माँ काली जी का संदेश मेरा बच्चा सावधान रहें भगवान का संदेश आज काली का संदेश - Kabrau Mogal Dham

माँ काली जी का संदेश मेरा बच्चा सावधान रहें भगवान का संदेश आज काली का संदेश

मेरे बच्चे कैसे हो तुम तुम सदैव मेरी

दृष्टि में रहते हो मैं काल रात्रि आज

तुम्हें एक बार फिर दर्शन देने आई हूं तुम

दिन-रात अपने भविष्य की ही चिंता करते

रहते हो परंतु इस बार मैं तुम्हें एक खास

वजह से दर्शन देने आई हूं मेरे आज के इस

संदेश को तुम ध्यानपूर्वक

सुनना इसमें मैं तुम्हें जीवन में सफलता

कैसे पाई जाए बताने जा रही हूं मैं इस

सृष्टि बुराई का अंत करती हूं जो मनुष्य

इस संसार में जन्म लेता है जो मनुष्य इस

संसार में जन्म लेता है उसके साथ गृह

नक्षत्र दोष पुण्य आदि चीजें जुड़ी हुई

होती

हैं परंतु जो भी मनुष्य धरती पर आता है वह

इन चीजों को समझ नहीं पाता

इसलिए जीवन में परेशानी दुख और कठिनाइयों

का अनुभव करता है मेरे बच्चे इस संसार में

मुझे तुम सबसे कम पूछते हो ऐसा क्यों करते

हो मेरे बच्चे क्या तुम्हारे जीवन में

मेरा कोई महत्व नहीं है परंतु मैं

तुम्हारी मां हूं इसलिए इस समय मैं केवल

तुम्हारे लिए आई हूं इसलिए मैं केवल

तुम्हारे उज्जवल भविष्य के लिए बात करूंगी

सर्वप्रथम जब भी तुम्हें निराशा और दुखी

होने का अनुभव हो तो उस समय अपने मन को

शांत करके मेरा ध्यान करना मैं सभी देवो

देवी में सबसे पहले प्रसन्न हो जाती हूं

क्योंकि मेरे भक्तों द्वारा की गई भक्ति

से मैं तुरंत ही खींची चली आती हूं जब तुम

मुझे जब तुम मुझे अपने मन के भीतर याद

करोगे तो मैं

तुम्हें दर्शन अवश्य दूंगी इसलिए मेरे

बच्चे जब भी तुम्हें कठिनाइयां और निराशा

का अनुभव हो तो घबराना मत बस यह सोचना कि

तुम्हारी मां तुम्हारे साथ है और बाकी सब

कुछ मुझ पर छोड़ देना मैं तुम्हारे साथ

कुछ भी बुरा नहीं होने दूंगी जो परिथि

स्थिति इस समय तुम्हारी है उसमें तुम यही

सोच रहे हो कि मेरे साथ बहुत बुरा हो रहा

है मैं गलत मार्ग पर चल रहा हूं जिसमें

आगे चलकर कोई भविष्य नहीं है परंतु मेरे

बच्चे तुम जो इस समय सोच रहे हो वह

बिल्कुल गलत सोच रहे हो ऐसा मत सोचो जिस

मार्ग पर तुम चल रहे हो उसी पर चलते रहो

बिना संकोच के क्योंकि जो तुमने यह चुनी

है वह बिल्कुल सही चुनी है मेरे होते हुए

तुम क्यों इतना बार-बार सोच रहे हो क्यों

तुम अपने मन में बार-बार सक लाते हो क्यों

तुम बार-बार अपने मन में गलत विचार लाते

हो क्या मैं तुम्हारे साथ नहीं हूं मेरे

बच्चे जब तुमने मेरी इतनी पूजा भक्ति की

है तो फिर तुम्हें मेरे ऊपर पूर्ण विश्वास

क्यों नहीं

है जबकि तुम भली प्रकार से जानते हो मैंने

सदा तुम्हारा साथ दिया है उस पल भी जिस पल

तुम गलत थे परंतु मेरे बच्चे आज तुम मुझसे

अपना विश्वास उठा रहे हो यदि तुम अपनी मां

पर विश्वास नहीं करोगे तो तुम्हारे जीवन

में आ रही कठिनाइयों को तुम कैसे दूर

करोगे मैं तो सदा ही तुम्हारे हित के लिए

तत्पर्य रहता हूं कि मेरे बच्चे को कोई भी

कष्ट हो मैं तुमको बार-बार हर बार मार्ग

दिखाती रहती हूं मेरे दिखाए हुए मार्ग पर

तुम जब भी चले हो तुम्हारे जीवन में हमेशा

खुशियां ही आई हैं तो फिर आज ऐसा क्या हो

गया कि तुम्हें अपनी मां पर विश्वास नहीं

रहा क्यों तुमने अपने मांओं की भक्ति करना

कम कर दिया मेरे बच्चे तुम मेरी बात नहीं

समझ पा रहे हो तुम जिस भी प्रकार की

दिक्कत में हो मुझे अपने मन में स्मरण

करके बताओ तभी मैं तुम्हारी सहायता करूंगी

यदि तुम मेरा ध्यान और स्मरण करते हो तो

मैं तुम्हें वचन देती हूं मैं तुम्हारी

सारी परेशानियां खत्म कर दूंगी परंतु सबसे

पहले उसके लिए तुम्हें मेरे ऊपर अपना

पूर्ण विश्वास बनाना होगा बिना विश्वास के

कोई भी कार्य करना कठिन होता है तुम्हारे

द्वारा किए गए विश्वास से मुझे शक्ति

मिलती है क्योंकि मेरे भक्तों से ही मेरी

शक्ति है मुझे मेरे भक्त अति प्रिय हैं

मैं उनके लिए वह सब कुछ करती हूं जो वह

चाहते हैं इसलिए मेरे बच्चे सर्वप्रथम

विश्वास जगाना बहुत जरूरी है क्योंकि इस

संसार में विश्वास से बड़ी कोई शक्ति नहीं

है एक चीटी भी विश्वास से भरी होती है तो

वह अपने से गुना वजन को उठाकर चल सकती

है इसलिए तुम्हारा भी मुझ पर यह विश्वास

होना चाहिए कि चाहे कितनी ही कठिनाइयां और

परेशानियां तुम्हारे जीवन में आ जाए परंतु

तुम्हारी मां तुम्हें उन कठिनाइयों और

परेशानियों से लड़ने के लिए गुना

ज्यादा ताकत देंगी यदि तुम्हारा मुझ पर

विश्वास है तो तुम्हारे जीवन में जो भी

परेशानियां चल रही हैं वह अपने आप ही ठीक

होने लगेंगी लेकिन यह तब संभव है जब

तुम्हें मुझ पर स्वयं विश्वास हो जाएगा

मेरे बच्चे सच्चे मन से की गई भक्ति मुझ

तक पहुंचती है

और बिना सच्चे मन भाव से कोई भी आराधना

पूरी नहीं हो सकती इसलिए मैं सदैव अपने

भक्तों को यही समझाती हूं कि अपने मन के

भाव को शुद्ध और सच्चा रखो शुद्ध और सच्चे

मन से की गई भक्ति जल्दी ही मुझ तक

पहुंचती है और मैं उन भक्तों को साक्षात

दर्शन देती हूं इसलिए तुम मेरी सच्चे मन

से

और खुश होकर मेरी आराधना करो तुम्हारे

सारे बिगड़े काम स्वयं बन जाएंगे मेरे

बच्चे मैं तुम्हें यही सारी बातें बताने

आई थी ताकि तुम अपने जीवन में आगे बढ़ सको

अब तुम मेरी आराधना पहले की तरह शुरू कर

दो तुम्हारी मां तुम्हें तुम्हारा मन चाहा

वर अवश्य देंगी यदि तुम सच्चे मन से मुझे

इस स्मरण करोगे तो मैं तुम्हें जल्दी ही

दर्शन दे दूंगी क्योंकि मैं तुम्हें पहले

ही बता चुकी हूं कि मुझे प्रसन्न करना

बेहद आसान है बस तुम्हारे भाव सच्चे होने

चाहिए मैं अपने बच्चे को दुखी नहीं देख

सकती इसलिए मुझे आज तुम्हें यह बात

बताने आना पड़ा मेरे बच्चे तुम सदा खुश

रहना और सब कुछ अपनी मां के ऊपर छोड़ दो

मैं तुम्हारी सारी कठिनाइयों और

परेशानियों को कुछ दिनों के अंदर ही अंत

कर

दूंगी मैं काली मां तुम्हारे जीवन को

बदलने आई हूं कैसे हो मेरे प्रिया बच्चों

तुम्हें घबराने की आवश्यकता नहीं है

तुम्हारे जीवन के सभी अंधकार मैं दूर कर

दूंगी तुम्हारा जीवन बहुत सुनहरा है किंतु

तुम स्वयं को नहीं पह पहचान पा रहे हो तुम

जो कर सकते हो वह कोई और नहीं कर सकता है

मैं तुम्हें रास्ता दिखाने आई हूं ताकि

तुम उस रास्ते पर चलकर अपने आप को कामयाब

बना सको समय बड़ा बलवान होता है कब किसके

जीवन में कैसे समय आता खुद भी नहीं जानता

है इसलिए कभी भी तुम अपने आप पर घमंड नहीं

करना तुम्हारे मुख्य जीवा बहुत ही चंचल

होती है इसलिए सोच समझकर प्रयोग में लाना

चाहिए क्योंकि तुम्हारे मुंह से निकलने

वाला एक-एक शब्द कभी भी वापस नहीं आ सकता

है इसलिए बोलने से पहले हमेशा सोचो कि तुम

कैसे शब्दों का प्रयोग कर रहे हो क्योंकि

शब्दों का मनुष्य के जीवन पर बहुत ज्यादा

प्रभाव पड़ता है बुरे शब्द का प्रभाव इतना

ज्यादा होता है कि व्यक्ति को अंदर तक

तोड़ देता है और अच्छे शब्द का प्रभाव

इतना ज्यादा होता है कि व्यक्ति अपने जीवन

के सभी कार्य ऊर्जावान तरीके से करता है

मेरे बच्चों जिन शब्दों से किसी की जिंदगी

में बदलाव आए ऐसे शब्दों का प्रयोग करो

तुम अपने जीवन में हर इंसान की सेवा करना

और किसी से उम्मीद मत रखना क्योंकि सेवा

की सही कीमत ईश्वर देते हैं इंसान नहीं

अगर तुम अच्छे कर्म करते जाओ तुम्हारे

जीवन में कभी बाधा नहीं आएगी और कभी भी

जल्दबाजी में कार्य मत करना हमेशा तैयारी

और संयम बनाकर कार्य करना सोच समझकर शांत

मन से किए गए निर्णय हमेशा तुम्हारे जीवन

में खुशियां प्रदान करते हैं इसलिए मेरे

बच्चों सच्चाई की राह पर चलो सफलता खुद ही

तुम्हारे कदमों में होगी जो मनुष्य अपने

मन को नियंत्रित नहीं करते उनके के लिए

उनका मन ही एक दिन शत्रु के समान कार्य

करता है इसलिए कभी भी अपने जीवन में किसी

के लिए बुरा मत सोचो बुरा मत बोलो जो इस

धरती पर आया है उसे एक ना एक दिन अवश्य

जाना होता है लेकिन जाने से पहले तुम कैसे

कर्म करते हो यह तुम पर निर्भर करता है

इसलिए तुम अच्छे कर्म करो क्योंकि अगर तुम

अच्छे कर्म करोगे तो तुम्हारे जाने के बाद

बाद भी तुम्हें अच्छी बातों के लिए याद

किया जाएगा मैंने हर इंसान को उसके तरीके

से जीने की छूट दी है जैसे वह जीना चाहे

वैसे ही और अंत में सबका हिसाब उसे देना

होता है इसलिए मेरे बच्चों किसी को दुख

देकर तुम सुखी नहीं रह सकते जीवन में आज

नहीं तो कल तुम्हें उसका हिसाब देना ही

होता है इसलिए अपने आप को गलत कार्य करने

से बचाओ आजकल की दुनिया में लोग बस केवल

स्वार्थ के लिए जीते हैं और स्वार्थ के

लिए ही दूसरों को हानि पहुंचाते हैं ऐसे

कलयुग में तुम केवल स्वयं पर विश्वास रखो

यदि तुम्हारी हिम्मत टूटने लगे तो तुम

अपनी आंखों को बंद करके अपने उस लक्ष्य को

याद करो जो तुमने देखा है और जहां से

तुमने शुरुआत की थी उस दिन को याद करके

तुम स्वयं ही आगे बढ़ने लगोगे जिस प्रकार

संसार में लगातार भारी परिवर्तन हो रहा है

और गलत दिशा में कोशिश करने से मार्ग

प्राप्त नहीं होता मेरे बच्चों सही मार्ग

तब प्राप्त होगा जब तुम्हारे ऊपर मेरी

कृपा दृष्टि बनी रहेगी जब तुम उन कार्यों

को करते हो जिन कार्यों से तुम्हारे भाग्य

में ऊंचाइयां प्राप्त करना लिखा जाता है

नियम के अनुसार ही तुम्हें जो भी पूजा

करनी है वह करो और मेरी बातों पर पूर्ण

विश्वास रखो तुम्हारा विश्वास ही तुम्हें

जिताए जो मांगना है मुझसे और मेरे सामने

तुम जो चाहे बोल सकते हो तुम्हारी माता

कभी भी अपने सच्चे भक्तों की मुराद को आज

अस्वीकार नहीं करती वह हमेशा सच्चे भक्तों

की पुकार सुनती हैं और समय रहते ही

तुम्हारी सारी इच्छा को पूर्ण भी करती हैं

परंतु हर चीज का एक निश्चित समय होता है

तुम थोड़ा सब्र करो मेरे बच्चों मैं समय

रहते ही तुम्हारी उस मुराद को पूरा कर

दूंगी बस तुम अपना विश्वास बनाए रखना जो

लोग आपकी तारीफ करके आपकी बहुत बढ़ाई करते

हैं वही लोग आपको जीवन में सबसे ज्यादा

धोखा देते हैं मेरे बच्चे ऐसे लोगों से

दूर रहो आजकल के लोग सच को सुनना पसंद

नहीं करते उन्हें झूठ ही सच लगता है है

इसलिए मेरे बच्चों मैं आपको समझाना चाहती

हूं कि झूठ कभी फलता नहीं है आपको चाहे

कितनी मुश्किलें आए लेकिन सच्चाई के

रास्ते पर ही आपको चलना है अब मेरे जाने

का समय आ गया है मैं अपने धाम वापस जा रही

हूं मुझे तुम पर पूर्ण विश्वास है कि तुम

मेरी इन बातों को अपने जीवन में अपनाकर

सत्य के मार्ग पर चलोगे तथा जरूरतमंद

लोगों की सहायता करोगे

सदा खुश रहो तुम्हारा कल्याण हो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *