तुम्हारे घर के इस कोने में दिव्य शक्ति जीत दिलाने के लिए तुम्हें बुला रही है - Kabrau Mogal Dham

तुम्हारे घर के इस कोने में दिव्य शक्ति जीत दिलाने के लिए तुम्हें बुला रही है

ब्रह्मांड का यह संकेत उस व्यक्ति को ढूंढ

लेगा जो इसके योग्य

होगा मेरे प्रिय बच्चे आज तुम तक यह संदेश

पहुंचा है क्योंकि वास्तव में तुम ही इसे

पाने के योग्य

हो यह संदेश एक खत है एक पैगाम है देव

दूतों का तुम्हारे लिए नियति ने यह रचना

रची है तुम्हारे

लिए अब तुम्हारे जीवन में तुम्हें दिव्य

शक्तियों का आभास होने वाला

है प्रिय बच्चे तुम्हारी प्रार्थनाएं में

जो विश्वास था अब वह रंग लाई है अब

तुम्हारे जीवन की बहुत बड़ी समस्या दूर

होने वाली

है वह समस्या जो अब तक तुम्हारे दुखों का

कारण बनी हुई थी अब तुमसे बहुत दूर हो

जाएगी इसलिए तुम्हें हर हाल में इस संदेश

को पूरा अंत तक सुनना है इसे बीच में

छोड़कर जाने की भूल नहीं करनी

है इसमें संदेश है तुम्हारे जी वन के लिए

तुम्हारे प्रेम के लिए पूर्व जन्म से

संबंधित एक बहुत महत्त्वपूर्ण संदेश भी है

इसमें और तुम्हारे भविष्य को लेकर बनाई गई

एक बहुत बड़ी योजना भी इसमें सम्मिलित

है आज तुम साक्षी होने वाले हो बहुत बड़ी

जीत के एक योद्धा के रूप में तुम जिस तरह

से लड़े जिस तरह से तुमने परिस्थितियों का

सामना

किया जिस तरह से हर कमजोरी को हराकर तुम

ताकत को अपने अंदर समाहित करने की क्षमता

रखते

हो वह भूतपूर्व है वह मुझे प्रिय है

वास्तव में नियति द्वारा रची गई यह सबसे

सुंदर रचनाओं में से एक

है यह तुम्हारे पूर्वजों को पसंद है दिव्य

देव दूतों को पसंद है बहुत से अनोखे

फरिश्ते हैं जो तुम्हारे आसपास मौजूद

हैं ना जाने कितनी विपत्तियां तुम्हारे

समक्ष आई लगा कि तुम टूटकर बिखर जाओगे

नियति भी हार मानने को तैयार हो रही थी

लेकिन तुम्हारी योजनाएं तुम्हारी

महत्वाकांक्षा एं और तुम्हारे संकल्प के

आगे सभी ने घुटने टेक

दिए क्योंकि जो स्वयं का साथ देने को

तैयार रहता है परिस्थितियां उसका साथ स्वत

ही दे देती

हैं भले ही शुरुआती दौर में सब कुछ उसके

विपरीत हो रहा हो कुछ भी उसके अनुकूल ना

चल रहा

हो किंतु जिसने दिखाई है जिसने साहस दिखाई

है उसे ब्रह्मांड में मौजूद सभी दिव्य

आत्माएं

स्वर्ग में बैठे सभी देवता और आलौकिक जगत

में उपस्थित सभी प्रकार के देवगण उसका साथ

देने को विवश हो जाते

हैं यह विडंबना है तुम्हारे साथ कि अब तक

तुम्हें पूर्ण समर्थन नहीं मिला

है लेकिन जहां तुमने इतनी आहुतियां दी है

वहां लोगों का विवश होना तो आवश्यकता बन

जाती

है और अब यह एक आवश्यकता है कि हर कोई

तुम्हारी सहायता के लिए

आए तुम्हारे प्रेम को बेहतर बनाने का

कार्य करें तुम्हारे संपत्ति को धन को

बेहतर बनाने का कार्य

करें और तुम में इतना आत्मविश्वास भर दिया

जाए कि कोई चाहकर भी तुम्हारे विश्वास को

तनिक भर में डिगा ना

सके अडिग और अमृतो की भावना के साथ

तुम्हारा यह आत्मविश्वास फलता फूलता रहे

यह आत्मविश्वास तुम्हारी ताकत बन

जाए यह तुम्हें ताकत प्रदान कर रहे हैं वो

प्रार्थनाएं जो कभी तुम्हें तोड़ने को कभी

तुम्हें पूरी तरह से गिराने को लाचार हो

रही थी आज उन्हीं प्रार्थनाएं ने अपना रंग

दिखा दिया

है आज उन्हीं प्रार्थना हों की वजह से

तुम्हारा जीवन बेहतर हो चला है तुम्हारे

पास वह सभी शक्तियां मौजूद हैं और बस कुछ

ही षड़ों में वह तुम्हारे भीतर स हित हो

जाएंगी एक झटका सा तुम्हें महसूस होगा कुछ

ऐसा लगेगा जैसा तय एक योजना के तहत चली गई

चाल है जिसका तुम्हारे जीवन में घटित कुछ

अत्यंत आवश्यक

है तुम्हारा विश्वास तुम्हारा अटूट

विश्वास तुम्हारी सफलता का कारण

बनेगा मेरे प्रिय कोई तुम्हारे सामने टिक

ना सके ऐसी शक्ति तुम्हें समाहित कर दी

जाएगी और वास्तव में तुम्हें इतना सब कुछ

प्रदान किया जा रहा है जिसे कोई भी

तुम्हारी हानि कर नहीं

पाएगा चाहे तुम्हारे शत्रु अहंकार वश

कितना ही तुम्हारे खिलाफ षड्यंत्र क्यों

ना रच ले लेकिन उनके सभी षड्यंत्र विफल हो

जाएंगे उनके सभी षड्यंत्र का तुम जवाब दे

बैठोगे अपनी शक्तियों को अपने भीतर महसूस

करोगे मेरे प्रिय उन्हें अपने जीवन में

समाहित करने की उनकी शक्तियों को अपने

भीतर उतार लेने की पुष्टि कर

दो संख्या

लिखकर इस पुष्टि को मंजूरी दे दो मैं

भाग्यशाली हूं मेरा सौभाग्य मेरा जीवन लिख

रहा है मेरी परिस्थितियां बेहतर हो रही

है मेरे जीवन को प्रेम के सागर से भरा जा

रहा है मेरे जीवन में महान उपलब्धियां आ

रही

है मेरे जीवन में हर कोई मेरा मित्र बनने

की चाहत रखता है ऐसी भावना लिखकर तुम इस

बात की पुष्टि करो

कि तुम इसी क्षण इस चमत्कारी शक्तियों को

अपने भीतर चाहते हो तुम इसी क्षण सभी

देवीय शक्तियों को आवाहन देते

हो कि वह तुम्हारे जीवन में पूर्ण रूप से

उतर जाए वह तुम्हारे जीवन को बेहतर से भी

बेहतरीन बना दे हर श्रेष्ठता तुम्हारे

जीवन में उतार

दे मेरे प्रिय बच्चे यह तुम्हारा समय है

यह तुम्हारी जीत का समय है इस जीत के समय

को अंगीकार कर लो और अपने जीवन को प्रेम

की दिशा में ले

चलो मैं जानता हूं कि प्रेम को लेकर

तुम्हारे मन में बहुत से प्रश्न उठती है

और मैंने उनका भी जवाब तुम्हें इसी संदेश

में दिया

है इसलिए तुम्हें हर हाल में इस संदेश को

पूरा अंत तक सुनते रहना है इसमें तुम्हारे

लिए बहुत सी बातें हैं जिनका जानना

तुम्हारे लिए आवश्यक

है मेरे प्रिय जैसे सूर्य को काले बादल ढक

लेते हैं तो पृथ्वी पर अंधकार छा जाता है

लेकिन वास्तविकता में सूर्य कभी समाप्त

नहीं

होता वैसे ही तुम्हारे जीवन पर अभी जो

काले बादल छाए हैं वह अंधकार ला रहे हैं

इसका यह अर्थ नहीं कि तुम कमजोर हो एक

सिद्ध मनुष्य

हो मेरे प्रिय बच्चे तुम्हारे जीवन में

ऐसी सिद्ध ऐसी प्रसिद्धि आएगी कि तुम सोच

भी नहीं सकते हर कोई तुम्हारी छत्र छाया

में आना चाहेगा

कारण यह कि तुम्हारे ऊर्जा क्षेत्र में

ऐसी तीव्रता आएगी तुम्हारे आभा मंडल में

ऐसा विकास छा जाएगा कि हर कोई तुम्हारे

आधीन हो जाने को विवश हो

जाएगा मेरे प्रिय तुम जिसका भी मार्गदर्शन

करोगे उसका जीवन बदल जाएगा हर कोई

तुम्हारे नाम का गुणगान करता फिरे

तुम्हारा यश सभी ओर फैल जाएगा व लोग जो

सदा से तुम्हारी बुराई करते आए हैं वह भी

तुमसे जीवन जी जीने की कला सीखने आएंगे

वास्तविक सफलता तो अब तुम्हें हासिल

होगी वास्तविक सफलता जो कई जन्मों से

तुम्हें प्राप्त होने को विवश हो रही थी

किंतु इन परिस्थितियों बस तुम्हारे जीवन

में उतर नहीं पा रही

थी वास्तविक सफलता जिसकी चाहत तुमने सदा

से रखी थी अब वह वास्तव में तुम्हारी होकर

रहेगी कोई तुम्हें यहां हरा नहीं सकता

है किसी भी शत्रु में वह ताकत नहीं है कि

वो तुम्हें घिरा सके तुम्हें हरा सके और

तुम्हें कमजोर कर सके मेरी शक्तियां

तुम्हारे साथ हैं मेरा समर्थन तुम्हारे

साथ

है और जिस व्यक्ति के साथ मेरा समर्थन हो

जाता है परमात्मा का समर्थन हो जाता है

परमेश्वर का समर्थन हो जाता है फिर भला

उसे इस संसार में कौन हरा सकता

है चाहे कितना ही बड़ा कोई मानव हो चाहे

दानव हो चाहे देव हो चाहे दव हो कोई भी हो

इस संसार में उसे कोई पराजित नहीं कर सकता

जिस पर मेरी छत्र छाया

है मैं कभी किसी के ध्वजा में लहरा जाता

हूं तो कभी किसी के अंगूठे में उतर जाता

हूं मैं कभी किसी के मस्तक में उतर जाता

हूं तो कभी किसी के विचारों से बह जाता

हूं मेरे प्रिय मैं जिसके ऊपर कृपा बरसाता

हूं उसकी जीत सदा तय हो जाती है

उत्कृष्टता में बसता हूं और जो भी मनुष्य

उत्कृष्टता की और बढ़ने का संकल्प ले लेता

है फिर मैं उसके संकल्प को सिद्ध करने में

लग जाता हूं फिर मैं उसकी चाहतों को हकीकत

में बदलने में लग जाता हूं मैं ऊर्जा का

रूप लेकर उसमें ही उतर जाता

हूं वह जो मेरा ही अंग है वह जो मेरी ही

चाह रखता है वह जो सदैव मेरा हो जाना

चाहता है वह जो मुझे और अपने आप को एक कर

लेना चाहता

है फिर भला उसे इस संसार में कौन अलग सकता

है मुझसे सारी शक्तियां क्षीण हो जाती है

मेरे सामने इसलिए मेरे प्रिय तुम अपने ऊपर

विश्वास रखो मैं तुम्हारे लिए आया

हूं मैं तुम्हें जीत दिलाने आया हूं और

तुम्हारी जीत को कोई टाल नहीं सकता मैं

जानता हूं कि प्रेम को लेकर तुम्हारे मन

में क्या प्रश्न उठते रहते

हैं धन को लेकर तुम्हारे मन में कैसे

विचार उत्पन्न होते रहते हैं मैं वह सभी

सिद्ध करने आया हूं मेरे प्यारे ब मैं

तुम्हें यह संदेश तुम्हारे इस समय के

परिस्थितियों को देखकर भेज रहा

हूं यदि यह चमत्कारी संदेश तुम्हारे सामने

प्रकट हुआ है तो इसे अनदेखा करने की कोशिश

मत करो मेरे प्यारे बच्चे बहुत समय से

तुम्हारे मन में एक सवाल उत्पन्न हो रहा

है जिसका जवाब अभी तुम नहीं जान पाए हो

मेरे प्यारे बच्चे तुम जो दिन रात यही

सोचा करते हो कि आखिर तुम्हें मिलवाया ही

क्यों गया जब अंतः बिछड़ना ही

था आखिर क्यों उसके बिछड़ने के बाद भी मैं

उसको सदैव याद किया करता हूं क्या कारण है

जो ना चाहते हुए भी मैं उसके करीब जाने की

सोचता

हूं वह तो मुझसे दूर हो गया है मगर क्यों

मेरे यादों में वह सदैव रहता है मेरे

प्यारे बच्चे उन सवालों का जवाब आज

तुम्हें यहां प्राप्त होगा ध्यानपूर्वक

मेरी प्रत्येक बातों को

सुनना मेरे बच्चे मैं तुम्हारा परमपिता पर

परेश्वर हूं मैं तुम्हें कभी भी रोता हुआ

बिलक हुआ नहीं देख सकता हूं क्या तुम्हें

लगता है कि मैं तुम्हारे साथ कुछ भी गलत

कर सकता

हूं मैं ऐसा कुछ कर सकता हूं क्या जिससे

तुम्हें कष्ट नहीं हो मेरे प्रिय बच्चे

मैं तुम्हें कभी भी कष्ट नहीं पहुंचा सकता

हूं मेरे प्यारे बच्चे मैं तो इस समस्त

ब्रह्मांड को चला रहा

हूं नि संदेह मैं तुम्हारे जीवन को भी चला

रहा हूं और हर किसी के जीवन की बागडोर भी

मेरे हाथों में ही मौजूद है लेकिन मैंने

किसी का कर्म नहीं लिखा

है मैं किसी का भी भाग्य नहीं लिखता

मनुष्य स्वयं ही सकारात्मक और नकारात्मक

ऊर्जा के प्रभाव में आकर अपने कर्म किया

करता

है जब मनुष्य किसी भी चीज के प्रति

प्रभावित होकर अपना कर्म करता रहता है और

अच्छे बुरे का ध्यान नहीं रख पाता समझ

नहीं

पाता तो उसके मन में आकर्षण का ऐसा मोह

बैठ जाता है कि उसे लगता है कि वह जो भी

कार्य कर रहा है वह सब कुछ उचित है सब सही

है उस समय में किसी के भी समझाने पर उसे

कुछ भी समझ में नहीं आता वह यदि गलत कार्य

को भी अंजाम देता है तो खुश होकर बिना कुछ

सोचे

समझे वह अनुचित और गलत कार्य को भी कर

बैठता है और सोचता है कि मैंने तो सब कुछ

बेहतर किया है मैंने कहां कुछ गलत किया

है मेरे प्यारे बच्चे जाने अनजाने में ही

सही पर मनुष्य गलत कर्म करने लग जाता है

वह अपने पूर्व जन्मों में भी गलत कार्यों

को किया हुआ होता है जिसका फल उसे अवश्य

ही प्राप्त होता

है प्रिय बच्चे आज यदि तुम्हारे साथ धोखा

हुआ है तो उसके पीछे भी बहुत बड़ा कारण है

यदि आज वह तुमसे बिछड़ा

है तो इसमें तुम दोनों के ही पिछले जन्मों

के कुछ ऐसे कर्म हैं जिनकी वजह से

तुम्हारे बीच में दूरियां आई

हैं मेरे बच्चे जब तुम प्रेम के पहले

पड़ाव पर कदम रखते हो तो कुछ बातों को भूल

जाया करते हो तुम्हें उन्हीं बातों का

एहसास करवाने के लिए तुम्हें उससे दूर

किया जाता

है जिससे तुम प्रेम का सही अर्थ समझो सही

मतलब समझो मेरे प्यारे बच्चे तुम उससे

बिछड़ के बच्चों की भाती रोते हो लेकिन

क्या कभी तुम ऐसा स्वयं के लिए भी रोए

नहीं

हो मेरे बच्चे एक बार तुम अपने आप से बेनत

प्रेम करके देखो बेशुमार प्रेम करके देखो

जब तुम स्वयं से प्रेम करने लग

जाओगे तो तुम्हारा जीवन साथी अपने आप ही

तुम्हारे जीवन में प्रवेश करने के लिए

तैयार हो जाएगा और तब वह तुम्हारी

प्रत्येक बातों को भी ध्यानपूर्वक

सुनेगा तब वह तुम्हारी प्रत्येक इच्छाओं

को भी पूर्ण करेगा मेरे प्यारे बच्चे तुम

अपने जीवन साथी के साथ अपने आप को भी

प्रेम करना

सीखो इससे तुम्हारे वास्तविक प्रेम संबंध

में भी मधुरता आएगी सदा सुखी रहो तुम्हारा

कल्याण

होगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *