जरूरत से ज्यादा अच्छे मत बनो - Kabrau Mogal Dham

जरूरत से ज्यादा अच्छे मत बनो

जय श्री कृष्णा स्वागत है आपका मेरे चैनल स्पिरिचुअल मथुरा में अच्छा लगे तो एक लाइक जरुर करें और चैनल

को सब्सक्राइब करके बैल आइकन को जो पर सेलेक्ट कर ले दोस्तों आत्मा कभी किसी का भाग्य नहीं लिखते

हर कदम पर हमारी सोच और हमारे कर्म ही हमारा भाग्य लिखते हैं समय पर परिस्थितियों बदलती रहती है के साथ ही किसी का महत्व समझ में आता है और समर्थ होता है जैसे दीपक का दिन के समय या सूरज की रोशनी

में कोई महत्व नहीं होता और अंधेरे में दीपक ही उजाले का साधन होता है इसलिए किसी भी इंसान को बेकार मत मानो उसके पास अपनी अलग शक्ति है जो समय आने पर काम आती है अपनी स्थिति परमेश्वर को सौंप दे

आप जीवन भर में कर सकते हैं कहीं ज्यादा वह एक पल में कर सकता है जिंदगी में दुख और सुख आते जाते रहते हैं और सुख से ही जीवन परिपक्व होता है जब जीवन में परेशानियां आती है तब इंसान को अधिक सीखने

को मिलता है या काहे की तब इंसान को अधिक तजुर्बे मिलते हैं परेशानियों से घबराएं नहीं बल्कि इनका सम ना करें दिल के साफ और सच बोलने वाले इंसान अक्सर अकेले मिलते हैं हकीकत है जिंदगी की जैसे पेड़ पौधों की

वृद्धि के लिए गर्मी सर्दी और बरसात तीनों की जरूरत होती है वैसे ही हमारे विकास के लिए सुख और दुख दोनों की जरूरत होती है जिंदगी का अजूबा तो नहीं पर इतना मालूम है छोटा आदमी बड़े मौके पर काम आ जाता है

बड़ा आदमी छोटी सी बात पर औकात दिखा जाता है दिल का साफ होना जरूरी है की कोई वादे करके भी साथ नहीं देता है बिना वादों के भी जिंदगी भर साथ निभाया जाता है उपवास करने से अगर भगवान खुश हो

जाते तो इस दुनिया में सालों से भूखा रहा भिखारी आज कितना सुखी होता कुछ लोग चप्पल जैसे होते हैं साथ तो देते हैं पर पीछे से कीचड़ उछाल ते रहते हैं आंखें पूरी दुनिया की बुराइयों को देखते हैं में क्या बुराई है यह कभी नहीं देख सकती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *