कालरात्रि मां तुम्हारी परीक्षा की घड़ी समाप्त हुई - Kabrau Mogal Dham

कालरात्रि मां तुम्हारी परीक्षा की घड़ी समाप्त हुई

प्यारे बच्चों हिंदू धर्म शास्त्र में मां

काली को शक्तिशाली देवी के रूप में बताया

गया है क्योंकि एक मात्र काली माता ही है

ऐसी देवी जो सभी प्रकार की बुराइयों का

नाश हमेशा के लिए करती

हैं यदि मां काली किसी व्यक्ति पर प्रसन्न

हो जाएं तो ऐसे व्यक्ति के जीवन में हर

प्रकार के संकट को हमेशा के लिए दूर कर

देती हैं मां काली को प्रसन्न करना बहुत

आसान है बस वह चाहती हैं कि उनके बच्चे

सदा सच्चाई के रास्ते पर चले और किसी का

बुरा ना

करें और अपने भक्त के जीवन के सभी संकट

हमेशा के लिए दूर कर देती हैं फिर चाहे वह

धन का अभाव हो नौकरी हो या व्यापार में चल

रहा घाटा परिवार में फैली अशांति हो या

फिर ऐसा कोई भी कारण जिस कारण आप दुखी

रहते

हैं मेरे प्यारे बच्चे मैं तुमसे बेहद

प्यार करती हूं क्योंकि तुम मेरे प्यारे

बच्चे हो और मेरे शब्दों को ध्यान से सुनो

और मेरे आशीर्वाद को प्राप्त करो जो मैं

आज तुम्हें देने आई

हूं अगर आप काली मां पर विश्वास करते हैं

तो इस वीडियो को अंत तक अवश्य देखना मा

काल रात्रि इन नवरात्र में अपने बच्चों को

आशीर्वाद देने आई हैं आज आप अपनी आंखों के

सामने वह सब चमत्कार होते हुए देखेंगे और

यह आपके जीवन में खुशहाली

लाएंगे आज आपको भरपूर आशीर्वाद प्राप्त

होगा क्योंकि माता नवरात्र में अपने

बच्चों की सभी मनोकामनाएं पूरी करती हैं

माता की दिव्य शक्तियों पर भरोसा रखो आज

जो वह तुम रे लिए चमत्कार करेंगी ऐसा

चमत्कार तुमने पहले कभी नहीं देखा

होगा माता कहती हैं वह तुम्हारे लिए हर

संभव काम को बना देंगी आज जो वह रास्ता

तुम्हें दिखाएंगी यदि तुम पुरुष पर चलते

हो तो जीवन में ऊंचाइयों को छुओ ग माता पर

विश्वास करें वह तुम्हारे जीवन में आज एक

ऐसे व्यक्ति को भेजें जो तुम्हारे जीवन को

बदलेगा

और वह व्यक्ति आपके और आपके परिवार को

खुशियां प्रदान करेगा माता जानती है तुमने

जीवन में बहुत संघर्ष किया है लोगों ने

तुम्हें बहुत भला बुरा कहा है लेकिन अब यह

व्यक्ति उन लोगों को सजा देगा यह व्यक्ति

माता द्वारा ही भेजा गया है तुम्हारे जीवन

में हुए अन्याय का बदला वह व्यक्ति लेगा

बस तुम्हें उसका साथ नहीं छोड़ना है

क्योंकि वह व्यक्ति सकारात्मक विचारों

वाला व्यक्ति है और सकारात्मक विचार वाले

व्यक्ति को यदि आप अपने साथ रखते हैं तो

आपके मन में भी सकारात्मक विचार उत्पन्न

होते हैं अब तक तुम्हारे आसपास जो व्यक्ति

थे वह सब नकारात्मक विचारों वाले थे इससे

तुम्हें जीवन में बहुत हानि हुई क्योंकि

नकारात्मक विचार हमें कभी भी अच्छा सोचने

नहीं देते ना ही अच्छा कार्य करने देते

हैं यदि तुम जीवन में कुछ अच्छा कार्य

करते भी हो तो पहले ही तुम मन में यह सोच

लेते हो कि यह कार्य तो मुझसे होगा ही

नहीं और यही कारण है कि तुम आज तक आगे

नहीं बढ़ पाए जहां थे वहीं पर ही रह गए

बल्कि तुम्हारे जीवन में धीरे-धीरे और

कमियां आती गई तुम अपने परिवार में साथ

रहकर भी खुश नहीं रहते हो क्योंकि

तुम्हारे मन में नकारात्मक विचार भरे हुए

हैं तुम्हे आगे नहीं बढ़ने

देते मैं काली मां आज अपने बच्चों से

मिलने आई हूं मेरे बच्चों आज बहुत खुश लग

रहे हो मैं चाहती हूं कि तुम जीवन में ऐसे

ही हंसते रहो सदा खुश रहो मैं जानती हूं

कि तुम कभी कभी निराश हो जाते हो लेकिन

तुम्हे छोटी-छोटी परेशानियों को देखकर कर

निराश नहीं होना है ना ही घबराना

है क्योंकि ऐसी परेशानियां तो बिन मौसम

बरसात की तरह होती हैं जो हमारे जीवन में

अचानक से आ जाती हैं और चली जाती हैं

तुम्हें बस छोटी-छोटी परेशानियों में ना

घबराकर अपने लक्ष्य तक पहुंचना है जैसे

अर्जुन ने सिर्फ और सिर्फ मछली की आंख को

देखा था और उसे भेद दिया था ऐसे ही

तुम्हें सिर्फ और सिर्फ अपने जीवन में

लक्ष्य को देखना

है और अपने मन में यह संकल्प लेना है कि

यह कार्य तो मुझे पूरा करना ही है अगर आप

ठान लेंगे तो आप अपने कार्य को जरूर पूरा

करेंगे जो व्यक्ति प्रातः जल्दी उठते हैं

मेरा नमन करते हैं अपना का समय पर करते

हैं उन्हें जीवन में हमेशा सफलता मिलती

है मेरे बच्चों अब जीवन में तुम ऐसी जगह

पर हो जहां सही गलत की पहचान करनी होगी

अन्यथा तुम्हारा जीवन विफल हो जाएगा और

तुम कभी भी अपने जीवन में अपने लक्ष्य पर

नहीं पहुंच

पाओगे प्राणी ऐसे होते हैं जो आपकी सहायता

भी करते हैं और आपको पता भी नहीं लगने

देते हैं वही आपके सच्चे हितेश होते हैं

ऐसे लोगों को आज के इस कलयुग में मिलना

मुश्किल है लेकिन ऐसे प्राणी भगवान द्वारा

ही बनाकर भेजे जाते हैं जो आपकी सहायता

करते

हैं रे बच्चे जिंदगी में दुख हमें बहुत

कुछ सिखाते हैं कौन हमारा अपना है कौन

पराया है यह सब हमारे जीवन में जब दुख आते

हैं तो हमें पता चलता है तुम्हारी जो भी

समस्या तुम्हारी जिंदगी में घट रही है वह

कुछ समय के लिए ही है क्योंकि बच्चों कभी

भी कोई चीज एक जैसी नहीं रहती है जैसे दिन

के बाद रात का आना निश्चित है वैसे ही

समस्याओं का हमारे जीवन में आना जाना

निश्चित है आप हमेशा अच्छा सोचो आपके साथ

अच्छा ही होगा कभी भी किस्मत के भरोसे

बैठकर अपना जीवन खराब नहीं करना चाहिए

भगवान उन्हीं का साथ देते हैं जो मेहनत

करते हैं और यह जीवन अनमोल है इसका कोई

मोल नहीं है यह तुम्हें एक बार ही मिला है

वह भी तुमने कुछ अच्छे कर्म करे होंगे तो

तुम्हें मनुष्य जन्म प्राप्त हुआ है तो

तुम इस मनुष्य जन्म में अच्छे कर्म करके

जाओ ताकि आने वाले जीवन में भी तुम्हारे

अच्छे कर्मों का फल तुम्हें

मिले तुम्हारी मां तुमसे बेहद प्यार करती

हैं और तुम्हें हर बार यही बात समझाने आती

हैं कि जीवन में आगे बढ़ो ऊंचाइयों को

छुओ मेरे बच्चों तुम्हारा जीवन इस धरती पर

एक बड़े उद्देश्य के लिए हुआ है कुछ चीजों

का घटना निश्चित है लेकिन मेरे बच्चे

तुम्हारा खुश रहना बहुत जरूरी है क्योंकि

जब तुम खुश रहते हो तो तुम्हारा शरीर भी

सुचारू रूप से कार्य करता है तुम्हारा मन

भी कार्य करने के लिए उत्सुक होता

है प्यारे भक्तों आज हम आपको जो मंत्र

सुनाने वाले हैं वह काली माता का है काली

माता हमेशा अपने भक्तों की रक्षा करती

हैं यदि आपके जीवन में बहुत सारे दुख और

परेशानियां हैं और आप चाहते हैं कि आपको

इससे जल्दी ही छुटकारा मिले तो आप माता के

इस मंत्र और संदेश को आज अवश्य

सुनिए इसे सुनने के कुछ ही घंटों बाद आपको

महसूस होगा कि आपके अंदर एक सकारात्मक

ऊर्जा बह रही है और आपके मन में अच्छे

विचार आएंगे आप हर काम को करने के लिए

अपने आपको शक्तिशाली और ऊर्जावान महसूस

करेंगे काली मां का यह मंत्र देवी मां से

आशीर्वाद और दिव्य ऊर्जा प्राप्त करने में

मदद करता है देवी की कृपा पाने के लिए

उनके मंत्र और संदेशों का जाप अवश्य करें

और ध्यानपूर्वक उन्हें

सुने काली पूजा को श्यामा पूजा या महानिशा

पूजा के नाम से भी जाना जाता है यह हिंदू

देवी काली के सम्मान में मनाया जाने वाला

त्यौहार है यह

महा कार्तिक की अमावस्या को मनाया जाता

है इसमें मां को पोशाक झांझर पहनाई जाती

है बिंदी इत्र लगाकर फूलों का हार पहनाया

जाता है इसके बाद चने व हलवे का भोग लगाया

जाता है पंचानंद गिरि महाराज ने काली मां

को मदिरा और रक्त की जगह अनार का जूस का

प्रसाद दिया था तां पूजा विधि के तहत

पंचानंद गिरी ने मां काली को अपने रक्त की

बलि भी दी

थी और मेरा आशीर्वाद भी तुम्हें प्राप्त

हो जाए इस बार इस संदेश को दोबारा ध्यान

से सुनना ताकि तुम्हारे जीवन में तुम्हें

तरक्की मिले मेरा आशीर्वाद सदा तुम्हारे

साथ है जीवन में खुश रहो स्वस्थ रहो

तुम्हारा दिन मंगलमय

हो जय माता रानी कमेंट बॉक्स में लिखें और

माता रानी से अपनी मनोवांछित इच्छा मांगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *