अब वो तुम्हारे जीवन में प्रवेश करने वाला है //माता रानी का संदेश - Kabrau Mogal Dham

अब वो तुम्हारे जीवन में प्रवेश करने वाला है //माता रानी का संदेश

तकदीर में जीत का उपहार लिखा गया है मेरे

प्रिय बच्चे अब वह आ रहा है तुम्हारे

तकदीर में जीत की नई कहानी को पूरी तरह से

लिख देने के लिए अब उसका आना कोई भी टाल

नहीं सकता यह बहुत ही मनोहर घटना होने

वाली है बिल्कुल लुभा लेने वाली लेकिन

तुम्हें कुछ विशेष बातों का ख्याल रखना

होगा तुम्हारी मानसिकता पर जो बंधन है

बंधनों का जो पड़ रहा है तुम्हें उनसे

स्वयं को मुक्त करना होगा और ऐसे करना

तुम्हारे लिए कितना आवश्यक है तुम

धीरे-धीरे यह समझ जाओगे क्योंकि जो बाधाएं

तुम्हें तोड़ने के लिए अब तक आई थी अब वह

अपना रूप परिवर्तित करने लगी हैं अब उनका

अस्तित्व समाप्त होगा अब जीत की काठा पूरी

तरह से तुम्हारे लिए होगी अ पल भी आने

वाला है जिसमें तुम जीत के सुन अक्षरों

में लिखे जाओगे मेरे प्रिय बच्चे यही कारण

है कि तुम्हें इस संदेश को हर हाल में

पूरे अंत तक सुनना

चाहिए चाहे परिस्थितियां कोई भी हो इसे

बीच में छोड़कर जाने की भूल नहीं करना

मेरे प्रिय बच्चे क्योंकि अब तुम्हारे

जीवन में जो होगा वह ना केवल तुम्हारी सोच

से अलग होगा बल्कि तुम्हें कुछ ऐसा होगा

तुम्हारे जीवन में जिससे तुम्हारा मन पूरी

तरह से रोमांचिक हो जाएगा अब तुम उस दिव्य

धारा को देख पाओगे जो तुम्हारे लिए

तुम्हारी जीत को सुनिश्चित करने के लिए

तुम्हारे जीवन में प्रकाशित की कोई गई है

चक्रव्यू से आजाद होकर बंधनों को त्याग कर

नई प्रगति पर चलने का समय आ चुका है मेरे

प्रिय बच्चे तुम्हारी माता रानी तुमसे यह

कहने आई है कि तुम्हारी कहानी चौड़े

अक्षरों में लिखी जाने वाली है इसे किसी

भी प्रकार से टाला नहीं जा

सकता कोई कितना भी प्रयास क्यों ना कर ले

लेकिन उसे हारना ही होगा और तुम उसे अवश्य

हराओबा

[संगीत]

[संगीत]

करते हो उसी क्षण एक अलग प्रकार की दिव्य

धारा तुम्हारे भीतर प्रवाहित होती है

दिव्य ऊर्जा तुमसे उत्साहित होने लगती है

और फिर तुम्हारे समस्त काम बनने लगते हैं

इसलिए संख्या लिखकर अपनी जीत की

पुष्टि कर दो मेरे

बच्चे वह तुम्हारे जीवन में प्रवेश करने

वाला है जो तुम्हारी जिंदगी के बहुत बड़े

रहस्य से पर्दा हटाने वाला है तुम्हारे

जीवन के अब तक बहुत सारे उतार चढ़ाव हो

चुके हैं अपनी उम्र से कई ज्यादा बड़े

अनुभव देख चुके हो तुमने तुमने बहुत सी

ऐसे लोगों से मिल मिले हो मिल चुके हो जो

तुम जो तुम्हारे मुंह पर तो कुछ और होते

हैं लेकिन पीठ पीछे कुछ और कहते हैं

तुम्हारे जीवन में इस प्रकार के लोग बहुत

ज्यादा ही रहने लग रहे हैं दुर्भाग्य की

यह रही कि तुमने इस प्रकार के लोगों पर

ज्यादा ही भरोसा कर लिया है और उन लोगों

पर तुमने बहुत धोखे खाए भी हैं तुम स्वयं

भी अंदर से कुछ और हो गए हो मेरे प्रिय

बच्चे लेकिन बाहर से तुम्हें स्वयं को कुछ

और ही दिखाना पड़ता है लेकिन तुम और

तुम्हारे दो दूसरे में एक बहुत बड़ा अंतर

है वह यह है कि तुम यह दूसरा चेहरा समाज

में बन रहने के लिए रखते हो जबकि अन्य लोग

दूसरों से लाभ उठाने के लिए दो चेहरे को

लेकर घूमते हैं एक मुखौटे की तरह मेरे

बच्चे मैं जानती हूं कि तुम कई बार समाज

में अपना चेहरा छुपाते रहते हो कि लोग

तुम्हारा दुख दर्द ना देखें लेकिन मेरे

बच्चे तुम्हें आगे बढ़ना है तुम्हें

ऊंचाइयों को छूना है तुम्हें अपने परिवार

के लिए कुछ ना कुछ अवश्य करते रहना है

मेरे बच्चे तुम अपनी माता रानी पर विश्वास

रखो और चैनल को सब्सक्राइब कर देना

[संगीत]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *