तुम्हारी चमक और तेज देखकर सब चकित रह जाएंगे - Kabrau Mogal Dham

तुम्हारी चमक और तेज देखकर सब चकित रह जाएंगे

मेरे प्रिय बच्चों कैसे हो तुम आज

तुम्हारी मां एक बार फिर तुमसे बात करने

आई है मेरी बातों को ध्यानपूर्वक सुनना

क्योंकि यह बातें तुम्हारे जीवन को बदलने

वाली हैं मेरे बच्चे जब कुछ चमत्कार होता

है तब तुम भगवान पर विश्वास करते हो किंतु

तुम्हें यह स्मरण रहना चाहिए कि भगवान सदा

ही अपने बच्चों के साथ हो हैं और उनका

होना ही एक चमत्कार है आज तुम्हारी मां

तुम्हें आशीर्वाद देती हूं कि तुम्हें धन

ज्ञान बुद्धि यस और सभी प्रकार के सुख

प्राप्त हो लेकिन तुम्हें यह सब तभी

प्राप्त हो सकता है जब तुम अपनी शक्ति को

पहचान लोगे मेरे बच्चे तुम क्या नहीं कर

सकते हो बस तुम्हें अपनी मां और अपनी

शक्ति पर विश्वास करना होगा मैंने

तुम्हारे उन सभी कांटों को देखा है जो

तुमने दिन रात सहे हैं तुम्हारी मां अब

तुम्हें इस प्रकार से नहीं देख सकती मेरे

बच्चे अब तुम्हें तुम्हारी नकारात्मक

चीजों से बाहर निकलने का समय आ गया है मैं

आ गई मेरे बच्चे अब तुम चिंता मत करो सब

ठीक हो जाएगा मैं इसलिए तुम्हारे पास आई

हूं ताकि तुम्हें जीवन में वह सारी

खुशियां मिले जिनसे तुम आज तक वंचित थे और

तुम्हें उन सारी खुशियों को भोगने का

अधिकार है मैं तुम्हारी श्रद्धा भक्ति और

ईमानदारी से प्रसन्न हूं इसलिए मैं

तुम्हें वह सभी चीजें प्रदान करना चाहती

हूं जो तुम्हें चाहिए वह तुम्हें तुम्हारी

मां स्वयं तुम्हें प्रदान करेंगी मेरे

बच्चे तुम चिंता मत करो तुम्हारी मां अब

तुम्हारे पास आ चुकी हैं अब तुम्हें

घबराने की आवश्यकता नहीं है मुझ पर

विश्वास रखो मेरे पास तुम्हारे लिए बहुत

सी योजनाएं हैं जो तुम्हारे उज्जवल भविष्य

के लिए काम आएंगी और तुम्हारे भविष्य में

आगे चलकर जो तुम्हें ऊंचाइयों पर लेकर

जाएंगी मेरे बच्चे छोटी-छोटी बातों पर

गुस्सा करना बंद करो यह केवल तुम्हा

पवित्रता को नष्ट करेगी तुम जानते हो कि

तुम उस प्रकार के नहीं हो जो केवल अपने

बारे में सोचे परंतु इन दुखों के कारण

तुम्हें बहुत अधिक गुस्सा आ रहा है उस

गुस्से पर काबू पाओ मेरे बच्चे भगवान की

तलाश करो जो तुम्हारे अंदर है यदि तुम

भगवान की तलाश करोगे तो तुम्हें स्वयं ही

शांति प्राप्त होगी क्योंकि शांति का दूस

दूसरा अर्थ ही भगवान है भगवान हमेशा शांति

तथा विनम्रता पर विश्वास रखते हैं और

तुम्हें भी शांति तथा विनम्रता पर विश्वास

रखना चाहिए मेरे बच्चे मैं तुम्हें आज

आशीर्वाद देती हूं कि तुम्हें तुम्हारी

मंजिल में सफलता मिलेगी और अपनी मनचाही

जिंदगी जरूर मिलेगी जिसके लिए तुम दिन रात

मेहनत करते हो वह तुम्हें सब कुछ प्राप्त

हो

मेरे आशीर्वाद से तुम्हें वह सब प्राप्त

होंगे जिसके बाद तुम इस संसार में किसी भी

कार्य को बड़ी आसानी से कर सकोगे तथा मेरे

आशीर्वाद की प्राप्ति के बाद ही तुम्हें

सुख समृद्धि अपने आप ही मिलती चली जाएगी

क्योंकि आशीर्वाद ही सर्वप्रथम वह चीज है

जो अगर मनुष्य के पास हो तो उसे किसी चीज

की कमी नहीं रहती जितने भी इस संसार में

बड़े व्यक्ति रहे हैं और जो बड़े व्यक्ति

हैं वह सब मेरे आशीर्वाद के कारण ही बड़े

हुए हैं यदि उनके पास मेरा आशीर्वाद नहीं

होता तो वह धन को भी अर्जित नहीं कर पाते

आशीर्वाद ही ऐसी साधना है जो मनुष्य को हर

तरह से समध बनाती है मेरे बच्चे तुम केवल

अपने कामों पर ध्यान दो और मेरे चमत्कार

के लिए इंतजार करो मैं तुम्हें जीवन में

इस प्रकार की चमत्कार दिखाऊंगी कि तुम

स्वयम सोचोगे कि यह असंभव सा कार्य कैसे

संभव हो गया तुम मेरे प्यारे बच्चे हो और

मैं तुम्हें आशीर्वाद का वह भंडार दूंगी

जिससे तुम किसी मनुष्य के आगे नहीं

झुकाओगे बल्कि इस पूरे संसार को अपने आगे

झुकाओगे इस मतलबी संसार में तु तुम्हें

अपने नाम को ऊंचा करना है तथा अपने काम से

उन लोगों की मदद करनी है जिन लोगों को

तुम्हारी सहायता की आवश्यकता है मेरे

प्यारे बच्चे मेरा रोज स्मरण करने से

तुम्हें सकारात्मकता और आशीर्वाद जरूर

मिलेगा अपने दिमाग में पल रही सारी

चिंताओं को हटाओ चिंता से केवल तुम्हें

दुख प्राप्त होगा और दुख से तुम किसी भी

प्रकार के अच्छे कार्य को नहीं कर पाओगे

अब तुम्हारी मां तुम्हारे पास है तो

तुम्हें इन दुखों को सोचने की कोई जरूरत

नहीं है तुम जब भी अपने कार्य करने बैठते

हो कार्य करने से पहले मेरा ध्यान कर लेना

क्योंकि मेरे ध्यान करने से तुम्हें

सकारात्मक चीजें प्राप्त होंगी और मन को

शांति मिलेगी मेरा आशीर्वाद तुम्हारे जीवन

की सारी बाधाओं को मिटा देगा तुम्हारे

जीवन के हर उस दुख को खत्म कर देगा जिस

दुख के कारण तुम ठीक प्रकार से ध्यान नहीं

कर पा रहे मैं तुम्हें आशीर्वाद देती हूं

कि तुम अपने पवित्र मन से मुझसे जो भी

मांगोगे मैं तुम्हें वह सारी चीजें प्रदान

करूंगी लेकिन तुम्हारी वह मांग सकारात्मक

होनी चाहिए मैं तुम्हें केवल वही वरदान

दूंगी जो तुम्हारे लिए उचित होगा तुम

मुझसे जिस प्रकार के वरदान मांगोगे

तुम्हें वह सब प्राप्त होंगे लेकिन मैं

तुम्हें फिर कह रही हूं कि वह सकारात्मक

वरदान होने चाहिए यदि उस वरदान से किसी का

बुरा होगा तो तुम्हें ऐसे वरदान की

प्राप्ति नहीं होगी तुम मेरे सबसे प्यारे

भक्त हो तुम्हें जीवन में सबसे ज्यादा

तरक्की मिले और तुम जिस कार्य को भी करने

के लिए अपने कदम बढ़ाओ उसमें सफलता

प्राप्त हो यही मेरा आशीर्वाद तुम

तुम्हारे लिए सदैव रहेगा मेरे अगले संदेश

की प्रतीक्षा करना तुम्हारा कल्याण हो

मेरे बच्चे सदा खुश रहना मां काली कहती है

मेरे बच्चे कैसे हो तुम मेरे बच्चे तुम

इतना मत रोहो तुम्हारे इस करुण पुकार और

ये अशु मुझसे नहीं देखे जाते मेरे बच्चे

यह संसार तुम्हारा दुख समझे या ना समझे

मैं तुम्हारा दुख भली प्रकार समझ रही हूं

मे बच्चे तुम्हारा यह दुख देखकर ही आज मैं

तुमसे बात करने आई हूं मेरे बच्चे तुम

मुझसे बात करो एक बार मेरी ओर देखो मेरे

बच्चे मैं तुम्हारी मां काली तुमसे बात

करने आई हूं मेरे बच्चे तुम जिसके लिए

इतने अशु भा रहे हो मैं जानती हूं जिसे

तुमने अपने हृदय से ही नहीं अपनी आत्मा से

प्रेम किया है जिसे तुम अपना सर्व स्वय

मानते हो और उसे परमात्मा की तर तरह पूजते

हो तुमने और वह तुम्हें गैरों की तरह

छोड़कर चला गया तुमने उससे बहुत मिन्नतें

की समझाया रोया गिड़गिड़ा या उससे कहा कि

वो तुम्हें छोड़कर ना जाए तुम उससे बहुत

प्रेम करते हो वो तुम्हारे लिए सब कुछ है

परंतु उसने तुम्हारी एक ना सुनी उसने ना

तो तुम्हें समझा और ना ही तुम्हारे प्रेम

को मैं सब जानती हूं मेरे बच्चे और यही

कारण है कि उस ने तुम्हारे प्रेममय कोमल

हृदय को खंडित किया तुम्हारे हृदय को इतनी

पीड़ा दी है मेरे बच्चे तुम बिल्कुल भी मत

रो तुम्हारी ये मां तुम्हारे आंसू यूं ही

व्यर्थ नहीं जाने देगी यह तुमसे वचन है

मेरा मेरे बच्चे उसने तुम्हारे प्रेम

समर्पण और निश्छल होता का अपमान किया है

उसने तुम्हारे आत्मा को पीड़ा पहुंचाई है

उसने सच्चे प्रेम की कद्र नहीं की मेरे

बच्चे

उसने जो भी किया है उसे उसका शीघ्र ही

आभास होने वाला है मेरे बच्चे तुमने जितना

उसके लिए रोया है उसके दो गुना वो रोएगा

तुम्हारे लिए मैं उसे बहुत जल्द अनुभव

कराने वाली हूं कि उसने तुम्हें छोड़कर

कितनी बड़ी भूल की है उसने अपने जीवन में

क्या खोया है यह बहुत जल्द व समझने वाला

है मेरे बच्चे अब वो तुम्हारे सच्चे प्रेम

को भी समझेगा वो तुम्हारे प्रेम और

तुम्हारे महत्व को समझेगा उसने जितनी

पीड़ा तुम्हें दी है उससे कहीं ज्यादा वो

पीड़ा को अनुभव करेगा मेरे बच्चे वो आएगा

लौटकर तुम्हारे पास ही आएगा इस दुनिया की

भीड़ में वो जब अकेला होगा जब हर तरफ से

उसे धोखा और दुख मिलेगा तब उसे तुम्हारी

याद आएगी और वह तुम्हारे पास ही आएगा मेरे

बच्चे तुम देखना वो बहुत जल्द तुम्हारे

पास आएगा और उसी प्रकार रोएगा गिड़गिड़ा

जाएगा जिस प्रकार तुमने किया था जब वह

तुम्हें छोड़कर जा रहा था तुमसे प्रार्थना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *