बहुत बड़ा उत्सव होगा। दुश्मन की बोलती बंद होने वाली हैअब तुम्हारे जीवन में खुशी आएगी - Kabrau Mogal Dham

बहुत बड़ा उत्सव होगा। दुश्मन की बोलती बंद होने वाली हैअब तुम्हारे जीवन में खुशी आएगी

मेरे

बच्चे पर जो तुम अकेले उससे बात करोगे तो

उसकी आवाज नहीं निकलती

है वह इतना डरपोक इंसान है वह क्या

तुम्हारा बुरा करेगा और वह क्या तुम्हें

छूने की कोशिश

करेगा उसे उसे खुद भी पता है कि तुम्हारे

साथ में चल रही है तुम्हारी रक्षा में कर

रही हूं और उसके इतनी औकात नहीं है कि वह

मुझे चुनौती दे सकती

है तुमसे ही परेशान हो रहे हो और व्यर्थ

ही बाकी सबको भी परेशान कर रहे हो उस

व्यक्ति की और एक पहचान बता दूंगी मैं तुम

उस व्यक्ति का रंग थोड़ा दबा हुआ है और वह

पैसे रुपए से भी बहुत मजबूत

है अच्छे भले परिवार से है ऐसा नहीं है कि

उसकी जिंदगी गरीबी में चल रही

है फिर भी वह किसी और को खुद से ऊपर नहीं

देख सकता

है उसको आदत है खुद के नीचे लोगों को रखने

की खुद को ऊपर ऊंचा बनाकर रखने की चाहे

उसके पास कुछ ना हो उसके पास तमीज ना हो

लेकिन उसको आदत है कि मैं बड़ा हूं सब

मेरे आसपास

बैठू मुझसे जान लो यानी बहुत बनता है वह

और तुम्हें ऐसा दिखाएगा या इस सम सज को

ऐसा दिखाएगा कि कितनी पूजा पाठ करता है वह

और कितनी और कितनी धार्मिक पुस्तकें पढ़

रखी है उसने और अंदर से उसका मन काला मैला

है और वह पापी

है उसे किसी बात का कोई ज्ञान नहीं

है मेरे बच्चे और तुम्हें बहुत बार

चेतावनी दी गई

थी बट तुम नहीं समझी तुमने खुद अपने पैर

पर कुल्हाड़ी मार दी और तुम अभी भी वही कर

रहे हो तुम उसकी व्यर्थ की बातों को सोच

सोच कर अपना समय बर्बाद कर रहे

हो तुम्हारी परिश्रम का फल तुम्हें इसलिए

नहीं मिल रहा है क्यों क्यों कि समय नहीं

आया है वह समय जो मैंने निर्धारित कर रखा

है तुम्हारी तबीयत इसीलिए खराब हो रही

है मेरे बच्चे क्योंकि सच दिल से बताना

क्या तुमने अपने स्वास्थ्य का उतना ख्याल

रखा जितना तुम्हें रखना चाहिए

था तुमने नहीं रखा तुमने अपनी दिनचर्या पर

ध्यान नहीं

दिया तुम यह सोच भी कैसे सकते हो कि

तुम्हारी माता के रहते कोई और व्यक्ति

किसी प्रकार का जादू टोना करने में सफल हो

जाएगा मेरे रहते कोई तुम्हें बर्बाद करने

में सफल हो

जाएगा अपने मन से यह बात निकाल

दो बस अपनी माता का नाम यह लेकर टाइप करो

कि माता

धन्यवाद आप हर पल मेरे और मेरे परिवार की

रक्षा कर रही

है तो कुछ नहीं

है यह बीमारी तो तुम्हारे शरीर को लगी है

मेरे बच्चे तुम अपनी आत्मा को बीमार कर

रहे हो वह बात है सोच सोच कर यह विचार सोच

कर कि कोई तुम्हारा बुरा करना चाहता है

फिर किसी की औकात नहीं मेरे बच्चे की

तुम्हें रोक पाने की मंजिल पर पहुंचने

वाला आखिरी कदम बहुत मुश्किल होता

है तुम्हा सार शरीर पर छाले होते हैं

आंखों से खून बह रहा होता

है और उससे भी मुश्किल होता है सफर के लिए

बढ़ाया हुआ पहला कदम जो यह दुनिया कभी

बढ़ाते ही नहीं

है हर बीज में एक विशाल होता है अगर उसे

सही मिट्टी में दबाया जाए

ऐसे ही हर किसी इंसान के अंदर एक सपने का

बीज होता है लेकिन वह कभी जिम्मेदारी और

मेहनत की मिट्टी में खुद को नहीं

दबाता वह कभी तूफानों से नहीं

टकराता वह कभी

ही दफन हो जाती

है उसके फैल होने की चिंता ही उसका कफन हो

जाती

है हालात यही

रहेंगे चुनौतियां यही

रहेंगी रास्ते यही रहेंगे परेशानियां यही

रहेंगी अब तेरे ऊपर है मेरे बच्चे की

रास्ता बदलता है या इतिहास

मेरे बच्चे जब तुम हालातों से बिना डले

चलते हो जब तुम झुकते नहीं हो खड़े-खड़े

चलते हो तब मौसम बदल जाते

हैं फिजा बदलती है हवा तुम्हारे लिए अपनी

दिशा बदलती

है मेरे बच्चे कब तक यह दुनिया तुझे झुकाए

गी कब तक यह किस्मत तुझे आजमाए

गी बदल देगा अपने तेवर चीज दिन तू यह

दुनिया तेरे आगे सर झुकाए

गी हर किसी को अपने सफर में दिक्कत आती है

हर किसी का मजाक बनता है अपने भी उन्हें

ठुकरा देते हैं बार-बार मजाक बनता है और

वह बिल्कुल अकेले पड़ जाते

हैं मेरे बच्चे ज्यादातर लोग उस रास्ते को

अपने सफर को अपने सपने को भूलकर वापस लौट

जाते

हैं पर जो रुकता नहीं है चाहे कुछ भी हो

चलता रहता है लड़ता है

खुद से खुद के रिश्तेदारों से खुद की

हारती हुई सोच से वह एक दिन इस दुनिया को

झुका देता

है मेरे बच्चे आज चाहे तुम्हारे हालात कुछ

भी हो चाहे कितनी ही दिक्कतें हो तुम

रुकना

मत चाहे कितने ही रिजेक्शंस आए तुम रुकना

मत चाहे कोई साथ ना दे चाहे सब कुछ खत्म

होने के कगार पर आ जाए तब भी तुम रुकना मत

क्योंकि जब-जब तुम गिरगिर के उठते रहोगे

तब तब तुम्हारी ताकत बढ़ेगी

तुम मजबूत

बनोगे तुम्हारी जिद और तगड़ी होगी और तुम

अपने लक्ष्य के लिए सन की हो

जाओ और जब तुम सनकी हो जाओगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *