर

लो तो निश्चित ही तुम अपने ऊपर सुरक्षा

कवच के रूप में उसे तैयार कर पाओगे और

निश्चित ही आने वाली परेशानी से बचाव कर

[संगीत]

पाओगे आने वाले सोमवार के दिन सुबह प्रातः

काल सूर्य निकलने से पहले तुम उठ जाना और

स्नान कर स्वक्ष वस्त्र धारण करके थोड़ी

सी मिट्टी लेकर उससे एक शिवलिंग बनाना और

एक पुष्प चढ़ाकर उस पर थोड़ा जल और एक

पुष्प अर्पित करने के

[संगीत]

पश्चात तुम्हें उस दिन सुबह बार किसी

भी इष्ट देवता का जाप करते हुए ओम नमः

शिवाय का जाप करना अति आवश्यक है यदि सुबह

ही यह कार्य करना है वह भी सूर्य निकलने

से पहले इस कार्य को संपन्न कर लेना है

मेरे बच्चे क्योंकि इस दिन पूजा की जाती

[संगीत]

है तीन गुना ज्यादा शक्तिशाली होता है इस

दिन तुम यदि शक्ति एकत्रित कर

लोगे तो तुम आने वाली परेशानी से निश्चित

ही बच पाओगे क्योंकि यह दिन तुम्हारे बचाव

के लिए बहुत ज्यादा शक्ति रखता है और इस

दिन तुम किसी भी गलत वस्तु को हाथ मत

लगाना ऐसा कोई कार्य मत करना जिससे कि

तुम्हें परेशानी का सामना करना पड़े

अर्थात किसी गलत चीज का सेवन ना करना ना

ही किसी का मान करना मेरे बच्चे सबका आदर

सम्मान करते हुए इष्ट देव का स्मरण

करना मेरे बच्चे कभी जीवन में अच्छे दिन

आते हैं कभी बुरे दिन आते हैं जब तुम्हारे

ग्रहों की स्थिति बदलती है तब ऐसा होता है

अभी तुम्हारे ऊपर एक खतरा जो मंडरा रहा है

वह तुम्हारी आंखों को धोखा होने वाला है

सही चीजें भी तुम्हें गलत दिखाई देने

लगेंगी

तुम्हारा दिमाग विपरीत दिशा में चलेगा ऐसे

में तुम किसी से भी भयंकर शत्रुता भी कर

सकते हो और हो सकता है कि वह शत्रुता

तुम्हारी बहुत ज्यादा बढ़ जाए इसलिए अपने

दिमाग को थोड़ा शांत रखना और शांति और

धैर्य से ही हर कार्य को करना क्योंकि सोच

समझकर किए गए कार्य पर खतरा कम होता है और

अगर कुछ कमी है तो सोचकर केवल मन लगाकर

करने की समझकर करोगे वैसे ही हर परेशानी

से निकल जाओगे मेरे बच्चे मैं जानती हूं

कि तुम कभी नहीं चाहते कि तुम्हारे अपनों

के

[संगीत]

साथ

चाहे तुम खुद तकलीफ में कितनी भी रहो

परंतु तुम अपनों की सलामती सबसे पहले

चाहते हो परंतु जैसे तुम्हारे भीतर बहुत

अच्छे गुण हैं वैसे ही कुछ बुराइयां भी

हैं जिसे तुम स्वयं नहीं देख पाते मेरे

बच्चे कभी-कभी तुम गलत बातों को

सुनकर बहुत ही ज्यादा क्रोधित हो जाते हो

क्रोध के कारण तुम्हारे मुख से जो शब्द

निकलते हैं वह अच्छे हैं या बुरे उसका कोई

आभास तुम्हें नहीं रहता ऐसा नहीं है कि

क्रोध केवल तुम्हें ही आता है क्रोध तो हर

व्यक्ति को आता है यह बात मैं समझती

[संगीत]

हूं परंतु कुछ परिस्थितियों में शांत रहना

आवश्यक होता है क्योंकि वास्तव सब में

तुम्हारा अच्छा व्यवहार ही तुम्हारी पहचान

है और तुम्हारी पहचान ही तुम्हारी शक्ति

है मेरे बच्चे हमें सदैव जितना आवश्यक हो

उतना ही भाव दूसरों को प्रकट करना

चाहिए क्योंकि तुम जितना शांत रहकर संयम

व्यवहार करते हो उतना ही तुम्हारे भीतर

सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव होता है और

जितना तुम क्रोध को बढ़ावा देते हो उतनी

ही बुरी शक्तियां तुम्हारे प्रति आकर्षित

होती रहती

हैं मेरे बच्चे बुरा तो कोई भी बिना

परिश्रम किए भी बहुत आसानी से बन सकता है

परंतु अच्छा होने के लिए उसे धैर्य और

परिश्रम की आवश्यकता होती है जब हम खुद

में ही सहनशीलता नहीं ला पाते

तब तक हम केवल दूसरों की गलतियों को ही

देखते

हैं खुद में तो कभी भी कोई बुराइयां नहीं

देख पाता जो व्यक्ति खुद की बुराइयों को

पहचान लेता है उसके लिए खुद को और दूसरों

को समझना बहुत ही सरल हो जाता है मेरे

बच्चे आज तुम्हें मेरी एक बात माननी होगी

जो जीतता है वह हार भी सकता

[संगीत]

है किंतु जो दूसरों के दिलों को जीतता है

वह कभी अपने जीवन से हार नहीं सकता परिवार

के साथ धैर्य प्यार कहलाता है दूसरों के

साथ धैर्य सम्मान कहलाता है स्वयं के साथ

धैर्य आत्मविश्वास कहलाता है और मेहमान के

साथ धैर्य आस्था कहलाता

[संगीत]

है प्रकृति का काम तो लोगों को मिलाना है

रिश्तों की उम्र क्या होगी यह तो तुम्हारे

व्यवहार पर ही निर्धारित होता है जीवन का

प्रारंभ तुम्हारे रोने से होता है और जीवन

का अंत दूसरों के रोने से इस आरंभ और अंत

के बीच का समय भरपूर रहस्य भरा

हो बस यही सच है मेरे बच्चे बड़पन वह गुण

है जो पद से नहीं संस्कारों से प्राप्त

होता है परायो को अपना बनाना इतना मुश्किल

नहीं है जितना अपनों को अपना बनाए रखना है

जीवन में ऐसे कई लोग होते हैं जिन्हें तुम

समय के साथ साथ भूल जाते

[संगीत]

हो

परंतु ऐसे कुछ ही लोग होते हैं जिनके साथ

तुम समय भूल जाते हो ऐसे लोगों को तुम्हें

कभी नहीं खोना चाहिए जो व्यक्ति के चेहरे

पर हंसी और जीवन में खुशी लाने की क्षमता

रखता हो ईश्वर उसके चेहरे से कभी हंसी और

जीवन में से खुशी कम ना

[संगीत]

करे लोग इस लिए अकेले होते हैं क्योंकि

बहुत लोग मित्रता का पुल बनाने की वजह

दुश्मनी का दीवार खड़ी कर देते हैं परंतु

चेहरे पर हंसी लाना है हताश लोगों के जीवन

में खुशी लाने की क्षमता रखनी है तब मैं

तुमसे वादा करती हूं कि तुम्हारे जीवन से

खुशी और तुम्हारे चेहरे से मुस्कान कम

नहीं होने

दूंगी मेरे बच्चे

मैं तुम्हारे साथ हूं मैं तुम्हें देख रही

हूं मैं लगातार तुम्हारे दर्द को देख रही

हूं मैं तुम्हारे दर्द को महसूस कर रही

हूं मैं जानती हूं कि तुम जो लोगों को

बिना बताए हर वक्त बस परेशान रहते हो रोते

रहते हो मैं सब जानती

हूं मैंने तुम्हारे एकएक आंसू देखे हैं

मैं तुम्हें स्वयं अंदर से टूटता हुआ देख

रही हूं मेरे बच्चे बस अब और नहीं अपने

सारे दुख दर्द मुझे दे दो मैं तुम्हारे

साथ हमेशा हूं मैं तुम्हारे पास हमेशा हूं

एक बार सच्चे मन से पुकारो मैं तो

तुम्हारे अंदर ही हूं मेरे

[संगीत]

बच्चे मेरे बच्चे मैं तुम्हारे सारे कष्ट

दूर ना कर दूं तो कहना बस एक बार सच्चे मन

से पुकार कर तो देखो मेरे बच्चे तुम्हें

क्या यह पता है कि मैं तुम्हें अत्यधिक

प्रेम करती हूं और तुम्हारा कष्ट यानी

मेरा कष्ट तुम जो स्वयं को दुखी करते

[संगीत]

हो मेरे बच्चे तुम जो कुछ भी इस वक्त देख

रहे हो वह सब कुछ तुम्हारे जीवन का हिस्सा

है मेरे बच्चे इस संसार में आए हो तो

तुम्हें इन परीक्षाओं को तो पास करना ही

होगा मेरे बच्चे एक बात सदैव याद रखना

तुम्हारा दुख तुमसे बड़ा नहीं बल्कि तुम

अपने दुख से बड़े

हो तुम्हारा दुख शक्तिशाली नहीं बल्कि तुम

अपने दुख से अत्यधिक

शक्तिशाली हो यह मत भूलो कि यह समय

तुम्हें फिर से उठ खड़े होने का मौका दे

रहा है उठो मेरे बच्चे और अब आगे

बढ़ो और मेरी एक बात को कभी भी मत भूलना

वह यह है कि सदैव ही अच्छे लोगों से जुड़े

रहना सदा ही उन लोगों से मिलते रहना जो

अच्छे हैं जो तुम्हें समझ

जो लोगों का भला करते हैं क्योंकि मेरे

बच्चे जैसी तुम्हारी संगत होगी वैसी ही

तुम्हारी रंगत

होगी अच्छे गुण अपने अंदर लाने से तुम्हें

समय लग सकता है परंतु बुरी संगत तुम्हें

तुम्हारे बिना ही किसी मेहनत के प्राप्त

हो जाएगी जीवन में अगर कुछ करना है एक

बहुत अच्छा इ बनना है तो तुम्हें अच्छे

लोगों की बहुत आवश्यकता

[संगीत]

है ऐसे मनुष्य को सदैव ही अपना मित्र

बनाना जो खुद से ज्यादा लोगों के बारे में

सोचे जो सदैव अपने माता-पिता का सम्मान

करें क्योंकि सबसे पहले तुम्हारे लिए

तुम्हारे माता-पिता ही तुम्हारे भगवान

[संगीत]

है

मेरे बच्चे तुम्हारे जीवन में आ रही सभी

समस्याओं को मैं पूरी तरह से दूर कर दूंगी

यह मेरा तुमसे वचन है तुम्हें सदैव स्मरण

रखना है कि तुम चाहे कितने भी दुखी क्यों

ना हो परंतु कभी हार मत मानना और ना ही

तुम्हें किसी को भी अपने कष्ट को बताना

है

अगर तुम अपने कष्ट को किसी को बताते हो तो

ना ही उससे कुछ नहीं होगा बल्कि तुम्हें

कष्ट ही होगा फिर तुम्हें बहुत ही ज्यादा

बुरा लगेगा और तुम्हारे मन को कष्ट के

सिवा कुछ नहीं

[संगीत]

मिलेगा मेरे बच्चे हर पल तुम्हारे साथ में

होती हूं हर पल तुम्हारी सुरक्षा करती हूं

मैं जानती हूं कि तुम लोगों की सदैव ही

मदद करते हो तुम लोगों से अत्यधिक प्रेम

करते हो इसी कारण से मैं तुम्हें अत्यधिक

पसंद करती

[संगीत]

हूं मेरे बच्चे तुम बहुत ही ज्यादा भोले

हो और इसी भोलेपन के कारण ही लोगों ने

तुम्हारा बहुत ही फायदा उठाया है लोग

तुम्हारे साथ गलत करते

तुम्हें बुरा तो लगता है कि जिनके लिए तुम

इतना करते हो जिनके लिए इतना सोचते

हो वही लोग जब तुम्हें धोखा देते हैं तो

तुम किसी से कहते नहीं हो परंतु अंदर से

तुम टूट जाते हो मेरे बच्चे तुम बहुत

सच्चे और बहुत ही ज्यादा अच्छे हो मैं

जानती हूं कि तुम्हारे कुछ गुप्त शत्रु भी

हैं जो तुम्हारा भला नहीं चाहते

[संगीत]

हैं क्योंकि तुम जितने ही अच्छे होगे उतने

ही लोग जो बुरे होते हैं बुरा कार्य करते

हैं वह तुम्हारे मार्ग एक विघ्न बनकर

आएंगे मेरे बच्चे सदैव याद रखना कर्मों का

फल अवश्य मिलता है अच्छे कर्म करने पर मैं

सदा तुम्हारे साथ

[संगीत]

हूं क्या तुम यह जानते हो तुमसे भी कुछ

कर्म गलत होने वाले होते हैं परंतु मैं

तुम्हारा हाथ थाम लेती हूं मैं तुम्हें हर

बुरे कार्य को करने से बचाती हूं मेरे

बच्चे जो कुछ भी तुम्हारे जीवन में इस

वक्त हो रहा है इसके पीछे एक बहुत बड़ा

उद्देश

छिपा हुआ

[संगीत]

है मैं जानती हूं कि तुम बहुत ही जल्दी

घबरा जाते हो तुम बहुत ही जल्द हार मान

लेते हो परंतु तुम यह तो जानते हो कि इस

धरती पर जो होता है अच्छे के लिए होता है

और उसके पीछे कुछ वजह होती हैं मेरे होते

हुए दुखी क्यों होते

[संगीत]

हो मेरे बच्चे तुम मेरी इतनी आराधना करते

हो मुझे तुम सच्चे दिल से मानते हो तो फिर

क्यों डरते हो हर परल मैं तुम्हारे साथ

हूं तुम्हें मैं सदा तुम्हारे शत्रुओं से

बचाती हूं और आगे भी बचाती

[संगीत]

रहूंगी खुश रहो मेरे बच्चे और अपना ख्याल

रखो मैं सदा तुम्हारे साथ हूं

मैं तुम्हें कुछ भी नहीं होने दूंगी अपनी

मां पर भरोसा रखो मेरे अगले संदेश की

प्रतीक्षा करना तुम्हारा कल्याण

हो ओम नमः

[संगीत]

शिवाय मेरे बच्चे तुम्हारे प्रेम को किसी

की बुरी नजर लग चुकी है इसलिए मेरे बच्चे

तुम्हारा प्रेम खतरे में है इसलिए तुमको

और तुम्हारे प्यार को बचाने के लिए कुछ

जरूरी बात बताने आई हूं मेरे बच्चे

क्योंकि तुम मेरे ऊपर ही अपने आप को सौंप

चुके हो इसलिए मैं स्वयं करूंगी तुम्हारी

रक्षा मैं तुम्हारे प्रेम पर आंच भी नहीं

आने दूंगी और तुम्हारे इस संदेश को पूर्ण

रूप से सुनने के पश्चात आदि रक्षा तो तुम

स्वयं ही कर पाओगे और आधी मैं स्वयं

तुम्हारी रक्षा

करूंगी क्योंकि मेरे बच्चे जीवन में प्रेम

पाना बहुत ही अच्छा और सच्चा होता

है लेकिन यदि तुम्हारा प्रेम किसी और के

कारण खतरे में है तो निश्चित ही तुम्हें

बचाने की आवश्यकता है और तुम्हें बचाना भी

चाहिए कोई है जिसकी

तुम्हें तुम पर बरी नजर लग चुकी है उसी

दृष्टि के दोष से भी बचाना है और तुम्हें

कुछ ऐसे कार्य करने

हैं जिससे कि तुम्हारा प्रेम बच पाए जिस

प्रकार तुम्हारा स्वास्थ्य को कभी-कभी

किसी की गंदी नजर लग जाती है तो तुम बीमार

पड़ जाते हो या ऐसे इंसान के कारण जो कि

तुम पर गंदी नजर रखता है तुम्हें अपना

बनाना चाहता

है

वह नहीं चाहता कि तुम्हारा प्रेम तुम्हारा

रहे तुम्हारा प्रेम तुमसे अलग करना चाहता

है इसलिए वह कुछ ना कुछ गलत बातों को

बोलकर तुम दोनों के बीच में लड़ाई करवा

रहा

है क्योंकि उसे तुम लोगों के बीच में आना

है और अपना बनाना

है लेकिन ऐसे किसी के बीच में जाने से

किसी का प्रेम ना तो छिनता है ना किसी

दूसरे को मिलता है जो सच्चा प्रेमी है वही

तुम्हारे जीवन में रहेगा और मैं तुम्हें

उससे कभी अलग नहीं होने दूंगी भले ही

तुम्हारे प्रति कोई कितना भी कोई भी गलत

नजर

रखे फिर भी कामयाब नहीं होने दूंगी एक बात

का ध्यान रखो लड़की हो या लड़का स्त्री हो

या पुरुष जीवन साथी हो या तुम्हारा प्रेमी

प्रेमिका यदि पत्नी को कोई स्त्री गलत

बातें बोलता

है या पुरुष कोई गलत बात बोलता

है तो अपने दिमाग में तुम यह समझ लेना कि

निश्चित ही वह तुम्हें तुम्हारे पति या

पत्नी से दूर करना चाहता है उसकी बातों को

दिल से मत लगाना और उसकी बातों पर यकीन मत

करना केवल अप अपनी आंखों से और अपने

मस्तिष्क से और अपने हृदय से उस बात को

परखना जब तुम्हें बात सच दिखाई दे अपने

पति या पत्नी के अंदर तभी तुम उनकी बातों

का यकीन करना क्योंकि कई बार ऐसा होता है

कि कोई सिखाने वाला व्यक्ति तुम्हें

तुम्हारे साथी से दूर करना चाहता है इसलिए

इस बात का खास ध्यान

रखना

और यही बात पुरुष के लिए भी है कई बार

पुरुष का कोई दोस्त उसकी पत्नी के बारे

में उल्टी सीधी बातें कहकर उसके खिलाफ गलत

बातें दिमाग में भर देता है जिससे कि पति

अपनी पत्नी का हृदय से दूर हो

जाए और ऐसे में पति को भी यही चाहिए कि वह

अपनी पत्नी पर पूर्ण विश्वास रखे और उसे

देखकर किसी बात पर यकीन करें इसलिए तुमको

तुम्हारे प्रेम से जो अलग करना चाहता है

कितना भी सोचे कितना भी प्रयास

करें लेकिन तुम जब तक सही हो स्वयं को तो

अपने प्रेम को समझते हो और तुम्हें यह

ज्ञात है कि प्रेम करने वाला कभी झूठ नहीं

बोलता तो इस बात को भी तुम बहुत अच्छे से

समझ लो कि यदि तुमने अपने प्रेमी को समझ

लिया तो ना ही तुम किसी के बहकावे में

आओगे और ना ही तुम अपने प्रेम से दूर हो

पाओगे मेरे बच्चे जब तुम अपने प्रेम को

नहीं समझते हो तभी किसी की बुरी नजर

तुम्हारे हद तक कामयाब होती है इसलिए ना

तो तुम्हें किसी की बातों में आना है ना

ही ऐसे बिना किसी की बातों को सुनते हुए

किसी

की और ना ही ज्यादा सोच विचार करना है

क्योंकि ज्यादा सोच विचार करोगे तो तुम

अभी भी वह प्रेम प्राप्त नहीं कर पाओगे

मेरे बच्चे मेरी अंतिम चेतावनी है मैं

तुम्हें आखिरी बार समझा रही हूं यदि तुमने

मेरी बातों को ध्यानपूर्वक नहीं सुना और

ध्यान नहीं

दिया तो तुम्हें मेरे अत्यधिक क्रोध का

सामना करना पड़ेगा इसलिए मैं तुम्हें यह

संदेश भेज रही हूं मेरे बच्चे इसलिए जो आज

बताने आई हूं ध्यानपूर्वक सुनना और समझना

क्योंकि इस बात को समझना बहुत ज्यादा

जरूरी है तुम्हारे लिए जीवन के रास्ते

रुकने के बहुत कारण होते

हैं परंतु रास्ते खुलने की बहुत कम वजह

इसलिए तुम उन वजहों को कभी अनदेखा मत करो

क्योंकि गुनाह तुम्हें बड़ी-बड़ी गलतियों

से प्राप्त होता है परंतु मेरे बच्चे

पुण्य तुम्हें छोटे-छोटे कार्य से ही

प्राप्त हो जाता है बड़ी-बड़ी गलती होगी

तब भी छोटे-छोटे कार्य से भी माफी मिल

जाएगी लेकिन सबसे पहले तुम्हें इस बात का

ध्यान रखना अति आवश्यक है कि तुम ऐसा कोई

कार्य करो नहीं जिससे तुम गुनाह के

भागीदार बन जाओ यदि जीवन में तुमसे कोई

गलती हो जाती है तो तुम उसको ध्यान में

रखते

हुए उसकी माफी की याचना करते हुए कुछ ऐसे

कार्य करो जिससे तुम्हारी वह गलती की माफी

तुम्हें मिल जाए और आगे के सभी मार्ग

तुम्हारे लिए खुल जाए मुझे ज्ञात है मेरे

बच्चे कि पैसों की आवश्यकता सभी को होती

है परंतु यह मैं तुम्हें कई बार समझा चुकी

हूं कि गलत मार्ग से पैसे यदि तुम अर्जित

करते हो तो तुम बहुत बड़ा पाप कर रहे हो

तुम सोचते हो कि घुमावदार काम करेंगे और

दुनिया को बेवकूफ बनाकर तुम पैसे अर्जित

कर लोगे तो यह तुम्हारी बहुत बड़ी भूल

है मेरे बच्चे क्योंकि वह पैसे तुम्हारे

पास कुछ समय के लिए तो आ जाएंगे लेकिन वह

ऐसी जगह और ऐसे कार्य में खर्च

होंगे व्यर्थ की चीजों में पैसे खर्च हो

जाएंगे कहने का तात्पर्य है कि वह बीमारी

में या किसी दुर्घटना में ऐसे कार्य में

खर्च होंगे कि तुम्हारे किसी मतलब के नहीं

होंगे इसलिए पैसे को ईमानदारी से कमा सकते

हो मेरे बच्चे ईमानदारी से कमाना और यदि

जीवन में कोई गलती हो जाती है तुमसे जाने

अनजाने भूल से तो तुम हर शनिवार को विष्णु

देव पीपल के वृक्ष में मां लक्ष्मी के साथ

वास करते हैं

शनिवार के दिन सरसों के तेल का दिया रख

देना तुम्हें सभी गलतियों से वह स्वयं माफ

कर देंगे उनके माफ करते ही मुझसे भी स्वतः

ही माफी मिल जाएगी लेकिन मेरे बच्चे इसके

साथ ही इस बात का भी स्मरण रखना कि

तुम्हें गलत कार्य से किसी भी सूरत में

दूर रहना

है हर दिन थोड़ी सी पूजा पाठ करने से

और कुछ भी मांगने से तुम्हारी मनोकामना

पूर्ण हो जाती है कहने का अर्थ यह

है मेरे बच्चे कि यदि तुम अपनी गलतियों की

माफी मांगते हुए इस कार्य को करते हो तो

माफी मिलती

है यदि तुम्हारे जीवन में नुकसान हो रहा

होता है वह भी दूर हो जाता है सतर्क होना

होगा और ध्यान रखना होगा कि तुम्हें अपने

अच्छे दिनों के लिए क्या-क्या करना है

मेरे बच्चे मेरा आशीर्वाद सदा तुम्हारे

साथ है मेरे अगले संदेश की प्रतीक्षा

करना ओम नमः शिवाय जय

मकाली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *