"जिस ने तुम्हें रुलाया है♣️अब वह सब रोएंगे♣️मैं आ गई हूं मेरे बच्चे♣️ मां काली - Kabrau Mogal Dham

“जिस ने तुम्हें रुलाया है♣️अब वह सब रोएंगे♣️मैं आ गई हूं मेरे बच्चे♣️ मां काली

मेरे बच्चे तुम अपने जीवन को क्यों बर्बाद कर रहे हो क्यों डर लग रहा है मैं तुम्हारे साथ हूं अंदर की बात को

सुनो और अपने माता रानी जी के बताए रास्ते पर चलो मेरे बातें ध्यान पूर्वक सुना जो मैं तुम्हें बताना चाहता हूं

जब तक तुम जवान हो केवल और केवल सीखने का प्रयास करना चाहिए तुम्हें सीखना चाहिए किस तरह के मनुष्य बनना चाहते हो तो समय है जोखिम लेने का नई चीज़ सीखने का और नए नए कौशल को विकसित करने

का अभी भविष्य के बारे में मत सोचो अभी तुम्हें स्वयं को जानने का प्रयास करना चाहिए तुम्हें अपने जीवन की बड़ी बड़ी बातों से ज्यादा छोटी छोटी बातों पर ध्यान देना चाहिए की असल खुशियां उसकी छोटी छोटी बातों में

है जीवन की दौड़ में तुम उसके सारे छोटे सुनहरे अक्षरों को अनदेखा कर देते हो जीवन में आगे जाकर जब तुम पीछे देखते हो तो तुम्हें आभास होता है कि असल में वह छोटी छोटी बातें ही तुम्हारा खुशियां था जीवन का

अनुभव करते हुए तुम कई चीजे सिखाते हो प्रेम दर्द सुंदरता और कृतज्ञता यही अनुभव से सीखी हुई चीज तुम्हें जीवन की बड़ी बड़ी घटनाओं के लिए तैयार करती है मेरे बच्चे तुम्हारे श्रद्धा को देखकर मैं अत्यधिक प्रसन्न हूं

तुम्हारा तकलीफ देख लिया है मैं तुम्हारे निराशा को जान लिया है अपने दुखों के बारे में दुखों का ज्ञान है अपने विभिन्न परेशानियों के बावजूद तुम्हें यह समझना चाहिए तुम जो कुछ भी बनना चाहते हो वह बनने के लिए कभी

भी देर नहीं होती है अपने जीवन में जो कुछ भी चाहे वह बन सकते हो हर एक क्षमता की कोई सीमा नहीं है तुम्हें लगता है कि तुम्हारे जीवन में बहुत देर हो चुकी है ऐसा बिल्कुल नहीं है जीवन में कभी भी किसी भी बात को लेकर देर नहीं होती है जो कुछ भी करना है जो भी बना है उन सभी के लिए जीवन में कभी भी देर नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *